मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा का नाम (Tablet ) Muh ke chale ki Dawa

मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा का नाम : मुह में छाले होना कोई बड़ी समस्या नही है पर यह तकलीफ बहुत देती है, मुह में छाले पेट में गर्मी के कारन मुख्य रूप से होते है

हमारे मुंह के अंदर की त्वचा बहुत नाज़ुक होती है वह ज्यादा गर्मी को बर्दाश नही कर पाती जिस गर्मी को वह छालों के रूप में प्रदर्शित करती है

समय के साथ साथ हमारी जीवन शैली बदल रही है हमारे शरीर को तरह तरह से इस बदलाव का सामना करना पड़ता है, छाले भी पेट में होने वाले बदलाव का परिणाम है, कुछ लोगो का मानना है की किसी का जूठा खाने से भी मुंह में छाले पड़ जाते है आज हम इस बात पर भी चर्चा करेंगे

मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा का नाम आज हम इस आर्टिकल में जानेंगे, जिसके साथ हम अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों पर भी नज़र डालेंगे

मुंह में छाले भी कई प्रकार के होते है, और के लम्बे समय तक यदि आपके छाले नही सही होते है तो यह संगीन बीमारी की तरफ इशारा है, छाले के कारन खाना खाने और बोलने में बहुत ही तकलीफ होती है

हमने मुंह के छाले की कुछ अंग्रेजी दवाइयों के बारे में बताया है और साथ में यह घरलू और आयुर्वेदिक रूप से छाले कैसे सही होंगे  इसके बारे में भी जानकारी देने का प्रयास किया है

 

Muh ke chale ki Dawa
Home remedies for mouth ulcers in Hindi 

 

अनुक्रम

मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा का नाम – Muh ke chale ki Dawa

कुछ टेबलेट और जेल छाले को ठीक करने के लिए बहुत ही असरदार होते है, जिनके नाम हमने नीचे दिया है, आप चाहे तो उसके फायदे और उनके नुकसान देख कर उनको खरीद सकते है

ज़्यादातर डॉक्टर जेल और दवाई दोनों देते है ताकि दवाई पेट के अंदर की गर्मी से जुडी समस्याओं को सही करे और जेल बाहर से छालों को सही करे

आप चाहे तो अपनी इच्छा अनुसार और दवाई के ऊपर एक बार अध्ययन करके उनको खरीद सकते है

 

मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा में टेबलेट  – Muh ke chale ki Angreji Dawa in Hindi

 

1) वैल्सीविर 500 टैबलेट – Valtrex 

 

वैल्सीविर 500 टैबलेट Valtrex 

 

यह एक एंटीवायरल है इसका उपयोग वायरल इन्फेक्शन से बचने के लिए होता है, इसका इस्तेमाल होठों के आस पास छालों के इस्तेमाल के लिए होता है

जेनिटल हर्पीज़ संक्रमण और हर्पीज जोस्टर संक्रमण के कारन ही हमें होठों के आस पास छाले हो जाते है, इस दवाई का काम है की यह इस संक्रमण को बढ़ने से रोके और हामरे शरीर को संक्रमण मुक्त बनाते है

 

कुछ महत्वपूर्ण बातें 

  • इस दवाई को आपको अपने डॉक्टर से पूछ के ही लेना है क्योंकि जितना इसके फायदे है अगर इससे आपको नुक्सान होने लगा तो बहुत सी गंभीर समस्याएँ हो सकती है
  • इस दवा को डॉक्टर जितने खुराक खाने को कह रहे है उतने खुराक सही से खाइए और इस दवा को अपनी मर्ज़ी से बीच में नही छोड़ना है
  • आपको दिन में पर्याप्त मात्रा में पानी पीना है और अपनी किडनी पर इस दवा का बुरा असर होने से बचाना है

 

