दुनिया का सबसे गरीब आदमी कौन है | Duniya ka Sabse Garib Aadmi Kaun hai

दुनिया का सबसे अमीर आदमी कौन है, ये तो सब ही जानते होंगे। पर क्या आप ये जानते हो कि दुनिया का सबसे गरीब आदमी कौन है

ये कोई नही जानता कि Duniya ka Sabse Garib Aadmi Kaun hai। और आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से आपको दुनिया के सबसे गरीब आदमी के बारे में बताएंगे।

पूर्व से लेकर वर्तमान तक दुनिया के सबसे अमीर आदमी को तो हर कोई जानता ही होगा। और उसके जैसा बनने के सपने भी देख रहा होगा। पर कभी आपने इस बारे में सोचा है कि दुनिया का सबसे गरीब इंसान कौन है। शायद ही हम में से किसी के मन में ये ख्याल आया हो।

लेकिन इसका जवाब वह नही जान सका हो। तो अगर आप भी जानना चाहते है कि दुनिया का सबसे गरीब आदमी कौन है तो हमारे इस आर्टिकल शुरु से आखिर तक जरुर पढे।

 

दुनिया का सबसे गरीब आदमी कौन है
दुनिया का सबसे गरीब आदमी कौन है

 

दुनिया का सबसे गरीब आदमी कौन है

दुनिया के सबसे अमीर आदमी का नाम तो सभी जानते है। और जाने भी क्यो ना, प्रत्येक वर्ष दुनिया के अमीर आदमी की सूची जारी की जाती है।

जिससें हमें पता चल जाता है कि दुनिया का सबसे अमीर आदमी कौन है। आज कल गूगल की हेल्प से हम हर सवाल का जवाब ठूंठ लेते है।

गूगल से हम 5 मिनट में घर बैठे किसी की भी जानकारी प्राप्त कर सकते है। लेकिन गूगल पर इस बात की जानकारी नही की कि दुनिया का सबसे गरीब इंसान कौन है

 

दुनिया का सबसे गरीब इंसान कौन है

हम इस जानकारी को आज आप के साथ सांझा करेंगे कि Duniya ka Sabse Garib Aadmi Kaun hai। वैसे तो आज तक अधिकारिक रुप से दुनिया के सबसे गरीब आदमी का नाम सामने नही आया है। पर हमारी इस पोस्ट में हम आपको दुनिया के सबसे गरीब आदमी के बारे में बताएंगे।

जिस प्रकार विश्व में अमीरों के नाम की लिस्ट प्रति वर्ष जारी की जाती है। वैसे गरीबों के नाम की लिस्ट जारी नही की जाती। बल्कि ये माना जाता है जो देश सबसे गरीब होता है वहां के लोग गरीब होते है।

और प्रति सबसे गरीब लोगो के बजाय सबसे गरीब देश की  लिस्ट प्रति वर्ष जारी की जाती है। जो देश लिस्ट में सबसे गरीब होता है। वही के नागरिको को सबसे गरीब माना जाता है।

साथ ही देश की अर्थ व्यस्था और प्रशासनिक व्यस्था के स्तर को आधार बनाकर भी सबसे गरीब देश घोषित किया जा सकता है।

वर्तमान समय में कई ऐसे देश है, जहां महंगाई आसमान छू रही है। और गरीबी भी बहुत बढ गई है। ऐसे में वहा के लोग देश छोड़ कर जा रहे है। ऐसी स्थिती में उन्हे गरीब कहा जा सकता है।

 

गरीबी का मुख्य कारण –

भोजन, आश्रय, कपड़ों, दवाओं, शिक्षा और समान मानवाधिकारों की कमी के रूप में गरीबी को परिभाषित किया जाता हैं। गरीबी किसी व्यक्ति को भूखे रहने के लिए, बिना आश्रय के, बिना कपड़ों, शिक्षा और उचित अधिकारों के लिए मजबूर करती है।

देश में गरीबी के कई कारण हैं, और साथ ही इसके समाधान भी हैं, लेकिन समाधानों का पालन करने के लिए नागरिकों में उचित एकता की कमी है।

