पीरियड लाने का उपाय (2022) Jaldi Periods lane ka Upay

पीरियड लाने का उपाय – पीरियड को मासिक धर्म या मासिक चक्र भी कहा जाता है। जब कोई लड़का या लड़की अपने यौन अवस्था में कदम रखता है तो उसके शरीर में कई तरह के बदलाव होना शुरू हो जाते हैं  इन सभी परिवर्तनों के कारण बच्चे का शरीर  व्यस्क में बदल जाता है।

लड़कियों में यह शारीरिक परिवर्तन मासिक धर्म और शरीर की अन्य प्रक्रियाओं के रूप में आते हैं जो एक सामान्य परिवर्तन है।

मासिक धर्म की प्रक्रिया के माध्यम से ही महिलाएं संभावित गर्भावस्था के लिए खुद को तैयार करती हैं। मासिक धर्म महिला प्रजनन प्रणाली में मासिक धर्म चक्र का एक हिस्सा है जो गर्भावस्था को संभव बनाता है।

पिरियड आमतौर पर 3-5 दिनों तक रहता है और आमतौर पर 28 से 35 दिनों के अंतराल पर होता है। तो आज हम इस लेख में पीरियड से जुड़ी जानकारी प्राप्त करेंगे तो चलिए सबसे पहले विस्तार में जानते हैं पीरियड लाने के उपाय क्या है

 

पीरियड लाने का उपाय – Jaldi Periods lane ka Upay

 

Periods lane ka Upay
Periods lane ka Upay in Hindi

 

पीरियड लाने का उपाय – अगर आप चाहते हैं कि पीरियड्स जल्दी आ जाएं तो मासिक धर्म लाने के लिए गोलियों का इस्तेमाल करने की बजाय कुछ प्राकृतिक और घरेलू उपायों को अपनाएं

अगर आप भी  जानना चाहते हैं कि रुके हुए पीरियड्स को कैसे लाया जाए तो आगे पढ़ें।

 

1) कच्चा पपीता – अगर मासिक धर्म समय पर नहीं आ रहा है तो कच्चा पपीता खाएं। इसमें पाया जाने वाला तत्व गर्भाशय को टाइट बनाता है जो पीरियड्स को जल्दी लाने में मदद करता है।

कैरोटीन एस्ट्रोजन हार्मोन को उत्तेजित करने में सहायक होता है, जिससे मासिक धर्म भी जल्दी आता है।


2) अदरक – अदरक भी पीरियड टाइम लाने के तरीके में सबसे लाजवाब नुस्खा है। अदरक का असर गर्म होता है, लेकिन इसका सही मात्रा में सेवन न करने या ज्यादा मात्रा में सेवन करने से नुकसान हो सकता है।  अदरक को सही मात्रा में लें और अजवायन की चाय बनाकर पिएं।


3) सौंफ – सौंफ पीरियड्स को जल्दी लाने में भी काफी असरदार होती है। आप इसे चाय बनाकर भी पी सकते हैं।

जिसके लिए रात को 2 चम्मच सौंफ को 1 गिलास पानी में घोल लें, अब सुबह इस पानी को छानकर पी लें।  सुबह खाली पेट इसका सेवन करना ज्यादा फायदेमंद होता है।


4) गर्म सेक – पेट के निचले हिस्से पर गर्म सेक भी मासिक धर्म लाने में मदद करता है।  कुछ विशेष जड़ी-बूटियों के तेल को गर्म पानी में मिलाकर स्नान करने से भी मासिक धर्म जल्दी आता है।


5) अंडे – प्रोटीन का एक स्रोत, अंडे पीरियड को नियमित करने और समय से पहले लाने में प्रमुख भूमिका निभाते हैं।

यह गर्म होता है और प्रोटीन से भरपूर होता है, आप अंडे का सेवन भी कर सकते हैं, यह भी एक अच्छा घरेलू उपाय है।


6) अजवाइन – यह पेट में ऐंठन और पेट दर्द को ठीक करती है। बहुत से लोग सोचते हैं कि गुड़ खाने से पीरियड्स होते हैं, तो जी हां, पीरियड जल्दी आने के लिए आप गुड़ और अजवायन का एक साथ सेवन कर सकते हैं।  इससे मासिक धर्म में देरी में सुधार होगा।