वैल्सीविर टैबलेट के लाभ

  • इससे आपके छाले ज़ल्दी सही हो जाते है
  • वायरस का संक्रमण रुक जाता है और सही समय पर दवाई लेने से आप इस संक्रमण से पूरी तरह से सुरक्षित हो सकते है
  • इससे आपके पेट को भी आराम मिलता है
  • यह आपके शरीर को संक्रमण मुक्त बनाता है

 

वैल्सीविर टैबलेट के साइड इफेक्ट

इस दवा के ज़्यादातर साइड इफ़ेक्ट के लिए चिंता नही करनी चाहिए क्योंकि वह समय के साथ सही हो जाते है पर यदि कोई भी दिक्कत एक समय तक ठीक नही होती है तो आपको डॉक्टर को दिखाना चाहिए

  • सर दर्द
  • पेट में दर्द
  • उलटी आना
  • मिचली आना

यदि आपको दिए गए साइड इफ़ेक्ट समय के साथ ठीक हो जाए तो ठीक है अगर यह समय के साथ बढ़ रहे है तो आपको डॉक्टर से संपर्क करना चहिये

एक लम्बे समय तक किसी भी प्रकार के साइड इफ़ेक्ट को नज़र अंदाज़ नही करना चाहिए

 

2) एसिक्लोविर टैबलेट – Aciclovir (Zovirax) एसिक्लोविर

 

एसिक्लोविर टैबलेट Aciclovir (Zovirax) एसिक्लोविर

 

इस दवाई के मुंह में छालों के इस्तेमाल के इलावा कुछ और भी मुख्य इस्तेमाल भी है, इस दवाई की कितनी खुराक की आवश्यकता है यह आपके अतीत में हुई बिमारियों पर और अभी की आपकी बीमारी की अवस्था पर निर्भर करती है

लिंग और उम्र भी इस दवाई की खुराक निर्धारित करने के लिए मुख्य माना जाता है यह दवाई गर्भवती महिलाओं के लिए नुक्सान दायक नही है, इससे नशे की लत लगने की भी संभावना है

 

एसिक्लोविर का इस्तेमाल निम्नलिखित समस्याओं के समाधान के लिए होता है 


  • कोल्ड सोर्स
  • हर्पीस
  • जननांग दाद
  • लिंग में सूजन
  • लिंग के रोग
  • चिकन पॉक्स

 

एसिक्लोविर का इस्तेमाल कौन कर सकता है और कौन नही कर सकता है 

  • इसका इस्तेमाल गर्भवती महिलाएं कर सकती है इनसे उनको बिलकुल भी खतरा नही है
  • स्तनपान करने वाली महिलाएं भी इसका इस्तेमाल कर सकती है बस उन्हें इस दवाई की मात्रा बहुत कम रखनी है और अच्छा होगा अगर वह अपने डॉक्टर से सलाह ले लेंगी
  • इसका इस्तेमाल किडनी पर नही होता है
  • इसका दुष्प्रभाव हर तरह के आतंरिक अंग पर बहुत कम पड़ता है

 

Note : जिन लोगों को गुर्दे की या लीवर की बीमारी है वह इस दवाई का सेवन न करे, निर्जलीकरण में भी इसका इस्तेमाल नही किया जाता है

 

एसिक्लोविर के दुष्प्रभाव 

  • सर दर्द
  • दस्त
    चक्कर आना
  • त्वचा का संवेदनशील होना
  • उलटी जैसा लगना
  • बेचैनी होना

यदि आपको यह दुष्प्रभाव कभी कभी देखने को मिलते है तो वह आम बात है पर यदि लगातार देखने को मिल रहे है तो अपने डॉक्टर से संपर्क करे

 

3) फम्विर टैबलेट – 250 FAMVIR

 

famvir tablets 500x500 1 e1669368436340

 

इसका इस्तेमाल कुछ प्रकार के वायरस के संक्रमण से शरीर को बचाने के लिए होता है

यह हर्पीस ज़ोस्टर और सिंप्लेक्स के कारन होने वाली समस्याएं दाद, जननांग दाद और मुह में छालों  और उनसे होने वाले घाव का इलाज करने में सक्षम है 