जिसके कारण, गरीबी दिन प्रतिदिन बढती जा रही है। किसी भी देश में महामारी रोगों का प्रसार गरीबी का कारण है। क्योंकि गरीब लोग अपने स्वास्थ्य और स्वास्थ्य की स्थिति का ध्यान नहीं रख सकते हैं।

 

कारण –

जनसंख्या की समस्या मुख्य कारण है। वह जो देश को गरीबी से ग्रस्त करने में योगदान देती है। जनसंख्या वृद्धि के कारण भी बेरोजगारी पैदा होती है और इसका मतलब है कि रोजगार के लिए मजदूरी से बाहर निकलना आय को कम करता है।

गरीबी में सबसे बड़ा हाथ भ्रष्टाचार का है। अमीर लोग और अमीर होते जाते है। और गरीब लोग और गरीब होते जा रहे है।

राजनीतिक अस्थिरता, बुनियादी ढांचे की कमी, भ्रष्टाचार, देश में काफी हद तक होने की वजह से भी देश गरीब हो जाता है।

कई देश पहले गुलामी की जंजीरों में जकड़े थे। और आजादी के बाद उनकी अर्थव्यवस्था खस्ता हो गई। बर्बाद अर्थव्यवस्था के कारण ज्यादा आबादी को ग्रामीण इलाकों में रहना पडता है। वहां ना तो बिजली होती है और ना ही अस्पताल जैसी कोई सुविधा है। जो को गरीबी का मुख्य कारण है।

व्यक्तियो में प्रयासों की कमी भी गरीबी पैदा करने में अहम भूमिका निभाती है। कुछ लोग कड़ी मेहनत करने के लिए तैयार नहीं हैं। या यू कहे कि पूरी तरह से काम करने के लिए तैयार नहीं हैं।

और अपने परिवारों को गरीबी के अंधेरे से निकालने के लिए तैयार है। लेकिन पीने और जुए के आदि लोग भोले भाले लोगो को उकसाते है। और उन्हे उकसाने का काम करते है। जिससे लोग गलत संगत में पड जाते है। यह भी गरीबी का एक कारण है।

अशिक्षा भी गरीबी का एक मुख्य कारण है। जो देश को त्रस्त करती है। गरीब बच्चों को पालने के लिए उन्हे शिक्षा से वंछित रखते है। शिक्षा की कमी और अशिक्षा व्यक्तियों को बेहतर भुगतान वाली नौकरियों को प्राप्त करने से रोकती है और वे न्यूनतम मजदूरी की पेशकश करने वाले नौकरियों में फंस जाते हैं।

 

दुनिया का सबसे गरीब देश कौन सा है –

हम बात कर रहे थे कि दुनिया का सबसे गरीब आदमी कौन है। और उपर पढने के बाद आप ये तो जान चुके होंगे कि दुनिया का सबसे गरीब आदमी को जानने के लिए हमें ये जानना होगा कि सबसे गरीब देश कौन सा है। तभी हम वहां के नागरिकों को दुनिया का सबसे आदमी कहेंगे।

तो हम आपको बतातें है दुनिया के सबसे गरीब देशों के नाम-

  1. हैती (Haiti)
  2. जिंबाब्वे (Zimbabwe)
  3. डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ कांगो (Democratic Republic Congo)
  4. बुरुंडी (Burudi)
  5. नाइजर (Niger)

 

ये है विश्व के पांच ऐसे देश जो सबसे गरीब है। जिसमें हैती (Haiti)  दुनिया का सबसे ज्यादा गरीब देश है। इसी आधार पर यहां के नागरिको को दुनिया के सबसे गरीब नागरिक कहा जाता है।

 

हैती (Haiti) –

हैती (Haiti) आधिकारिक तौर पर ‘हाइती गणराज्य’ केरिबियन देश है। जो दुनिया के सबसे गरीब देशों की लिस्ट में पहले स्थान पर है। हैती की 77% आबादी गरीबी रेखा से नीचे है। और हैती कुल जनसंख्या की बात करे तो इसकी कुल जनसंख्या 1.06 करोड़ है। इस देश में 24% जनसंख्या गरीब है। और 1.23 डॉलर प्रतिदिन अपने जीवन यापन करने के लिए उपयोग कर ते है। जिस कारण इसे दुनिया का सबसे गरीब देश कहा जाता है।