7) अनार का सेवन – अनार कई रोगों को दूर करने में सहायक होता है।  इसके साथ ही यह महामारी को जल्दी लाने में भी मदद करता है।  अनार खून की कमी को दूर करता है आप अनार के रस का सेवन कर सकते हैं और आप चाहें तो अनार भी खा सकते हैं।


8) धनिये के बीज – इसमें पाए जाने वाले गुण महामारी को जल्दी लाने के लिए प्रेरित करते हैं। धनिये के बीज को 2 कप पानी में उबाल लें।  जब पानी एक कप रह जाए तो इसे ठंडा करके पी लें।  इसका सेवन दिन में 2 बार किया जा सकता है।

 

पीरियड जल्दी लाने में कुछ मसाले भी मददगार साबित होते हैं

  • हमारे घरों में धनिया का प्रयोग मसाले के रूप में बहुत होता है। अब आप इसका इस्तेमाल पीरियड्स को जल्दी लाने के लिए भी कर सकती हैं।  दो कप पानी में एक चम्मच धनिये के बीज उबाल लें और इसे तब तक उबालें जब तक कि पानी एक कप न रह जाए, धनिया को छानकर दिन में तीन बार पिएं।
  • मेथी के दानों को इसी तरह पानी में उबाल लें और फिर छान कर पानी पीते रहें।
  • एक छोटा चम्मच तिल को गर्म पानी के साथ दिन में दो बार लेने से भी माहवारी जल्दी आती है।
  • रात को सोने से पहले दो चम्मच सौंफ एक गिलास में छोड़ दें।  इस पानी को सुबह उठने के बाद पिएं।

 

 

5 मिनट में  पीरियड लाने के  उपाय – 5 minute me period kaise laye

5 मिनट में पीरियड्स आने की कोई गारंटी नहीं है, लेकिन यहां कुछ टिप्स दिए गए हैं, जिन्हें अपनाकर आप अपने पीरियड्स को प्रेरित कर सकती हैं।

 

  • पीरियड जल्दी आने के उपाय, आपको करने होंगे ये उपाय पीरियड्स के शुरुआती दिनों में आपकी मदद करेंगे।  जानिए 5 मिनट में कैसे पाएं पीरियड।
  • तनाव न लें तनाव भी पीरियड्स में देरी का कारण बनता है। तनाव में होने पर, हार्मोन कोर्टिसोल या एड्रेनालाईन का उत्पादन होता है जो एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन के उत्पादन को रोकता है जो नियमित अवधि बनाए रखते हैं।  ध्यान और योग करें।
  • हल्दी का सेवन पीरियड्स को जल्दी लाने में अच्छा होता है।
  • अनानास पीरियड्स को जल्दी लाने में मदद करता है।  अनानास ब्रोमेलैन का अच्छा स्रोत है।  ब्रोमेलैन एस्ट्रोजन और अन्य हार्मोन को प्रभावित करके काम करता है।  ब्रोमेलैन सूजन को कम करने में भी सहायक होता है।
  • मासिक धर्म जल्दी आने के लिए भी विटामिनसी का सेवन फायदेमंद होता है।  विटामिन सी जिसे एस्कॉर्बिक एसिड भी कहा जाता है, आपके पीरियड्स को प्रेरित कर सकता है।

 

पीरियड्स खुलकर आने के लिए क्या करें – Period khul ke aane ke liye kya kare

पीरियड्स में कम ब्लड आना एक गंभीर समस्या का संकेत हो सकता है।  इसलिए, यदि आप अपने आप में पीरियड्स न होने के लक्षणों का अनुभव करते हैं, तो आपको निश्चित रूप से डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए।

डॉक्टर आपकी जांच करने के बाद खुले तौर पर पीरियड्स न होने के कारणों की पुष्टि करते हैं।  उसके बाद, उपचार का तरीका चुनें।

पीरियड्स खुलकर लाने के लिए घरेलू नुस्खे भी उपलब्ध हैं, लेकिन घरेलू उपचारों को इस्तेमाल करने से पहले स्त्री रोग विशेषज्ञ की राय जरूर लेनी चाहिए।

क्‍योंकि डॉक्‍टर पीरियड्स खुलवाने के लिए निम्‍न उपचार का इस्‍तेमाल कर सकते हैं:

  • हार्मोन से संबंधित कोई समस्‍या होने पर हॉर्मोन थेरेपी की जाती है।
  • पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम के मामले में बांझपन उपचार, बालों के विकास की दवा और गर्भनिरोधक गोलियां दी जाती हैं।
  • जांच रिपोर्ट और खानपान पर ध्यान रखने के लिए सलाह दी जाती है।

 

रुका हुआ पीरियड लाने की दवा – Ruka hua Period lane ki Dawa

अगर पीरियड्स समय पर नहीं आते हैं तो हमारे दिमाग में कई तरह के ख्याल आते हैं |और फिर हम इंटरनेट की मदद लेते हैं और इंटरनेट पर सर्च करते हैं कि > रुके हुए पीरियड को लाने की कौन सी दवा है।  और रुका हुआ पीरियड लाने की दवा का इस्तेमाल कैसे करें।

जब हम इंटरनेट की मदद से पीरियड्स रुकने की दवा करते हैं तो गूगल पर और यूट्यूब वीडियो में ” प्रिमोल्ट एन (Primolut N) नाम की दवा करके बहुत सारे परिणाम मिलते हैं,

लेकिन दोस्तों अगर आप बिना डॉक्टर की सलाह के इसका इस्तेमाल करते हैं।  अगर ऐसा है तो मैं आपको सचेत कर दूं।

 

Premolt n . से रुका हुआ पीरियड कैसे प्राप्त करें

देखिए दोस्तों अगर आप रुके हुए पीरियड लाने के लिए प्रिमोल्ट-एन दवा का इस्तेमाल करने जा रहे हैं, तो दोस्तों सतर्क हो जाएं और आपको पता होना चाहिए कि क्या काम है, क्योंकि अगर आप इस दवा का इस्तेमाल रुकी हुई अवधि लाने के लिए करने जा रहे हैं, तो कोई उपयोग नहीं हैं

 आपको बता दें दोस्तों यह दवा रुके हुए पीरियड को लाने के लिए नहीं बनी है।  इस दवा के कुछ अन्य कार्य भी हैं जैसे –

  • अनियमित मासिक धर्म चक्र को नियंत्रित करने के लिए
  • मासिक धर्म चक्र में अत्यधिक रक्तस्राव को रोकें
  • मासिक धर्म के दौरान दर्द कम करें
  • मासिक धर्म को लम्बा करने की दवा के रूप में

 

लेकिन यह बात रुकी हुई अवधि लाने जैसी नहीं है, रुके हुए काल को लाने के लिए आप निम्न घरेलू उपचारों का उपयोग कर सकते हैं।

हालांकि वैज्ञानिक रूप से इसके रुके हुए पीरियड आने की पुष्टि नहीं हुई है, लेकिन यह कई विशेषज्ञों और महिलाओं के लिए कारगर साबित हुआ है।

 

Primolut N – के कई दुष्प्रभाव

जब हम किसी हम कोई मेडिसिन लेते हैं तो उसका जितना फायदा होता है उससे ज्यादा नुकसान भी हो सकता है जैसे कि Primolut N जितना  हमारे लिए फायदेमंद होता है उतना नुकसानदायक भी होता है।

  • अत्यधिक चेहरे के बाल विकास
  • स्तन वर्धन
  • वजन कम होना या बढ़ना
  • बीमार महसूस करना
  • कब्ज
  • दस्त
  • शुष्क मुँह
  • माइग्रेन होना
  • अवसाद होना
  • कम दिखाई देना
  • सांस लेने मे तकलीफ
  • खूनी खाँसी
  • सीने में तेज दर्द
  • सूजन
  • त्वचा में खुजली और दाने
  • खाना निगलने में कठिनाई

 

जब भी आप ये मेडिसिन किसी मेडिकल स्टोर से लेते हैं तो सबसे पहले मेडिसिन पर दिए गए निर्देश के को अच्छी तरीके से पढ़ ले

और अगर आपको यह निर्देश अच्छी तरीके से समझ में नहीं आता है तो इस मेडिसिन का सेवन करने से पहले अपने नजदीकी डॉक्टर से जरूर सलाह लें।

 

Meprate 10mg Tablet

Meprate 10mg टैबलेट में प्रोजेस्टेरोन होता है, जो एक महिला की  हार्मोन और ओव्यूलेशन और मासिक धर्म के नियमन में महत्वपूर्ण है।