यह शरीर में एपिसोड की मात्रा को कम करने में मदद करता है, यह एक एंटीवायरल दवा है, यह दवाई घाव को सही से भरने में सहायता करती है और वायरस के इस्तेमाल को कम करती है

 

फम्विर 250 का इस्तेमाल कैसे करे 

इस दवाई को खरीदते ही इसके साथ मिला सूचना पत्र पढ़े दवाइयों के बारे में ज़रूरी जानकारी प्राप्त करना बहुत आवश्यक है

इस दवा को दिन में 2 से 3 बार लिया जाता है और किसी भी आशंका के रहते अपने चितिक्सक से संपर्क करे, यदि आप समय रहते अपनी समस्या के लिए इस दवाई का इस्तेमाल शुरू करते है

तब तो सही है क्योंकि यदि बीमारी के गंभीर होने पर इसका इस्तेमाल किया जाए तो यह दवा उतना असर नही दिखाती जितना समय रहते इस्तेमाल करने पर दिखाती है

इस दवा को सामान मात्रा में सामान अंतराल में लेने से ज्यादा आराम मिलता है, यह दवा ज्यादा मात्रा में सही से काम नही करती है

 

फम्विर 250 के दुष्प्रभाव 

  • सर दर्द
  • मन मचलना
  • दस्त
  • सर चकराना
  • आँखों में पीलापन आ जाना
  • सोचने में कठिनाई होना
  • मानसिक समस्या होना

किसी भी तरह की एलर्जी या दुष्प्रभाव के ज्यादा होने पर डॉक्टर से सलाह ले अचानक से दवाई का इस्तेमाल बंद न करे

यह दवाई दिमाग को भी असर करती है इसलिए इससे छेड़ छाड़ मानसिक समस्या को बुलावा दे सकता है

 

4) ओरासोर टैबलेट – Orasore mouth ulcer tablet 

 

ओरासोर टैबलेट Orasore mouth ulcer tablet 

 

इस दवाई में नीएकिनमाइड 100 मिलीग्राम, लैक्टिक एसिड बेसिलस 60 लाख बीजाणु, राइबोफ्लेविन 10 मिलीग्राम और फोलिक एसिड 1.5 मिलीग्राम मौजूद होती है

यह शरीर में पोषण तत्व प्रदान करता है, और यह मुंह के छालों से भी आराम देता है इसका मुख्य काम छालों से और पेट की गर्मी से होने वाली समस्याओं से मुक्ति दिलाना है

यदि आपके शरीर में पाचन क्रिया सही से नही हो रही तो ज़रूरी ही आपको छालों का सामान करना पड़ेगा, इसलिए पाचन क्रिया का सही से होना बहुत ज़रूरी है

 

ओरासोर टैबलेट के लाभ

  • यह मुंह के छालो का पूरी तरह से इलाज करता है
  • यह छालों की सूजन और उनके द्वारा होने वाले दर्द से मुक्ति दिलाता है
  • यह पाचन क्रिया के लिए ज़रूरी तत्व प्रदान करता है
  • यह बहुत से स्वास्थय एक्सपर्ट द्वारा सुझाया जाता है
  • इससे छालों की वजह से जो हमारे मुंह में सफ़ेद या लाल घाव हो जाते है उनको भी समय के साथ ठीक करता है

 

ओरासोर के दुष्प्रभाव 

  • खून की उलटी आना
  • दस्त
  • अपज
  • सर घूमना

 

5) बीकोजाइम सी फोर्ट टैबलेट – Becozym C Forte 

 

बीकोजाइम सी फोर्ट टैबलेट Becozym C Forte 

 

यह शरीर में ज़रूरी विटामिन की कमी पूरी करता है, इसमें विटामिन सी बहुत अधिक मात्रा में होता है

इस दवाई में विटामिन बी की भी मौजूदगी होती है, यह दवाई आपके पेट की सेहत को सही रखने में मदद करती है यह आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत रखती है

