बवासीर के मस्से को जड़ से खत्म करने का उपाय – Bawasir ke Masse ko jad se Khatam karne ka Upay

बवासीर के मस्से को जड़ से खत्म करने का उपाय – बवासीर का नाम सुनते ही लोगो को पता लग जाता है यह जिस भी व्यक्ति को हुआ है, वह काफी दर्द व पीड़ा से गुजर रहा होगा।

बवासीर जिसे हम पाइल्स (Piles) के नाम से भी जानते है, जिन लोगो को शौच करने में काफी परेशानी होती है केवल वही बवासीर रोग की गंभीरता को समझ सकता है।

आमतौर पर बवासीर दो तरह से व्यक्ति को प्रभावित कर सकता है जिसमे पहला अंदरूनी और दूसरा बाहरी तौर पर होता है। बहुत से लोगो में बवासीर से जुडी कई समस्या खड़ी हो जाती है।

जैसे गुदाद्वार के आसपास सूजन आ जाना या बैठने व उठने में परेशानी आना साथ ही मस्से जमना या उनमे से खून आना जो की बहुत पीड़ादायक होता है।

यदि आप अपने जीवनशैली को अच्छा बनाते है, तो आप बवासीर जैसी समस्या से खुद का बचाव कर सकते है।

आजकल की युवा पीढ़ी घर के शुद्ध भोजन को छोड़कर बाहर के पिज्जा, बर्गर व चाइनीस फ़ूड की तरफ आकर्षित अधिक हो रहे है जो की उनके पाचन क्रिया को खराब कर देती है,

इनमे फाइबर की मात्रा नहीं होती है जो कब्ज का कारण बनते है साथ ही मल त्यागने में परेशानी उत्पन्न करते है।

हालांकि, लोग यदि सुबह उठकर व्यायाम और योगा करते है और अपने भोजन में फाइबर की चीजों को अधिक शामिल करते है तो कब्ज से बचाव कर बवासीर को दूर कर सकते है।

बवासीर के मस्से को जड़ से खत्म करने के लिए आपको बहुत से बातों का ध्यान रखना जरुरी होता है। पुराने ज़माने में दादीया कहा करती थी, मस्से को हटाने के लिए उसपर सहजन के पत्ते का मलहम या नीम के रस को लगा सकते है।

यह एक तरीके का घरेलु नुक्सा है जो व्यक्ति को किसी तरह का नुकसान नहीं पहुंचाती है, यदि किसी फायदे नहीं भी हुआ तो किसी तरह की समस्या भी नहीं उत्पन्न करता है।

किसी व्यक्ति को बवासीर बहुत दिनों से है और कई लक्षण का भी अनुभव कर रहा है ऐसे में बिना किसी घरेलु उपचार के आपको चिकिस्तक से जांच करवानी चाहिए।

समस्या यदि छोटी हो तो इलाज करने में आसानी होती है साथ ही कम समय में आप जल्दी ठीक भी हो जाते है,
समस्या को बढ़ाये बिना जागरूक बने और सही समय पर स्वास्थ्य केंद्र जाकर बवासीर का इलाज करवाये।

बवासीर के मस्से की बात करे, तो शुरुवाती होने पर चिकिस्तक दवा या मलम की सहायता से ठीक करने की कोशिश करते है, लेकिन अत्यधिक बढ़ने पर आपको लेजर सर्जरी करवाने का सुझाव दे सकते है।

चलिए आज के लेख के माध्यम से हम आपको बवासीर के मस्से को जड़ से खत्म करने का उपाय के बारे में पूरी जानकारी देने वाले है।

हमारे द्वारा नीचे दिए Bawasir ke Masse ko jad se Khatam karne ka Upay के बारे में आप खासतौर पर ध्यानपूर्वक पढ़े जिससे बवासीर के मस्से की समस्या से छुटकारा पा सकें।

 

Bawasir ke Masse ko jad se Khatam karne ka Upay
Bawasir ke Masse ko Khatam karne ka Upay

 

