Vishva ka sabse purana khel kaun sa hai

vishva ka sabse purana khel kaun sa hai : क्या आप जानते है, दुनिया का सबसे पुराना खेल कौन सा है। क्या आपने कभी सोचा है इस बारे में कि, दुनिया का सबसे पुराना खेल कौन सा है।

इस पोस्ट में हम बात करेगें, विश्व के सबसे पुराने खेल के बारे में। और दुनिया का सबसे पुराना खेल के साथ और भी खेलों की जानकारी देंगे। जो शायद ही आपको पता हो। पर उसके लिए आपके ये पोस्ट पूरा पढ़ना होगा।

खेल मनोरंजन का साधन है। हम सभी को खेल खेलना अच्छा लगता है। हर खेल का अपना एक नाम होता है। खेल को खेलने के तरीके के अनुसार उसे एक नाम दिया जाता है। लड़की हो या लड़का खेल दोनों को पसंद होते है।

खेल खेलने से व्यक्ति शारीरिक और मानसिक रुप से स्वस्थ रहता है। तथा शरीर में ताकत भी आती है। खेल खेलने से व्यक्ति तंदरुस्त रहता है। खेल खेलने के बहुत फायदें है।

दुनिया में बरसों से लोग खेल खेलते आए है। और आज हम यहां बात कर रहे है कि विश्व का सबसे पुराना खेल कौन सा है।

 

 

Vishva ka sabse purana khel kaun sa hai
Vishva ka sabse purana khel kaun sa hai

 

विश्व का सबसे पुराना खेल कौन सा है | Vishva ka sabse purana khel kaun sa hai

महाभारत काल से ही खेल का शुभारंभ हुआ है। कहां जाता है चौरस महाभारत काल में खेला जाने वाला खेल था। चौरस खेल को खेलने के बाद जब कौरव अपना सब कुछ जुए में हार गए उसके बाद कौरवों और पाण्डवों में महाभारत का युद्ध हुआ। तो क्या चौरस ही विश्व का पहला खेल है? नही बिलकुल नही।

दरअसल भगवान श्री के काल में चौरस से पहले कुश्ती होती थी। इसलिए कुश्ती के ही विश्व का सबसे पुराना खेल कहां जाता है

vishva ka sabse purana khel kaun sa hai = kusti hai

हालांकि अभी तक लोग भ्रमित है इस बारे में कि विश्व का सबसे पुराना खेल कौन सा है। लेकिन सही मायनों में देखा जाए तो कुश्ती ही विश्व का सबसे पहला खेल है। जिसे आज तक विश्व के बड़े स्तरो पर भी खेला जाता है।

खेल खेलने से व्यायाम तो होता ही है साथ ही स्मरण शक्ति भी बढ़ती है।

 

विश्व का सबसे पुराना खेल | Vishva k sabse purana khel

जैसे की अब आप को पता चल गया होगा कि कुश्ती ही विश्व का सबसे पुराना खेल है। और इस खेल को बरसों से खेला जा रहा है। इस लिए vishva ka sabse purana khel kaun sa hai कहां जाता है।

हम आपको और भी खेलों की जानकारी देंगे जो कि दुनिया में सबसे पुराने है। जिनमें पहले स्थान पर कुश्ती खेल शामिल है। इसलिए हम शुरुआत कुश्ती खेल से करेंगे।

 

कुश्ती (Wrestling)

कुश्ती खेल के सबसे पुराने रूपों में से एक है। भारतीय प्राचीन इतिहास में जहां रामायण काल में इसका वर्णन है, तो वही महाभारत काल में भी इसका उल्लेख मिलता है।

कुस्ती खेल दो लोगों के बीच खेला जाता है। पहले के समय में लोग कुस्ती खेलने के लिए अखाड़े में जाया करते थे। अखाड़े पहले के समय में उस जगह को कहते थे जहां कुस्ती खेली जाती थी।