यह त्वचा को स्वस्थ रखने और शरीर को एनर्जी देने का काम करती है

इसका प्रयोग करने से एक साथ कई चीज़ों से आराम मिल जाता है, आपको बता दें की यह आपके पेट को स्वस्थ रखता है जिसके कारन आपके छाले होते है जिसके कारन छाले से राहत  मिलती है

 

बीकोजाइम सी फोर्ट टैबलेट के इस्तेमाल 

  • मानसिक समस्याएं
  • आधासीसी सिरदर्द
  • हृदय की समस्या
  • गंजापन
  • विटामिन बी 12 की कमी
  • घाव भरना
  • सफेद बाल
  • गर्भावस्था जटिलताएँ
  • लाल रक्त कोशिका उत्पादन

 

बीकोजाइम सी फोर्ट टैबलेट के दुष्प्रभाव 

  • मतली या उलटी
  • होठों की सूजन
  • खांसी
  • सांस लेने में कठिनाई
  • त्वचा की खुजली
  • त्वचा का गर्म और लाल होना या त्वचा की लालिमा
  • पीठ की सतह या निचले हिस्से में दर्द
  • पेट में ऐंठन
  • तंद्रा
  • सांस संबंधी समस्याएं
  • प्रत्यूर्जतात्मक प्रति
  • जिगर विषाक्तता
  • सीने का दर्द
  • श्वास कष्ट
  • अधिक प्यास लगना
  • मतली
  • क्रियाएँ
  • चुभन
  • झुनझुनी
  • गंभीर परिधीय तंत्रिकाविकृतियां
  • चेहरे और जीभ की सूजन

 

6) बेकोसुल  टैबलेट – Becosules cap 20’s 

 

बेकोसुल  टैबलेट Becosules cap 20’s 

 

इस दवाई में विटामिन बी 12, विटामिन बी 1 और बिटामिन बी 3 मौजूद है, इसका इस्तेमाल शरीर में बिटामिन की कमी को पूरा करने के लिए होता है और शरीर के स्वस्थ रहने पर छाले नही होते है

 

बेकोसुल के साइड इफ़ेक्ट 

इसके कोई ज्यादा नुक्सान दायक साइड इफ़ेक्ट नही है और इससे होने वाले छोटी मोटी समस्याएँ भी समय के साथ ठीक हो जाती है

यह दवाई गर्भवती महिला, स्तनपान कराने वाली महिला, ह्रदय के रोगियों, लीवर के रोगियों के इस्तेमाल के लिए भी है इससे किसी प्रकार का नुक्सान नही होता है

 

चेतावनी 

इस दवाई के साथ आप कौन सी दवाई ले रहे है इससे बहुत फरक पड़ता है इसलिए यदि आप इसके साथ किसी अन्य दवाई का भी सेवन करते है तो अपने डॉक्टर से सलाह ले ले

क्योंकि यह बहुत सी दवाई के साथ मिलके नकारात्मक प्रभाव दिखाता है

 

7) निनेफोल टैबलेट – Ninefol 1mg tab 

 

निनेफोल टैबलेट Ninefol 1mg tab 

 

यह हमारे शरीर में फोलिक एसिड की मात्रा को बनाए रखने में मदद करता है इसमें विटामिन बी 9 मौजूद है

शरीर के स्वस्थ रहने पर और सभी क्रियाओं के सही रूप से होने पर हमें छालों की समस्यां नही होती है इसलिए बहुत से डॉक्टर छालों की समस्या के लिए पेट से जुडी समस्या और पोषण तत्व की दवाई लिखते है

यह हमारे शरीर में कोशिकाओं के विकास के लिए और खून के बहाव के लिए अति आवश्यक है, यह दिमाग और रीड की हड्डी से जुडी क्रियाओं में भी सहायता करता है, फोलिक एसिड की कमी से बहुत सी समस्याएं हो सकती है इससे शरीर के पूर्ण विकास में भी कमी आ सकती है इसलिए ज़रूरी है की प्रचुर मात्रा में यह आपके शरीर में मौजूद रहे