 

2. जिंबाब्वे (Zimbabwe) –

जिम्बाब्वे (Zimbabwe) भी विश्व के सबसे गरीब देश में से एक है। जिम्बाब्वे की कुल जनसंख्या में से 72% आबादी गरीबी रेखा से नीचे हैं। साल 2008 से जिम्बाब्वे में गरीबी की शुरुआत हुई। जब जिंबाब्वे के चार लाख डॉलर का मूल्य एक अमेरिकी डॉलर तक पहुंच गया था। उसके बाद से जिम्बाब्वे में देश कि सरकार ने सभी देशों कि मुद्राओं को अपने देश में चलाने कि अनुमति दे दी।

 

डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ कांगो (Democratic Republic Congo) –

दुनिया के गरीब देश की लिस्ट में कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य (Democratic Republic of Congo) तीसरे स्थान पर है। इस देश के नागरिकों की सालाना आय करीब 753 डॉलर होती है, भारत में ये 50 हजार रूपये सालाना के आसपास है। कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य अफ्रीका में स्थित है।

जिसका कुछ हिस्सा हिन्द महासागर में मिलता है। क्षेत्रफल की दृष्टि से डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ कांगो अफ्रीका का तीसरा सबसे बड़ा देश है। प्राकृतिक संसाधनों की बात करे तो प्राकृतिक संसाधनों से ये परिपूर्ण है, लेकिन राजनीतिक अस्थिरता, बुनियादी ढांचे की कमी, भ्रष्टाचार, देश में काफी हद तक होने की वजह से इस देश को सबसे गरीब देशों की लिस्ट में तीसरे स्थान पर रखा गया है।

 

बुरुंडी (Burundi) –

बुरुंडी देश की बात करे तो ये पूर्वी अफ्रीका में स्थित एक छोटा सा देश है। जो कि देश गृह युद्ध से जूझ चुका है। और दुनिया के सबसे गरीब देशों में इसका नाम चौथे स्थान पर आता है।

और इसके 90 फीसदी नागरिक जीवनयापन के लिए कृषि पर निर्भर हैं। आपको बता दे कि, यहां के लोगों को पानी और गंदगी के बीच रहना पड़ता है. साथ ही यहा कि 64% आबादी प्रतिदिन एक डॉलर से कम में भी अपना जीवन व्यक्त करती है।

इस देश में भ्रष्टाचार कही ज्यादा है। भ्रष्टाचार गरीबी का मुख्य कारण है। यहां शिशु मृत्यु दर भी दुनिया की औसत शिशु मृत्यु दर से दो गुनी है।

 

नाइजर (Niger) –

नाइजर  फ्रांस का गुलाम था। जिसकों 1960 में फ्रांस से आजादी मिली थी। वही इसकी अर्थव्यवस्था बहुत खराब थी। बर्बाद अर्थव्यवस्था के कारण उस देश की 80 फीसदी से ज्यादा आबादी ग्रामीण इलाकों में रहती है।

और वही ना तो बिजली है और ना ही अस्पताल जैसी कोई सुविधा है। राजनीतिक अस्थिरता के चलते यहां के शहरी क्षेत्रों में रहने वाले ज्यादातर लोग झोपड़ियों में रहते हैं।

 

conclusion

ये विश्व के 5 ऐसे देश है जो कि सबसे गरीब देश की लिस्ट में आते है। इससे हम पता लगा सकते है कि दुनिया का सबसे गरीब आदमी वही होता हो जिसका देश बहुत गरीब होता है।

गरीबी की शुरुआत भ्रष्टाचार से होती है। भ्रष्टाचार धीरे धीरे देश को खोखला कर देता है। और वही राजनीति और अर्थव्यवस्था भी इसका एक कारण है।

Leave a Comment