Lockdown kab tak rahega bharat (India) main

Lockdown kab tak rahega : चीन के वुहान शहर से 31 दिसंबर 2019 में निकला कोरोना वायरस पूरी दुनिया को घर में बंद करके रख दिया, क्योंकि यह एक संक्रामक वायरस है जो एक दूसरे वस्तु या व्यक्ति के संपर्क में आने से फैलती है।

पूरी दुनिया के देश अपने यहाँ के नागरिकों की सुरक्षा के लिए लॉकडाउन जैसी कानून को लाया और अपने देश मे इसे लागू किया

जिसके बाद कोई भी व्यक्ति घर से नही निकल सकता था। भारत सरकार ने भी पहली बार 22 मार्च 2020 को यहाँ के लोगों की सुरक्षा के लिए लॉकडाउन लगाया था।

जहाँ लॉकडाउन लगने से पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्था, व्यापार, नौकरी इत्यादि खतम होती जा रही थी तो इसके फायदे भी देखने को मिली, जिसमें सरकार का पहला काम अपने नागरिकों की रक्षा करना था, जो सिर्फ लॉकडाउन लगाने से ही संभव हो पाती।

लोग अपने घरों में लॉकडाउन के बीच कई महीनों से रह रहें है, ऐसे में लोगों के मन में एक सवाल आती रहती है कि भारत में लॉकडाउन कब खतम होगी आप भी अगर इस प्रश्न का जवाब जानना चाहते है तो इस लेख को अंतिम तक पढ़ते रहें, जिसमें आप Lockdown Unlocked in India 2021 के बारें में विस्तार से जान सकते है।

 

 

Lockdown kab tak rahega bharat (India) main
Lockdown kab tak rahega bharat (India) main

 

लॉकडाउन कब तक रहेगा भारत में | When does the lockdown end in India

कोरोना वायरस के शुरुआती साल 2020 में हम लोगों ने इसके वजह से कई महीने अपने घरों में Lockdown के कारण बिताया,

उसके बाद भारत में कुछ महीनों तक इसके केस की संख्या में कमी आने लगी, जिससे लोगों की उम्मीद थी कि अब इस संक्रामक वायरस से हम सभी को छुटकारा मिल सकती है,

लेकिन वर्ष 2021 में कोरोना वायरस के एक नई स्ट्रेन आ गई जो पहले वाली वायरस से भी खतरनाक है जो ज़्यादातर युवाओं में इसका असर होती है

और जैसा की आप सभी को पता ही होगी कि भारत युवाओं का देश है जहाँ सबसे ज्यादा जनसंख्या युवा की ही है।

ऐसे में सरकार को फिर से लॉकडाउन लगानी पर गई, क्योंकि कोरोना का नई पीक लोगों के फेफड़ा को ही कुछ ही दिनों में खराब कर देती है जिससे लोगों में ऑक्सिजन की कमी होने लगती है

और उनका दम घुटने से मृत्यु हो जाती है। जिसमें रिकवरी रेट पहले के अपेक्षा भी काफी कम थी और कोरोना मरीजों की केसों की संख्या 5 लाख से भी ऊपर हर दिन का मिलती थी।

उधर Corona Vaccination का काम भारत में चल ही रही थी कि कोरोना का दूसरी नई स्ट्रेन सामने आ गई, जिसने भारत के लोगों को फिर से लॉकडाउन के बंधन में बांध करके रख दिया, लेकिन कुछ दिनों बाद इसकी दूसरी लहर में गिरावट आने लगी है।

भारत सहित दुनियाभर के वैज्ञानिक विशेषज्ञ बताते है कि जिस तरह से कोरोना का पहली लहर आई थी जो 60 साल के ऊपर के लोगों को अपना शिकार बनाते थे !

उसी तरह इसकी दूसरी लहर भी आई है जो 20 साल से ऊपर वाले व्यक्तियों के बीच कोरोना वायरस अत्यधिक मात्र में फैल रही है।

विशेषज्ञ बताते है कि जब कोरोना का दूसरी स्ट्रेन पूरी तरह खत्म हो जाएगी, इसके केसों की संख्या में कमी आने लगेगी, वह वक्त जून-जुलाई 2021 का महिना होगा।

उसके बाद यह पूरी तरह से खतम हो जाएगी और फिर से कोरोना का तीसरी स्ट्रेन सितंबर-अक्तूबर 2021 के महीने में सामने आएगी।

जो बच्चों में अधिक फैलेगी। बच्चे हमारे देश का भविष्य होते है और उनको इस खतरनाक वायरस से बचाना सरकार की सबसे बड़ी ज़िम्मेदारी है,

भारत सरकार ने इसकी तैयारी अभी से ही कर रही है, जिससे देश के आने वाली कल के भविष्य कहलाने वालें बच्चे को इससे बचाया जा सकें।

भारत में corona vaccination का काम जोड़ों से चल रही है, लेकिन भारत की आबादी 135 करोड़ से अत्यधिक होने के कारण यहाँ वैक्सीन की कमी भी होने लगी है,