अखाड़े एक खाली मैदान ही होता था। जहां मिट्टी होती थी। पहले और आज के जमाने में कुस्ती के नियमों में काफी बदलाव आया है। आज कुस्ती को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी खेला जाता है।

कुस्ती का नाम आए और सुशील कुमार का नाम ना आए ऐसा तो हो ही नही सकता है। आपको बता दे कि, सुशील कुमार पहले भारतीय खिलाड़ी थे। जिन्होनें कुस्ती में 2012 के लंदन ओलंपिक में लगातार दो ओलम्पिक मुकाबलों में पदक जीता।

 

हॉकी (Hockey)

हॉकी भी विश्व के सबसे पुराने खेलों में से एक है। इसका प्रारंभ वर्षो पहले मिस्र में हुआ था। और भारत में इसकी शुरुआत 150 वर्ष से पहली हुई थी। हॉकी मे 11 खिलाडी होते है। और दो दलों के बीच ये खेल खेला जाता है। प्रत्येक दल या टीम में 6 – 6 खिलाडी होते है।

इसमें एक हॉकी स्टिक और एक कठोर गैंद का इस्तेमाल किया जाता है।

हॉकी विश्व का सबसे पुराना खेल होने के साथ ही यह भारत का राष्ट्रीय खेल भी है।

 

बेसबॉल (Baseball)

बेसबॉल के बारे में कुछ लोगो का कहना है कि, ये खेल विश्व का सबसे पुराना खेल है। लेकिन हम आपकों बता चुके है कि कुश्ती विश्व का सबसे पहला खेल है।

औऱ बेसबॉल कुश्ती के बाद आया था। और बेसबॉल को भी हम इस सूची में शामिल कर सकते है। क्योकि बेसबॉल भी विश्व का सबसे पुराना खेल है।

बेसबॉल की बात करे की शुरुवात सन् 1846 से हुई। सन् 1846 में इसे पहली बार इंग्लैण्ड  में खेला गया था। और 19वीं शताब्दी के अंत में यह अमेरीका का राष्ट्रीय खेल बन गया था। जिसके बाद इस खेल को भी ओलम्पिक में स्थान मिल गया था।

बेसबॉल खेल में दो टीमें होती है। इस खेल को बैट और बॉल से खेला जाता है। बैट रॉड के जैसा होता है। बेसबॉल की दोनों टीमों में 9 – 9 खिलाड़ी होते है। इसमें एक टीम बैटिंग करती है, और दूसरी टीम फील्डिंग करती है।

इसमें बॉल को हिट कर के भागना होता है। और बेस कवर करने होते है। बेसबॉल खेल में जितने बेस कवर होते है उतने ही रन माने जाते है।

 

दौड़ (Running)

दौड़ को भी इतिहास का सबसे पुराना खेल कहा जाता है। दौड़ के बारे में कहा जाता है कि दौड़ की शुरुआत लगभग 4 मिलियन साल हुई थी। कहा ये भी जाता है कि, सबसे पहले दौड़ की शुरुआत फ़्रांस से हुई थी।  दौड़ को सबसे पहले Olympics में भी शामिल किया गया था।

समय के साथ साथ दौड़ सभी तरह के खेल आयोजनों का महत्वपूर्ण हिस्सा बनती चली गई। अब तो दौड़ Olympics  के साथ साथ छोटे स्कूलो में भी अपनी जगह बना चुकी है।

 

क्रिकेट (Cricket)

क्रिकेट की शुरुआत इंग्लैण्ड से हुई है। यह भी विश्व का सबसे पुराना खेल माना जाता है। यह भारत में सबसे ज्यादा पसंद किया जाने वाला खेल है। लड़के क्रिकेट के पीछे दिवाने होते है।

वही लड़कियां भी क्रिकेट की सबसे बड़ी फैन होती है। हॉकी भारत का राष्ट्रीय खेल होने के बावजूद भारत के लोगों में क्रिकेट का क्रेज ज्यादा है।