यह उन महिलाओं में मासिक धर्म का कारण बनता है जो रजोनिवृत्ति तक नहीं पहुंची हैं

लेकिन शरीर में प्राकृतिक प्रोजेस्टेरोन की कमी के कारण मासिक धर्म नहीं हो रहा है। इसके प्रभावी होने के लिए आपको मेप्रेट 10mg की निर्धारित दवा का उपयोग करना चाहिए।

डॉक्टर ज्यादातर इस टैबलेट को उन महिलाओं द्वारा उपयोग करने की सलाह देते हैं, जिन्हें समय पर पीरियड नहीं आता है। जिन्हें पीरियड के समय कम या ज्यादा ब्लीडिंग होती है।

कभी-कभी महिलाओं का पीरियड समय से पहले या बाद में आता है।  ऐसे में डॉक्टर इस टैबलेट को लेने की सलाह देते हैं।  इसके अलावा, Meprate 10mg का उपयोग महिलाओं से संबंधित अन्य सभी समस्याओं के लिए भी किया जाता है।

 

पीरियड टाइम से नहीं आने के आयुर्वेदिक दवाई – Period time se na aaye to kya kare

आयुर्वेद के अनुसार महिलाएं अपने खान-पान और जीवनशैली में कुछ बदलाव करके अनियमित मासिक धर्म की समस्या से निजात पा सकती हैं,

  • पीरियड के दौरान खट्टा-खट्टा खाना का सेवन न करें।
  • ज्यादा मसालेदार चीजें न खाएं।
  • चाय, कॉफी और कोल्ड ड्रिंक्स के सेवन से बचें।
  •  अनियमित पीरियड्स के घरेलू उपाय के तौर पर एक कप पानी में 1 चम्मच धनिया के बीज और दालचीनी पाउडर डालकर उबालें।  जब पानी आधा रह जाए तो इसमें आधा चम्मच बूरा (पाउडर चीनी) मिला दें।  इस पानी को दिन में दो बार पिएं।  इससे मासिक धर्म नियमित हो जाता है।
  • पीरियड्स के दौरान शरीर को थका देने वाली गतिविधियों से बचना चाहिए।
  • खाने में देसी घी खाएं।  खाना कैसा है?  यह आप स्वयं तय करें।  देसी घी को आप दूध में मिलाकर ले सकते हैं, सब्जियों में खा सकते हैं या फिर रोटी पर लगाकर खा सकते हैं.
  • सबसे जरूरी है कि शारीरिक साफ-सफाई का खास ख्याल रखें।

 

पीरियड जल्दी लाने के लीए एक्सरसाइज – Period Jaldi lane ke Exercise

मासिक धर्म चक्र को तेज करने के लिए, आपको अपने शरीर के तापमान को बढ़ाने की जरूरत है। आप चाहें तो शरीर के तापमान को बढ़ाने के लिए दिन में आधा घंटा व्यायाम कर सकते हैं।

व्यायाम करने से शरीर में रक्त प्रवाह तेज होगा और शरीर का तापमान बढ़ेगा जो कि पीरियड्स को तुरंत लाने में काफी हद तक फायदेमंद होता है।

रुके हुए पीरियड्स को लाने के लिए आप दौड़ना, रस्सी कूदना या स्क्वाट जैसी एक्सरसाइज कर सकते हैं।

 

पीरियड्स जल्दी लाने के योग – Period jaldi lane ke Liye Yoga

बहुत से लोग व्यायाम करना पसंद नहीं करते हैं।  ऐसे लोगों के लिए योग सबसे अच्छा उपाय है। पीरियड्स को सही समय पर लाने के लिए आपको योग में मत्स्यासन, धनुरासन, हलासन, मलासन और शवासन करना चाहिए।

मुझे उम्मीद है कि आप हमारे लेख से पूरी तरह संतुष्ट हैं: घरेलू उपचार, गोलियां, व्यायाम और योग तेजी से मासिक धर्म प्राप्त करने के लिए।

अगर आपके मन में अभी भी कोई सवाल है या आप त्वचा की देखभाल, बालों की देखभाल या स्वास्थ्य से जुड़ी कोई अन्य समस्या हल करना चाहते हैं तो कमेंट करके जरूर बताएं।