फोलिक एसिड की कमी को शरीर में पूरा करने के लिए बाहर से हम फोलिक एसिड लेना पड़ता है इस कैप्सूल का इस्तेमाल भी इसीलिए किया जाता है

 

8) ज़िमेक्स एमपीएस टैबलेट – Xymex mps tab 

 

ज़िमेक्स एमपीएस टैबलेट Xymex mps tab 

 

इस दवाई का इस्तेमाल गैस, अपज, गले में खराश, और सुजन के उपचार के लिए इस्तेमाल होती है

इसका इस्तेमाल पेट फूलने की समस्या के उपचार के लिए भी किया जाता है, इस दवा के इस्तेमाल से हमारा पेट सही से कार्य करता है हमको पाचन और गैस से जुडी समस्याएं नही होती है जिसके परिणाम स्वरुप हमारे मुंह में छाले पड़ने के भी आसार कम हो जाते है

इसलिए डॉक्टर इस दवाई को उन लोगों को देते है जिनके पेट से जुडी समस्या होने के कारन उनके मुंह में छाले पड़े हो

 

ज़िमेक्स एमपीएस टैबलेट के दुष्प्रभाव 

  • मूत्र त्याग में कठिनाई
  • त्वचा पर जलन का अनुभव होना
  • दस्त
  • अपज
  • पेट में दर्द
  • मन मचलना

 

9) विजीलैक टैबलेट – Vizylac capsules 

विजीलैक टैबलेट Vizylac capsules 

 

यह पाचन क्रिया और पेट की समस्याओं को सही करने का काम करता है, यह मुख्य रूप से अपज और डायरिया के लिए बनाया गया था

यह लैक्टोबैसिलस  बैक्टीरिया से बना होता है और हमने पढ़ा है की यह बैक्टीरिया हमारे शरीर के लिए लाभकारी होता है, यह बैक्टीरिया पाचन क्रिया में सहायक होता है

 

विजीलैक का उपयोग

  • पेट की समस्या से छुटकारा पाने के लिए
  • एंटीबायोटिक डायरिया के इलाज के लिए
  • वजायना जी बैक्टीरिया मुक्त बनाने के लिए भी इसका इस्तेमाल होता है
  • कैंसर की बीमारी में
  • कब्ज की समस्या में

 

विजीलैक का दुष्प्रभाव

  • त्वचा में जलन का एहसास होना
  • चिडचिडापन महसूस करना
  • सरदर्द की समस्या होना
  • शरीर में सूजन या भूख न लगना

 

10) डाइजीन टैबलेट – Digipin chew tab 

डाइजीन टैबलेट Digipin chew tab 

इस दवाई का इस्तेमाल एसिडिटी और गैस की समस्या से राहत पाने के लिए होता है, यह कब्ज से राहत देता है, गैस्ट्रोसोफेगल रिफ्लक्स डिजीज के इलाज के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है

इस टेबलेट की मात्रा आपकी उम्र के हिसाब से निर्धारित होती है यदि आप डॉक्टर से संपर्क करने को इच्छुक नही है तो किसी मेडिकल स्टोर वाले से ही इसकी मात्रा पूछ लीजिये की आपके लिए कितनी मात्रा पर्याप्त है

 

डाइजीन टैबलेट के दुष्प्रभाव 

  • दस्त
  • गैस की समस्या होना
  • पेट में दर्द
  • सूजन
  • सर दर्द
  • उलटी जैसे लगना
  • मचली

यह सब मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा का नाम है हमने टेबलेट और जेल को अलग अलग बताया है

 

मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा में जेल का इस्तेमाल 

जेल सिर्फ  बाहर छालो के इस्तेमाल के लिए होते है और यदि आपको बहुत  ज्यादा छाले है तो डॉक्टर ज़ल्दी आराम के लिए जेल देते है

जिसको आपको अपने मुंह में छालों पर लगा के छोड़ देना है और थूक को अंदर नही लेना है अपना मुंह खुला रखना है और सारी थूक को बाहर निकाल देना है, ऐसा करने से जेल का असर सिर्फ आपके छालों पर होगा और आपके शरीर को इससे कोई नुक्सान नही होगा