बवासीर के मस्से को जड़ से खत्म करने का उपाय – Bawashir ke Masse ko jadh se Khatam karne ka Upay

बवासीर के बारे जैसा की हमने आगे बताया यह देखने को आम जैसी लगती है, लेकिन बढ़ने पर गंभीर समस्या खड़ी कर देती है।

बवासीर के मस्से को जड़ से खत्म करने के लिए आपको बवासीर के शुरुवाती दिनों में इलाज करवाना शुरू कर देना चाहिए। इसके अलावा आप घरेलु उपचार का भी उपयोग कर सकते है।

इस बात का ध्यान रखें किसी भी तरह की आयुर्वेदिक या घरेलु उपचार करने से पहले अपने चिकिस्तक की राय जरूर ले।

कई लोग बिना किसी सलाह से उपयोग करते है जो समस्या कम करने की जगह और बढ़ा देती है।

कई लोग बवासीर के मस्से को हटाने के लिए बाजार में मिलने वाली बवासीर क्रीम या दवा का उपयोग करते है , यदि मस्से बहुत सामान्य है तो इन दवा से ठीक भी हो जाते है।

 कुछ शोध के अनुसार बवासीर के मस्से को सूखाकर निकालने के लिए गाय के घी में कम से कम एक चम्मच शहद मिलाकर मस्से पर अच्छी एक हफ्ते तक लगाएं।  

ऐसा करने पर मस्से निकल जाते है और मरीज को बवासीर के मस्से आराम मिलता है।

बवासीर के मस्से की समस्या किसी भी व्यक्ति को हो सकती है वह चाहे बढ़ा या बूढ़ा हो बीमारी उम्र देखकर नहीं होती है। बवासीर के मस्से को जड़ से खत्म करने के लिए मस्से का सुखना जरुरी है।

 

बवासीर (Piles) की समस्या – Bawaseer ki Samasya

बवासीर जिसे चिकिस्तक पाइल्स व हेमोर्रोइड्स Hemorrhoids भी कहते है, बवासीर की समस्या सुनने में तो सामान्य लगती है।
बवासीर बढ़ने पर दर्द व मस्से बाहरी व अंदरूनी होने लगते है।

बवासीर की समस्या फाइबर की कमी से अक्सर लोगो में उत्पन्न होती है, भारत में आज बवासीर से कम से कम 55 % लोग पीड़ित हो रहे है। आमतौर पर कहे तो बवासीर तेजी से लोगो को अपनी चपेट में रहा है।

लोगो के खराब जीवनशैली होने से बवासीर जैसी बीमारी को बढ़ावा मिलता है साथ ही खराब पाचन तंत्र होने व स्वस्थ भोजन न करने से बवासीर की समस्या हो जाती हैं।

बवासीर एक ऐसी बीमारी जिसमे आप ठीक से शौच न कर पाने के कारण चिड़चिड़े हो जाते है और आपका किसी कार्य में कोई ध्यान नहीं रहता है। कोई भी काम समय पर हो नहीं पाता है।

बवासीर के मामूली होने पर सामान्य उपचार से ठीक किया जा सकता है, इसके अलावा कुछ ही ऐसे बवासीर के मामले होते है जिनमे सर्जरी करवाने तक की नौबत पड़ जाती है।

बहुत से लोग बवासीर की समस्या को सामान्य समझ कर नजरअंदाज कर देते है, क्योंकि उन्हें लगता है दो दिन शौच ठीक से नहीं हुआ तो बाद में तो ठीक ही हो जायेगा किंतु यह गलतफैमी होती है।

बवासीर में आमतौर पर मलाशय के पास की रक्त की नलिका फूल जाती है यह आपके गूदे के ठीक निचे होती है, इसमें अधिक सूजन या फूलने पर दर्द और शौच न कर पाने की समस्या आती है।

बवासीर के लक्षण नजर आने पर आपको अपने नजदीकी चिकिस्तक से बात कर उपचार शुरू करना चाहिए।

 