 

पीरियड देर से आने का कारण – Period late Hone k Reason

अक्सर हम देखते हैं कि ज्यादातर महिलाओं की शिकायत रहती है कि उनके पिरियड सही समय पर नहीं आते हैं

पीरियड मिस होने के आम कारण प्रेगनेंसी हो सकता है, लेकिन अगर आप एक प्रेगनेंसी प्लान नहीं कर रहे हैं फिर भी आपका  पीरियड सही समय पर नहीं आते हैं तो इसके अनेकों कारण हो सकते हैं इसके लिए आपको जल्द से जल्द अपने निजी डॉक्टर से दिखाना जरूरी होता है।

 

  • तनाव – शरीर को कई तरह से प्रभावित करता है जिसमें पीरियड भी शामिल है तनाव के कारण ओव्यूलेशन या पीरियड नहीं होता है अपने आप को आराम देने का कोशिश करें और नियमित मासिक धर्म चक्र में वापस आने के लिए अपने चिकित्सक से परामर्श जरूर ले।

  • बीमारी – अचानक बुखार ,सर्दी, खांसी या कोई लंबी बीमारी भी पीरियड होने का कारण बन सकती है यह अस्थाई और एक बार जब बीमारी से ठीक हो जाते हैं तो आपके पीरियड्स अनियमित हो जाते हैं।

  • दिनचर्या में बदलाव – नाइट शिफ्ट में काम करना, शहर से  बाहर जाना या किसी शादी फंक्शन के दौरान अपने घरों में बिजी रहना इससे शरीर को इस नए शेडयूल  की आदत हो जाती है जब हम सामान्य दिनचर्या में लौट आते हैं तो हमारा पीरियड भी नियमित रूप से होना शुरू हो जाता है।

  • ब्रेस्टफीडिंग – कई महिलाओं को तब तक पीरियड सही समय पर नहीं आता है जब तक वह बच्चे को ब्रेस्टफीडिंग  बंद नही करा देती।

  • बर्थ कंट्रोल पिल्स – बर्थ कंट्रोल पिल्स और कुछ अन्य दवाएं भी पीरियड साइकिल को बदल देती है, ऐसी दवाई लेनी है पर या तो पीरियड कम होना शुरू हो जाता है, या बार बार होना शुरू हो जाता है, या फिर बंद हो जाता है | ऐसे में इस मेडिसिन का उपयोग करने से पहले डॉक्टर से संपर्क करना जरूरी है।

  • मोटापा – अनियमित पीरियड का कारण बन सकता है, जिसकी वजह से पीरियड आने में देरी हो सकती है हालांकि यह समस्या उन लोगों के साथ भी होता है जिनका वजन काफी कम होता है या जिनका वजन काफी अधिक होता है।

  • दुबलापन – आपके शरीर में पर्याप्त चर्बी ना होने पर भी आपके पिरियड अनियमित हो सकते हैं | अनियमित पीरियड के लिए स्वास्थ्य भजन होना काफी जरूरी होता है।

 

पीरियड जल्दी लाने के घरेलू उपाय – Period lane ke Gharelu Upay

लड़कियों को ट्रिप पर जाना होता है,  या कहीं जाने की योजना बनाते समय या किसी दोस्त या रिश्तेदार की शादी में जाते समय पीरियड्स की तारीख का ध्यान रखना होता है।

क्योंकि इवेंट के दौरान पैड बदलने से भारी शारीरिक गतिविधि में परेशानी हो सकती है।  कई बार इस वजह से प्लान कैंसिल करना पड़ता है।

कई बार ऐसा होता है कि पीरियड्स में देरी हो जाती है और समस्या बढ़ जाती है।  फिर वे पीरियड्स जल्दी के उपाय तलाशने लगती हैं।

 

  • अजवाइन

6 ग्राम अजवायन को 150 मिलीलीटर पानी में उबालकर दिन में तीन बार पिएं।  इसके अलावा अजवायन की चाय दो बार पिएं।


  • जीरा

जीरे का स्वाद गर्म होता है।  इसका असर भी अजवायन की तरह ही होता है।


  •  कच्चा पपीता

यह सबसे आसान और सबसे सुलभ घरेलू उपाय है, जिसकी मदद से पीरियड्स जल्दी आते हैं।  पपीते में एक ऐसा तत्व होता है जो गर्भाशय में कसाव पैदा करता है।  कसना के कारण पीरियड्स जल्दी आते हैं।  कच्चे पपीते का रस बनाकर पियें या मासिक धर्म के बीच में रोजाना पपीते का सेवन करें।