इसमें भी दो टीमें होती है। और दोनों टीमों में 11 – 11 खिलाड़ी होते है। इस खेल में एक एम्पायर भी होता है। यह खेल बैट बॉल से खेला जाता है। इसमें पहले एक टीम खेलती है। और दूसरी टीम फिल्ड़िंग करती है।

फिर दूसरी टीम खेलती है। और पहली टीम फिल्ड़िंग करती है। और इस खेल में एम्पायर का काम बेइमानी होने से रोकना होता है।

अगर हम भारत में क्रिकेट की बात करे, तो क्रिकेट जगत में ऐसे कई हिरो है जिन्होने क्रिकेट जगत में अपना इतिहास बनाया है। जिनके नाम आप सब भी जानते होंगे। अगर आप नही भी जानते है, तो कोई बात नही हम आप को बता देते है।

  • कपिलदेव
  • युवराज सिह
  • सचिन तेंदुलकर
  • महेंद्र सिंह धोनी
  • विराट कोहली

और भी ऐसे हिरों है जिन्होने क्रिकेट जगत में अपनी शानदार पारी से सब के मन को जीत लिया है। और इतिहास के पन्नों में अपना नाम छपवा लिया है।

 

खेल खेलने के फायदे | Khel Khelne K Faiday

बच्चे के शरीर और दिमाग के विकास के लिए खेल खेलना अत्यंत महत्वपूर्ण होता है। पहले के समय की बात करे तो बच्चे अक्सर बाहर ही खेल खेलते थे। पर जब से डिजिटल युग आ गया है। हर कोई बस मोबाइल को ही अपनी जरुरत बना कर बैठा है।

आज हर कोई मोबाइल पर गेम खेलना पसंद करते है। पहले के समय में हमारे भारत ने क्रिकेट जगत को कई हिरों दिए है। पर अब मैदान में खेल खेलना हर किसी को नही पसंद काफी कम ही ऐसे लोग है जो बाहर निकलकर कर खेल खेलनी चाहते है।

ऐसे ही कुछ लोग आगे चलकर इतिहास में अपना नाम उजागर करते है। और ऐसे लोग हमेशा लोगो के दिलो में राज करते है।

मोबाइल से हटकर भी एक दुनिया होती है। और हमें अपने आप को फिट रखने के लिए मोबाइल में नही बल्कि बाहर निकल कर खेल खेलने चाहिए। खेल खेलने से हमारा शरीर स्वस्थ रहता है। और भी कई फायदे है खेल खेलने के।

 

खेल खेलने के निम्नलिखित फायदे

  • खेल खेलने से शारीरिक के साथ साथ दिमागी कसरत भी होती है। इसलिए खुले मैदान में खेल खेलना चाहिए। ताकि ताजी हवा आप के अंदर प्रवेश करे।
  • खुले मैदान में खेलने से भूख लगती है और शरीर का विकास भी अच्छा होता है। जिससें व्यक्ति फिट रहता है।
  • खुले मैदान में आप क्रिकेट, फुटबॉल या फिर हॉकी जैसे से खेल खेल सकते हैं । और अगर आप लड़की है तो आप कबड्डी, खो-खो, बॉस्केटबॉल जैसे खेल खेल सकती हैं। क्योकि कुछ लड़कियो को क्रिकेट, फुटबॉल या हॉकी पसंद नही आता है।
  • हम मिट्टी, पानी और ताजी हवा में खेलने से बच्चे प्रकृति के और नज़दीक पहुंच पाते हैं। और यह हमारे शरीर को हेल्दी रखने के लिए एक अच्छा विकल्प है।
  • आपको बता दे कि इस प्रदूषण के काम में हम सभी के लिए खुली हवा बहुत जरुरी है। और हम सभी खुले आसमान के नीचे ताजगी का अनुभव करते हैं।
  • मैदान में खेल खेलना आज के समय में सभी के लिए बेहद जरूरी है। शहर में बढ़ते प्रदूषण से कई बीमारियां पैदा होती है।

 