 

कुछ मुख्य मुंह के छाले के लिए जेल – क्रीम, ड्राप 

  1. कैंडिड जेल (Candid Mouth Ulcer Gel) 
  2. हिमालय हिओरा (Himalaya Hiora SG Gel)
  3. इते जेल (ite Gel for Mouth Ulcer) 
  4. मुकोपैन जेल (Mucopain Gel for Mouth Ulcer)
  5. जीती जेल (Zytee Rb Gel)
  6. टेस जेल (Tess Mouth Ulcer Gel)
  7. केनालोग जेल (Kenalog Ulcer Gel) 
  8. ड़ेंतोजेल (Dentogel)
  9. ओरा फ़ास्ट जेल (Ora-Fast Gel) 
  10. समयले जेल (Smyle Mouth Ulcer Gel) 
  11. करसिल जेल (Curasil Gel for Mouth Ulcer) 
  12. फित्जेल (Fitgel)
  13. ओरजेल (Orajel™ 3X)
  14. क्विक कूल जेल (Quick cool mouth ulcer gel)
  15. ओरसोर माउथ जेल  (Orasore mouth ulcer relief gel)
  16. डोलजेल (Dologel Gel)
  17. बोंजेल्ला जेल (bonjella gel) 

यह सब भी मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा का नाम है बस यह सब जेल है और हमने ऊपर सिर्फ टेबलेट का बताया था और यह सब वह जेल है जिससे आपको ज़ल्द से जल्द छालों से राहत मिल सकता है

 

मुंह के छाले में जेल (Drop) का इस्तेमाल

  • आपको अपने हाथों से जेल को अपने मुंह में लगाना है इसलिए अपने हाथों को सही से धुल ले
  • ऊँगली पर जेल को लगाए
  • धीरे धीरे अपने हाथों से अपने छालों पर जेल लगा ले
  • कोशिश करे की जेल की दवाई मुंह के अंदर न जाए, थूक को समय समय पर बाहर निकालते रहे
  • दिन में 2 से 4 बार ऐसा करे, जिससे आपके छाले ज़ल्दी ठीक हो जायेंगे

 

मुंह के छालों के लिए क्रीम के इस्तेमाल से होने वाले दुष्प्रभाव 

  • यदि आपके छाले कम होने की जगह और बढ़ रहे है तो इस्तेमाल रोक दीजिए
  • मुह से जुडी किसी भी अन्य समस्या होने पर दवाई रोक के डॉक्टर से संपर्क करे
  • स्वाद बिगड़ने पर भी क्रीम का इस्तेमाल रोक दीजिए

 

मुंह के छाले होने के कारण – Muh Ke Chale Hone ke karan 

  • बैक्टीरिया के शरीर में संक्रमण के कारन भी मुंह में छाले पड़ जाते है
  • महिलाओं में मासिक धर्म के दौरान शरीर में आए परिवर्तन से भी मुंह में छाले पड़ जाते है
  • नींद की कमी से भी छाले पड़ते है
  • बाहर का खाना ज्यादा खाने से भी यह समस्या हो जाती है
  • अपज भी एक मुख्य कारन है
  • पेट में गैस बनना या पेट में ज्यादा जलन और गर्मी का सीधा असर छालों के रूप में दीखता है
  • ब्रश के ज्यादा रगड़ने से और कभी कभी मंजन के प्रकार से भी मुंह में छाले पड़ जाते है
  • विटामिन बी और सी की कमी से मुंह में छाले पड़ जाते है

 

मुंह के छाले ठीक करने के घरेलु उपाय – Muh ke chale Thik karne ke gharelu upay

 

  • बर्फ 

बर्फ के इस्तेमाल से छालों को बहुत आराम मिलता है, हर ठंठी चीज़ छालों को आराम देती है इसलिए जितना हो सके ठंडी चीज़ों का इस्तेमाल करे

  •  दूध 

दूध हमारे शरीर में कैल्शियम की कमी को पूरा करता है, जिससे भी हमारे छाले ठीक होने लगते है