जिसमें कई भारतीय और विदेशी मेडिकल ड्रग इंस्टीट्यूट मिलकर भारतीय लोगों के लिए वैक्सीन बना रही है, जिसे लोग बढ़-चढ़ कर लगवा रहें है।

अगर हम इंडिया में लॉकडाउन कब तक चलेगी? के बारें में बात करें तो जब कोरोना का दूसरी लहर शांत होने लग जाएगी, तब यहाँ जून महीने से थोड़ी-सी छुट मिलनी चालू हो जाएगी,

जिसके बाद अगस्त 2021 का महिना आते-आते भारत में लॉकडाउन पूरी तरह से खतम किया जा सकता है।

लेकिन जैसे ही कोरोना का तीसरी लहर सितंबर-अक्तूबर महीने में आयेगी, हो सकता है भारत के राज्य सरकार अपने यहाँ अपने अनुसार लॉकडाउन को लगा सकती है। इस लॉकडाउन की अवधि 2 महिना तक हो सकती है इस तरह लोगों को नवम्बर 2021 तक फिर से लॉकडाउन की वजह से अपने घरों में रहनी पर सकती है।

 

bharat Main Lock Down Kab khulega | Lock Down kab Khulega in Hindi

भारत सहित दुनिया के अन्य देश अपने यहाँ के बच्चों को भी कोरोना का टीका देने की तैयारी कर रही है। कुछ ऐसे भी देश है जो जहाँ 5 साल से ऊपर वालें सभी लोगों को कोरोना का टीका दिया जा चुका है, जिसमें प्रमुख देश अमेरिका और इज़रायल है, जहाँ कोरोना वायरस भी पूरी तरह से ख़तम हो चुकी है।

 

Lock Down 2

 

भारत में सभी लोगों का टिकाकरण करने के लिए अगर सब कुछ सही रहा तो लगभग दो वर्ष से भी अधिक का समय लग सकती है अगर सरकार इसमें और तेजी लायेगी, तो वर्ष 2022 तक बच्चे सहित सभी लोगों का टिकाकरण सम्भव हो सकती है।

जब तक भारत में पूरे लोगों को कोरोना वैक्सीन का पहली और दूसरी डोज़ नही दे दिया जाता है तब तक यहाँ नई-नई स्ट्रेन के कोरोना वायरस आने की खतरा बरकरार रह सकती है,

इसलिए भारत में कोरोना के कारण लगाई जाने वाली लॉकडाउन की डर को ख़तम करने के लिए सभी लोगों का टिकाकरण होना बहुत ही आवश्यक है।

अब तक के इतिहास में आई कई खतरनाक वायरस और उसके विशेषज्ञ कहते है कि किसी भी संक्रामक वायरस तीन चरण में फैलती है पहली चरण में वह कमज़ोर रहती है,

लेकिन लोगों में डर अत्यधिक होती है, तो वही दूसरी चरण में यह सबसे खतरनाक रूप ले लेती है, जिससे इसका रिकवरी रेट पहले की तुलना में कम होने लगती है

और तीसरी चरण में संक्रामक वायरस दोनों चरण का मध्यम होती है अर्थात यह पहले चरण से खतरनाक लेकिन दूसरे चरण से कमजोर होती है। इस तरह कोरोना की आने वाली तीसरी लहर पहले से कमजोर जरूर होगी, लेकिन यह बच्चों के लिए घातक साबित हो सकती है।

भारत पूरी तरह से लॉकडाउन से वर्ष 2021 में ही मुक्त हो जाएगी, लेकिन इसे कोरोना से मुक्त होने में वर्ष 2023 तक का समय लग सकती है।

हम सभी अगर पहल करें तो भारत को जल्द से जल्द  कोरोना मुक्त कर सकते है इसके लिए हमें कुछ महीनों के लिए घर से तब ही निकलना चाहिए, जब कोई खास जरूरत हो

और मुँह पर मास्क साथ ही थोड़ी-थोड़ी समय पर हाथों को साफ करते रहें तो इस अदृश्य खतरनाक वायरस से जल्द छुटकारा पा सकते है।

हमें यकीन है कि सभी लोगों का कोरोना टिकाकरण होने के बाद covid-19 virus नाम से और लॉकडाउन जैसी बंधन से मुक्त हो सकते है।

 

अंतिम शब्द

इस Article में आपने भारत में कोरोना कब खतम होगी के बारें में जाना। आशा करता हूँ आप लॉकडाउन कब तक रहेगा भारत में | When does the lockdown end in India  की पूरी जानकारी जान चुके होंगे।

आपको लगता है कि इसे दूसरे के साथ भी Share करना चाहिए तो इसे Social Media पर सबके साथ इसे Share अवश्य करें। शुरू से अंत तक इस Article को Read करने के लिए आप सभी का तहेदिल से शुक्रिया…