बवासीर के मस्से की समस्या – Bawasir ke masse ki Samasya in Hindi 

बवासीर के मस्से होने से शौच करने का मुंह छोटा हो जाता है जिससे शौच करने में कठिनाई व दर्द का सामना करना पड़ता है।

मास्सा एक तरह घाव है जो फटने पर रक्तस्राव व पीड़ा उत्पन्न करता है साथ ही जलन की समस्या पैदा करता है।

बवासीर के मस्से अंदर और बाहर दोनों तरफ हो सकते है, किसी व्यक्ति को केवल अंदर की तरफ से और किसी व्यक्ति को बाहर की तरफ से हो सकता है।

अधिकतर बवासीर के मस्से बहुत पीड़ादायक और जलन पैदा करते है इसमें अधिक रक्त या पस जमा होता है जो फटने पर दर्दनाक साबित होता है।

बवासीर के मस्से को जड़ से खत्म करने का उपाय केवल एक चिकिस्तक ही दे सकता है। यदि आप बीमारी का सही इलाज करवाते है।

यदि किसी व्यक्ति को पुराने बवासीर है तो उनमे मस्से की समस्या बहुत जटिल और गंभीर बन सकती है। बहुत लोग बवासीर के मस्से को बढ़ने से रोकने के लिए घरेलु प्रयोग करते रहते है।

घरेलु उपयोग से बहुत लोग के बवासीर के मस्से को ठीक करने में आसानी हुई है। लेकिन कोई भी घरेलु उपचार चिकिस्तक को बता कर करे।

यदि बवासीर के मस्से को घरेलू उपाय द्वारा ठीक नहीं किया जा रहा है तो ऐसे चिकिस्तक लेजर व ओपन सर्जरी का चुनाव कर सकते है।

कई ऐसे भी मामले है जिनमे घरेलु उपचार से बवासीर के मस्से को ठीक देखा गया है।

 

बवासीर के मस्से को खत्म करने का उपाय – Bawashir ke Masse ko Khatam karne ka Upay

बवासीर के मस्से को जड़ से खत्म करने के लिए आप कुछ देशी उपचार एव घरेलु उपचार की सहायता ले सकते है जो बिना किसी दुष्परिणाम के मस्से को ठीक कर सकता है।

 

  • नारियल तेल बवासीर के मस्से पर  बहुत ही उपयोगी होता है 

नारियल एक ऐसा फल है जिसके हर भाग में कुछ न कुछ गुण छिपे होते है जो व्यक्ति के स्वास्थ्य के लिए लाभदायक माना जाता है।

बात करे, Bawashir के मस्से को ठीक करने की तो नारियल का तेल बहुत अच्छा देशी उपचार है क्योंकि इसमें एंटी गुण है जो संक्रमण को दूर करने में मदद करते है।

नारियल का तेल मस्से पर लगाने से आपके मस्से से हो रहे जलन, दर्द और सूजन से काफी आराम मिलता है, इसके अलावा मस्से को सुखाने में मदद करता है।

यदि बवासीर के मस्से में खुजली है तो नारियल का तेल लगाने से खुजली धीरे – धीरे समाप्त होने लगती है।

 

  • आइसपैक बवासीर के मस्से से आराम दिलाएं 

आइसपैक बवासीर के सूजन और मस्से के जलन से थोड़ा राहत दिलाता है।

मस्से के दर्द को कम करने के लिए आइसपैक लगाना चाहिए साथ ही सूजन को कम करने में फायदेमंद होता है।

हालांकि आइसपैक को सीधे सीधे घाव पर तुरंत उपयोग नहीं करना चाहिए, बल्कि किसी साफ सुथरे सूती कपडे में लपेटकर प्रयोग करना सही होता है।

 

  • कपडे हमेशा ढीले ढाले पहना जो मस्से के दर्द से बचाए 

यदि किसी तरह का घाव होता है तो उसे बचाने के लिए अक्सर ढीले ढाले कपडे पहना चाहिए।

चिकिस्तक भी बवासीर के मस्से के घाव होने पर और चोट ना बने इसलिए सख्त या चुस्त कपडे की जगह ढीले ढाले कपडे पहनने की सलाह देता है।