  • लहसुन

लहसुन के इस्तेमाल से छाले कुछ ही दिन में पूरी तरह से ठीक हो जाते है, लहसुन का पेस्ट बना कर अपने छालों पर रखिये आपको कुछ दिन सुबह शाम ऐसा करने पर फरक ज़रूरी दिखेगा

  • एलोवेरा 

अलोवेरा को काट कर अपने छालों पर लगाइए आपको बहुत ज़ल्द ही आराम मिलेगा इसमें बहुत से रासायनिक तत्व होते है जिसके कारन यह और भी राहत प्रदान करता है

मुंह में छाले होने पर आपको ज्यादा से ज्यादा पानी पीना चाहिए पानी पीने से आपका पेट सही रहेगा


FAQs : मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा का नाम

सवाल : छाले की सबसे अच्छी दवा कौन सी है?

बिकासुल अभी तक की छाले की सबसे अच्छी दवा है इसका इस्तेमाल अधिकतर लोग छालों में करते है

दिन में बस दो बार इसे खाना होता है और कुछ दिनों में आपके छाले एकदम सही हो जायेंगे अगर ऐसा नही हुआ तो आपको अपने डॉक्टर से संपर्क करने की ज़रुरत है

ओरासोर की गोली से भी ज़ल्द आराम मिलता है

सवाल : मुंह के छालों को तुरंत कैसे ठीक करें?

पानी में हल्दी डाल कर गरम करकर कुल्ला करे, आप नमक के पानी से भी कुल्ला कर सकते है, लहसुन, लौंग के इस्तेमाल से भी छाले ज़ल्दी सही होते है

सवाल : कैंसर के छाले कैसे होते हैं?

यह आम छालों के जैसे ही होते है बस यह आम छालों से ज्यादा दर्दनाक होते है, यदि आपके मुंह में छाले है और वह एक लम्बे समय से घरेलु उपाय या दवाइयों से ठीक नही हो रहे है तो आसार है की यह कैंसर के छाले है

इसलिए यदि आपके छाले प्रयास करने के बाद भी समय के साथ और भी गंभीर रूप ले रहे है तो आपको अपने डॉक्टर को दिखाना चाहिए

सवाल : छाले किसकी कमी से होते हैं?

यह विटामिन और कुछ मुख्य पोषण तत्वों की कमी से हो सकते है वैसे तो विटामिन सी की कामी छाले होने का मुख्य कारन है

फोलिक एसिड और विटामिन बी का भी शरीर में प्रचुर मात्रा में रहना अनिवार्य है यदि इनकी कमी हो जाती है तो भी छाले हो सकते है

सवाल : क्या खाने से छाले ठीक होते हैं?

ठंडी चीज़ों का सेवन करने से छाले ज़ल्दी ठीक होते है, ज्यादा से ज्यादा पानी पीजिये, और ऐसे तत्वों का सेवन करे जिनका स्वभाव ठंडा हो क्योंकि यह आपके छालों और पेट दोनों को आराम देंगे

सुबह शाम अपने छालों पर बरफ लगाइए


Conclusion 

हमे आशा है की आपको मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा का नाम के नाम मिल चुके होंगे और उनसे जुडी ज़रूरी जानकारी भी मिल गई होगी

यदि आप किसी जेल का इस्तेमाल कर रहे है तो अपनी तरफ से एक हफ्ते से ज्यादा जेल का इस्तेमाल न करे यदि डॉक्टर कह रहा है तो कर सकते है पर खुदकी तरफ से न करे

ऐसा ही दवाइयों के लिए भी है जो भी दवाई आपको फायदा करने की जगह किसी भी तरह से नुक्सान पहुंचाती है उस दवाई का सेवन करना रोक के डॉक्टर से मिले

आपको हमारा यह आर्टिकल कैसा लगा हमें कमेंट करके बताइए, हमारे आर्टिकल को पूरा पढने के लिए धन्यवाद

error: Content is protected !!