  • अदरक

अदरक पीरियड्स लाने के सबसे शक्तिशाली उपायों में से एक है।  यह अत्यधिक गर्म हो जाता है।  हालांकि, इसके साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं।  अदरक गैस पैदा करता है।  हालांकि, अगर आपके पीरियड्स बहुत लेट हैं, तो आप अजवाइन और अदरक की चाय ट्राई कर सकते हैं।  यह आपका काम करेगा।


  • धनिया

धनिये के बीज भी अनियमित पीरियड्स के लिए एक बेहतर उपाय हैं।  माहवारी आने से पहले 1 चम्मच धनिये के बीज को 2 कप पानी में उबाल लें।  फिर इसे छानकर दिन में तीन बार पिएं।


  • सौंफ

सौंफ के स्वाद वाली चाय का इस्तेमाल कर आप भी जल्द ही पीरियड्स ला सकती हैं।  2 चम्मच सौंफ को रात भर एक गिलास पानी में डालकर सुबह छानकर पी लें।  सौंफ के इस पानी को सुबह खाली पेट इस्तेमाल करने से ज्यादा फायदा होता है।


  • कसूरी मेथी

मेथी के दानों को पानी में उबालकर पी लें।  कई विशेषज्ञों ने भी इस उपाय की सिफारिश की है।


  • अनार

अपनी नियमित तिथि से 15 दिन पहले से दिन में 3 बार अनार का रस पीना शुरू कर दें।  इससे आपके पीरियड्स जल्दी आएंगे।


  • तिल

अपनी नियमित तिथि से 15 दिन पहले तिल का प्रयोग करें।  यह काफी गर्म होता है और इसलिए आपको नुकसान पहुंचा सकता है।  तिल को शहद के साथ दिन में 2-3 बार लें।


  • खट्टे फल

विटामिन-सी से भरपूर नींबू, संतरा, कीवी, आंवला जैसे फल खाएं।  यह प्रोजेस्टेरोन के स्तर को बढ़ाता है, जो हार्मोन है जो अवधि को प्रेरित करता है।


  • गाजर

गाजर में कैरोटीन होता है।  इसका जूस पीने या खाने से पीरियड्स जल्दी आते हैं।


  • खजुर

खजूर शरीर में गर्मी बढ़ाता है।  अपनी नियमित तिथि से पहले मध्यम मात्रा में खजूर का सेवन शुरू करें।  फ़ायदा मिलेगा।


  • अंडे

अंडे में प्रोटीन होता है, जो आपके शरीर को पीरियड्स से जुड़ी समस्याओं से निपटने की क्षमता देता है।


  • गर्म पानी का पैक

जैसे आप पीरियड्स के दौरान गर्म पानी के पैक का इस्तेमाल करती हैं, वैसे ही गर्म पानी के पैक को दिन में 2-3 बार अपने पेट पर रखें।


 

पिरियड के लीऐ डॉक्टर की सलाह

डॉक्टर के सालाह के अनुसार रजोनिवृत्ति 45-50 वर्ष की आयु के बीच होती है,

लेकिन इससे पहले पिरियड में अनियमितता को पेरिमेनोपॉज कहा जाता है, यदि महिला 40 वर्ष की है, तो उसकी अवधि कम या ज्यादा हो सकती है, रक्तस्राव कम या ज्यादा हो सकता है

45-50 की उम्र तक मासिक धर्म बंद हो जाता है।  मासिक धर्म की समाप्ति को रजोनिवृत्ति या रजोनिवृत्ति कहा जाता है।

महिलाओं में ओव्यूलेशन रुक जाता है और एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन हार्मोन के स्राव में कमी आती है,

जिससे अनियमित मासिक धर्म और रजोनिवृत्ति होती है। इसमें चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। किसी प्रशिक्षित डॉक्टर से मिलें और उसके सुझावों का पालन करें। यह एक स्वाभाविक क्रिया है। मेनोपॉज की स्थिति में महिलाएं गर्भधारण नहीं कर पाती हैं।