बवासीर के मस्से पर दबाव न पड़े इसलिए आपको कपडे हमेशा ढीले ढाले पहना चाहिए ताकि मस्से को घाव बनने से रोका जा सके। इसके अलावा रक्तस्राव की समस्या को रोका जा सकता है।

 

  • एलोवेरा के जेल से बवासीर के मस्से से मिलती है राहत

एलोवेरा में बहुत से औषधीय गुण है जो आपके बीमारियों को दूर करने में मदद करती है। बवासीर के मस्से की समस्या में एलोवेरा किसी दवा से कम नहीं है।

आपको पता होगा एलोवेरा में प्राकृतिक तौर पर सूजनरोधी गुण मौजूद होता है जो किसी तरह के सूजन को कम करने में मदद करता है।

ऐसे में बवासीर के मस्से के सूजन को एलोवेरा कम कर सकता है। बाजार में एलोवेरा के जेल मिलते है आप वहा से ले सकते है, एलोवेरा का उपयोग सीधे तौर पर मस्से पर कर सकते है।

एलोवेरा जेल लगाने से सूजन और दर्द से आपको काफी आराम मिलेगा। आप चाहे तो एलोवेरा को आइसपैक बनाकर सूती कपडे में लपेटकर मस्से या गूदे के सूजन पर लगाकर समस्या को कम कर सकते है।

 

  • फाइबर युक्त चीजे शामिल करना 

फाइबर युक्त खाद्य पदार्थ आपके पाचन क्रिया को मजबूत बनाने में मदद करते है साथ ही कब्ज जैसी समस्या को दूर रखते है।

यदि आप अपने भोजन में फाइबर की चीजे शामिल करते है तो आपको बवासीर जैसी गंभीर न हो न ही आपको बवासीर के मस्से के दर्द और सूजन का सामना करना पड़े।

बहुत से लोग बाहर की चीजे या प्रोस्टेट फ़ूड अधिक लेने से कब्ज का शिकार हो जाते है साथ ही लंबे समय से शौच ठीक से न कर पाने से बवासीर की बीमारी के घेरे में आ जाते है।

बवासीर की समस्या से आप खुद को बचाना चाहते है तो खाने में अच्छी मात्रा में फाइबर युक्त खाद्य पदार्थ शामिल करना शुरू कर दे।

फाइबर युक्त खाद्य पदार्थ का सेवन करने से व्यक्ति को शौच करने में आसानी होती है और किसी तरह के दर्द व मस्से का खतरा नहीं होता है।

 

  • अधिक मात्रा में पानी लेना 

चिकिस्तक के मुताबिक अच्छी मात्रा में पानी पीना आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा होता है। शरीर में पानी की मात्रा होने से शरीर कुछ बदलाव देखे जा सकते है।

यदि आपको कब्ज की समस्या है तो अधिक पानी पीना शुरू कर दे क्योंकि पानी की मात्रा मल को पतला करने में मदद करती है जो मल त्यागने में आसानी होती है साथ ही कब्ज से छुटकारा मिलता है।

कब्ज को ठीक करने से बवासीर की जटिलता को रोका जा सकता है। ऐसा इसलिए कब्ज की बीमारी बढ़ने से बवासीर की समस्या को पैदा करता है।

बवासीर की बीमारी होने से अंदरूनी या बाहरी मस्से आना संभव हो जाता है इसलिए बीमारी को शुरू होने से पहले ही जड़ से खत्म कर देना चाहिए।

आज से आप लोग भी पानी अधिक पीना शुरू कर दे, ताकि आगे आने वाली बवासीर की समस्या से खुद को बचाव किया जा सके।

 

  • विज हेजल उपयोगी मस्से को ठीक करने में

दोस्तों विज हेजल को आप जेल की तरह सीधे तौर पर ,मस्से पर उपयोग कर सकते है।

आपको बता दे, विज हेजल में कई तरह के औषधीय गुण मौजूद है जो आपके मस्से को ठीक करने में मदद करता है।