क्या आप जानते हो आज के समय के मुकाबले पहले के समय में लोग कम बीमार रहते थे। क्योकि पहले के लोग खेलों में ज्यादा रुचि रखते थे।

 

खेल कितने प्रकार के होते है | khel Kitne Parkar K Hote Hai

क्या आप जानतो है खेल कितने प्रकार के होते है। या खल के कितने प्रकार होते है। हम आपको बता देते है कि खेल के मुख्य रुप से दो प्रकार होते है।

इनडोर गेम और आउटडोर गेम। इनडोर गेम वे खेल होते है। जो चार दीवारी के अंदर खेले जाते है। और आउटडोर गेम वे खेल होते है जो मैदानों में खेले जाते है।

इनडोर खेल खेलने से केवल दिमाग का विकास होता हैं जबकि आउटडोर खेल खेलने से दिमाग और शरीर दोनों का विकास होता है। और हर खेल के अपने फायदे होते है।

आज के समय में हम इनडोर खेल पे ज्यादा जोर देते है। बात करे क्रिकेट और फुटबॉल जैसे गेम की तो वो भी मैदान में जाकर खेलने की वजह कंप्यूटर पे खेलना ज्यादा पसंद करते है|

 

अगर आप इतिहास के पन्नों को उठाकर देखेंगे तो आप को और भी विश्व के सबसे पुराने  खेलों की सूची नजर आएगी। जिसमें कुश्ती Wrestling का नाम आपको सबसे उपर दिखाई  देगा। इसमें और खेल शामिल है। जिनके बारे में हम आपको पहले ही बता चुके है।

  • कुश्ती Wrestling
  • हॉकी Hockey
  • बेसबॉल Baseball
  • दौड़ Running
  • क्रिकेट Cricket

 

खेल खेलने के क्या परिणाम होते है

खेल खेलने से दिमाग को तो विकास होता है। साथ ही खेल खेलने से शरीर भी स्वस्थ बना रहता है। पहले लोग कहां करते थे जान है तो जहान है। और वो इस बात को मानते भी थे। लेकिन आज कल के लोग बस कहते है कि जान है तो जहान है। पर इसे कोई मानने को तैयार ही नही है।

मोबाइल फ़ोन हमारी जान के लिए सबसे बड़ा खतरा है। क्योकि इससे हानिकारक तरंगे निकलती है जो कि हमारे लिए बहुत अधिक हानिकारक होती है। ये बात सब जानते है। र फिर भी लोग मोबाइल फ़ोन को अपने आप से चिपका कर रखत है।

क्योकि वो मानते है कि मोबाइल फ़ोन एक बहुत उपयोगी चीज है। बल्कि मोबाइल फ़ोन आने के बाद समाज का पूरा चित्र ही बदल गया है। लोग बाहर खेलना तो दूर घूमना भी भूल चूके है।

मुझे आज भी याद है मै अपने बचपन में अपने दोस्त के साथ कब्बडी, गिल्ली डंडा, खों-खो आदि खेल खिलती थी। और उन खेलो को खेलने के बाद हम बहुत आलंद महसूस करते थे।

आज के समय में तो बच्चे हर समय टेक्नोलॉजी के साथ खेलते है। जिसके बाद उनको न तो खाना ठीक से हजम होता है न ही वो अच्छी नींद ले पाते है।

अगर हम बस 2 घंटे ही मैदानी में खेल खेलेंगे तो अच्छी नींद तो आएगी ही साथ ही साथ ताजगी में महसूस होगी।

इसलिए हमें खेल जरुर खेलना चाहिए। उससे हमारा रक्त संचार ठीक रहता है। खाना ठीक से पचता है, और खेलने से शरीर से पसीना निकलेगा तो त्वचा को सुन्दर बनाता है।

 

आज हम ने vishva ka sabse purana khel kaun sa hai इसका जवाब जाना और उम्मीद करते है की आप भी इस जवाब से समाधान हो क्यों की इनके अलवा vishva ka sabse purana khel और कोई नहीं है…

Leave a Comment