महिलाओं को मेनोपॉज के दौरान डिब्बाबंद और जंक फूड का सेवन करने के बजाय संतुलित आहार का सेवन करना चाहिए।

नमक और कैफीन भी कम मात्रा में लें।  संतुलित आहार में फाइबर युक्त भोजन, साबुत अनाज, हरी पत्तेदार सब्जियां खाएं।

मेनोपॉज के बाद शरीर को कैल्शियम की जरूरत होती है, और ऑस्टियोपोरोसिस होने की संभावना रहती है, इसलिए डॉक्टर की सलाह पर दूध और दूध से बने उत्पाद और कैल्शियम सप्लीमेंट लें।  मेटाबॉलिज्म कम होने से वजन बढ़ता है, इसलिए रोजाना 30 मिनट एक्सरसाइज करना चाहिए।

 

FAQs –  Periods lane ke upay in Hindi

सवाल – हल्दी खाने से पीरियड्स जल्दी आता है ?

हल्दी सेहत के लिए बहुत अच्छी होती है। क्योंकि यह औषधीय गुणों से भरपूर होता है  हल्दी में मौजूद एमोलिएंट की वजह से पीरियड्स नियमित समय पर होते हैं।

इसके लिए आप कच्ची हल्दी का सेवन कर सकते हैं।  आप सुबह खाली पेट थोड़ी सी कच्ची हल्दी गुड़ के साथ ले सकते हैं।

इसके अलावा एक गिलास गर्म पानी या दूध में एक चम्मच हल्दी पाउडर मिलाकर मासिक धर्म से करीब दस दिन पहले से ही इसका सेवन करें

अगर आप ऐसा करते हैं तो आपको पीरियड जल्दी आ जाएगा।  इतना ही नहीं पीरियड्स के दौरान होने वाले असहनीय दर्द में भी आराम मिलेगा।


सबाल – पीरियड आने के लिए क्या खाना चाहिए

अगर आपको पीरियड्स नहीं हो रहे हैं या पीरियड्स आने में देरी हो रही है तो ऐसे में आपको कच्चे पपीते का सेवन करना चाहिए।  कच्चे पपीते का सेवन करने से पीरियड्स मिस होने की समस्या को दूर किया जा सकता है।

दरअसल कच्चे पपीते में गर्भाशय की मांसपेशियों के संकुचन को नियंत्रित करने के गुण छिपे होते हैं।  शोध में यह साबित हो चुका है कि कच्चे पपीते का सेवन करने से मासिक धर्म समय पर हो सकता है।

वहीं अगर तनाव के कारण पीरियड्स समय पर नहीं हो रहे हैं तो आप कच्चे पपीते का नियमित सेवन कर सकते हैं।  इससे तनाव कम होता है, जिससे आपको  पीरियड्स समय पर आने में मदद मिल सकती है।


सबाल – हींग से पीरियड कैसे लाये ?

हींग शरीर में गर्मी लाती है। यह प्रोजेस्टेरोन हार्मोन की अतिरिक्त मात्रा प्राप्त करने और महिला प्रजनन अंगों के समुचित कार्य में सहायता करने में बहुत मदद करता है। पानी से भरे गिलास में हींग मिलाकर नियमित रूप से सेवन करें।


Disclaimer

इस लेख में दी गई जानकारी विभिन्न विशेषज्ञों के अध्ययन और राय के साथ-साथ आम आदमी के स्वास्थ्य पर आधारित है। इस जानकारी को देने का उद्देश्य विषय से परिचित होना है। पाठकों को अपने स्वास्थ्य के आधार पर कोई भी निर्णय लेने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लेनी चाहिए।

 

Conclusion

हमें उम्मीद है कि आपको पीरियड लाने का उपाय (Jaldi Periods lane ka Upay) के बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारी मिल गई होगी।

कृपया इस लेख को अपने दोस्तों, परिवार और रिश्तेदारों के साथ साझा करें यदि आपको लगता है कि यह उनके लिए उपयोगी होगा

यदि आपके पास आज के ब्लॉग पोस्ट से संबंधित कोई प्रश्न हैं, तो कृपया उन्हें नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में पूछें, और हम जल्द से जल्द जवाब देने की पूरी कोशिश करेंगे।

Leave a Comment

error: Content is protected !!