विज हेजल में अच्छी मात्रा एंटीऑक्सीडेंट व एंटी इंफ्लेमेटरी गुण का समावेश है जो बवासीर की बीमारी से छुटकारा दिलाने में आपकी मदद कर सकता है।

आप चाहे हो विज हेजल को किसी सूती कपडे की मदद से मस्से पर लगा सकते है, इससे जलन और सूजन से आराम मिलता है।

 

बवासीर के कारण – Causes of Piles in Hindi 

बवासीर एक बहुत ही गंभीर व दर्दनाक बीमारी है जो व्यक्ति के खुशहाल जीवन को दर्दनाक बना देती है।

बवासीर की समस्या होने पर व्यक्ति के गूदेद्वार पर मस्से बनने लगते है और इस कारण शौच करते समय उस व्यक्ति को मल के साथ खून व दर्द का अनुभव होता है।

बवासीर अत्यधिक गंभीर होने पर मलद्वार के साथ आस पास की मांसपेशियो और भीतरी नसों पर काफी बुरा प्रभाव डालता है।

बहुत से कई लोगो का मजाक बना देते है की इस व्यक्ति को बवासीर है और यह ठीक से शौच नहीं कर पाता है। दोस्तों यदि आप बवासीर से जूझ रहे तो शर्म ना करे बल्कि अपना उपचार करवाए।

कई ऐसे भी लोग है जो कि बवासीर के बारे में डॉक्टर से बात करने में शर्मिंदगी महसूस करते है ऐसे लोगो को हम बवासीर से होने वाली समस्या को समझाने का प्रयास कर रहे है।


  • मोटापे से ग्रस्त लोगो को बवासीर की समस्या बहुत जल्दी होती है।
  • बहुत अधिक मसाले तेल और मिर्च तीखा खाने वालो को बवासीर का जोखिम अधिक होता है।
  • शौच में बहुत देर तक बैठने के कारण पाइल्स का खतरा हो सकता है।
  • कुछ लोगो बवासीर की बीमारी पारिवारिक यानि अनुवांशिक कारण होने हो सकती है।
  • कई लोगो में बवासीर किसी एक ही जगह पर अधिक समय पर बैठने रहने से हो सकता हैं।
  • महिलाओं को डिलीवरी होने के कारण बवासीर की समस्या हो सकती है।
  • कुछ व्यक्तियों में शौच करते समय अधिक जोर देने पर बवासीर का खतरा बन सकता है।
  • लिवर से जुडी बीमारियों में कुछ लोगो को पाइल्स का जोखिम हो सकता है।
  • शरीर का वजन असामान्य होने के कारण बवासीर हो सकता है।

आपको बता दे, व्यक्ति को बवासीर होने से उनको शुरुवात में इतना पता नहीं चलता है की उनको बवासीर की बीमारी हो चुकी है। इस कारण उपचार की तरफ उनका ध्यान नहीं जाता है।

बवासीर को चार स्तर में बाटा गया है, जिसमे मरीजों को बताया जाता है वह कौन से स्टेज से गुजर रहे है, उसके मुताबिक उनका उपचार किया जा सके।

बवासीर एक जटिल बीमारी का रूप है जो दर्दनाक व पीड़ादायक होता है, बवासीर के मस्से होने पर शौच करने में काफी परेशानी आती है।

गूदेद्वार के आसपास सूजन और लालिमा आ जाती है जो बैठने और उठने पर दर्द का कारण बनती है।

यदि आपको बवासीर जल्दी में हुआ हो, तो चिकिस्तक सामान्य उपाय के माध्यम से ठीक करवाने की कोशिश करते है क्योंकि पहले ही किसी भी मरीज को सर्जरी या किसी तरह की थेरेपी की सलाह नहीं दी जाती है।

 कई मामलो में मस्से अत्यधिक बढ़ने पर एक मात्र सर्जरी विकल्प बचता है, यह कहना सही नहीं हो सकता सभी मरीजों में सर्जरी के बाद दोबारा बवासीर न हुआ हो।  

चिकिस्तक प्रक्रिया के बाद मरीजों को रिकवरी के लिए अपना खास ध्यान रखना पड़ता है, ताकि दोबारा बवासीर के मस्से का सामना न करना पड़े।

अपने इस लेख में हमने आपको बहुत सी जानकारियां एकत्रित की जो कि बवासीर के मस्से को जड़ से खत्म करने के लिए उपाय से जुडी थी,

यदि आपने हमारे इस लेख को अच्छे से शुरुवात से अंत तक पूरा पढ़ा होगा तो आपको लेख में बताई गयी बातें की बवासीर कैसे होता है और क्या कारण होते है आदि के बारे में सटीक जानकारियां मिल गयी होंगी।

 

FAQ, S – बवासीर के मस्से को जड़ से खत्म करने का उपाय।

सवाल : पाइल्स क्या होता है ?

पाइल्स (Piles) एक ऐसी बीमारी है जिसमे व्यक्ति के एनस के भीतर और बाहर भाग में सूजन की समस्या आ जाती है। इस कारण एनस के भीतरी व बाहरी भाग में मस्से जमा होने लगते है।

हालांकि, इसमें कई बार खून निकलने जे साथ दर्द का सामना करना पड़ता है कई बार शौच करने पर अधिक जोर लगाने पर मस्से बाहर भी आ सकते है।

सवाल : बवासीर कैसे होता है ?

आमतौर पर कब्ज की समस्या अधिक होने के वजह से बवासीर की समस्या हो जाती है। कई लोगो में ज्यादा देर तक खड़े होने से बवासीर जैसी बीमारी हो सकती हैं।

सवाल : बवासीर के लक्षण क्या है ?

बवासीर के लक्षण Symptoms सभी पीड़ितों में अलग -अलग नजर आ सकते है।

  • जैसे – एनस के पास खुजली होने लगना।
  • बवासीर के मस्से से रक्त आना।
  • पेट साफ़ नहीं रहना।
  • एनस के पास गांठ बनना।
  • एनस के चारो तरफ सूजन आना।

सवाल : बवासीर किन लोगो को होता है ?

बवासीर उन लोगो में अधिक नजर आता है जो अपने भोजन में फाइबर Fiber की मात्रा बहुत कम लेते है। इसके अलावा अधिक तेल व मिर्च मसाले लेने वालो को बवासीर होता है।

सवाल : बवासीर में क्या खाना चाहिए ?

बवासीर की समस्या होने पर व्यक्ति को अधिक फाइबरयुक्त भोजन, दाल, मक्का, सेब, मटर, बेरी, शकरकंद, ब्रोकली, टमाटर, किवी, बीन्स इत्यादि ले सकते हैं।

सवाल : बवासीर की जटिलताएं ?

बवासीर की जटिलताओं में शामिल है।

  • जैसे – बाहरी बवासीर में रक्त के थक्के जमना।
  • संक्रमण होना।
  • त्वचा टैग लगना।
  • स्ट्रेंज्युलेटेड बवासीर (Strangulated hemorrhoids)

 

Conclusion

आज के हमारे इस लेख में हमने आपको किन चीजों के बारे में विस्तार से जानकारियां दी है जिसे आपने पढ़ा है बवासीर के मस्से को जड़ से खत्म करने का उपाय और बवासीर को ठीक करने के लिए क्या उपाय हो सकते है

साथ ही बवासीर के मस्से की समस्या कैसे होती है इत्यादि के बारे में आपके विस्तारपूर्वक पढ़ा हैं।

इसके अलावा बवासीर के मस्से की समस्या से जुडी अन्य जानकारी के बारे में हमने ऊपर बताया है, हम आशा करते है कि आपको हमारा आज का लेख पसंद आया होगा

यदि हमारे लेख से जुड़े कोई सवाल या कोई सुझाव है या किसी तरह की समस्या है तो हमे comment box में जरूर बताएं, धन्यवाद।

 

error: Content is protected !!