बच्चा गिराने की टेबलेट नेम लिस्ट प्राइस – Bacha Girane Ka Medicine Name

Bacha Girane Ka Medicine Name : पूरी दुनिया में कई महिलाएं ऐसी है जो  गर्भ गिराना चाहती है जिसे हम मेडिकल भाषा में अबॉर्शन (abortion) कहते हैं

कई महिलाओं को गर्भ गिराने का सही तरीका मालूम नहीं होता और वह बच्चा गिराने की टेबलेट का सेवन करते हैं कहीं दवाई ऐसी है जो महिलाओं के शरीर के लिए नुकसानदायक मानी जाती है।

आपको बता दें बच्चा गिराना आसान काम नहीं होता और हर महिला बच्चा गिराने से पहले अपने आने वाले फ्यूचर और अपने स्वास्थ्य के बारे में सोचती है।

अगर आप गर्भपात करवाना चाहते हैं तो आपको बाजार में आसानी से कई सारी दवाई मिल जाएंगी लेकिन इससे आपके स्वास्थ्य के लिए खतरा हो सकता है इसीलिए आपको गर्भपात कराने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए

अगर आप सही तरीकों से गर्भपात करना चाहते हैं तो हम इस लेख में आपको गर्भपात से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी साझा की है

इसके अलावा Bacha girane ki tablet name list price के बारे में भी जानकी विस्तार से जानकारी प्रदान की है जिसका आप को वर्तमान तथा भविष्य में जरूर फायदा होगा

अनुक्रम

Bacha Girane Ka Medicine Name, Price, List

 

Bacha Girane ka Medicine Name
bacha girane ki tablet name list price

 

प्रेगनेंसी रोकने के लिए टेबलेट (Pregnancy Rokne ke liye table)

अक्सर महिलाएं बच्चा गिराने के घरेलू नुस्खे अपनाती हैं,  इसके अलावा बाजार में मिलने वाली अबॉर्शन की दवाओं का सेवन करती है

इन दवाओं से प्रेगनेंसी रोकने में किसी भी तरह का फायदा या असर देखने को नहीं मिलता, उल्टा यह दवा महिलाओं के शरीर के लिए काफी नुकसानदायक और साइड इफेक्ट वाली मानी जाती है

लेकिन हमने प्रेगनेंसी रोकने के लिए Tablet नाम की List नीचे दी है। प्रदान की है जिसका इस्तिमाल ज्यादातर महिला बच्चा गिराने के लिए करती है

 

बच्चा गिरने की टेबलेट नाम और प्राइस

हमने आपको नीचे बच्चा गिराने की टेबलेट की जानकारी दी है

और इन दिनों टेबलेट का उपयोग काफी तेजी से हो रहा है, साथ ही इन दवाओं का साइड इफेक्ट्स नहीं है।

वैसे आपको बता दें यह दवा आपको आसानी से किसी भी मेडिकल स्टोर में नहीं उपलब्ध होती हैं

इसके अलावा इन दवाओं को ऑनलाइन खरीदना गैरकानूनी माना जाता है

अगर आप कानूनी तौर पर गर्भपात कराते हैं तो आपको अपने डॉक्टर की सलाह लेकर उसके दिशा निर्देश अनुसार गर्भपात करा सकते हैं

इसके अलावा अगर महिला पहले बच्चे की मां है और वह दूसरा बच्चा नहीं चाहती ऐसे में आप डॉक्टर से सलाह ले कर कानूनी तौर पर गर्भपात करवा सकते हैं।


क्लियर किट (Clear kit) – Bacha girane ki Medicine

क्लियर किट टेबलेट में 5 गोलियां होती है और इसका असर आपको 24 से 36 घंटों के भीतर देखने को मिलता है

इसका सेवन करना आसान है आपको कभी भी भूखे पेट एक गोली का सेवन करना है।

इन पांच गोलियो में एक mifepristone होती हैं और 4 छोटी गोलियां misoprostal होती हैं।

इस मेडिसिंस का उपयोग 7 सप्ताह की प्रेगनेंसी रोकने के लिए किया जाता है।

 

साइड इफेक्ट्स (side effects)

ठंड लगना
डायरिया
पेट मे दर्द और ऐठन
योनि से ब्लीडिंग
बुखार आना
उल्टी होना
सिर दर्द
माइफप्रिस्टोन (200mg) + (मिसोप्रोस्टल 200mcg) कीमत । List Price :300₹

साइटोलॉग (Cytolog) – Bacha girane ki Tablet

साइटोलॉग का इस्तेमाल ज्यादातर प्रेगनेंसी रोकने के उपयोग किया जा रहा है

साइटोलॉग टेबलेट में 5 गोलियां होती है या टेबलेट 9 सप्ताह की Pregnancy को रोकने के लिए किया जाता है

और यह टेबलेट काफी लाभदायक भी मानी जाती है इसके अलावा इस टैबलेट का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से इस Table संबंधित सलाह जरूर लें।

इस टेबलेट का सेवन आप भूखे पेट दिन में कभी भी कर सकते हैं। इस दवा का असर आपको 24 दिनों के भीतर देखने को मिलेगा।

 

साइड इफेक्ट्स(side effects)

पेट दर्द
सिर दर्द
योनी में ब्लीडिंग होना।
पेशाब में जलन
बुखार आना
डायरिया
ठंड लगना
पेट दर्द
मिसोप्रोस्टल (200mcg) Price vv: 75.56₹

सेफ अबॉट किट (Safe abort kit) गर्भपात कराने की टेबलेट

सेफ अबॉट किट का उपयोग पूरे भारत में काफी तेजी से किया जा रहा है, और प्रेगनेंसी रोकने वाली महिलाओं में इन टेबलेट की काफी मांगे हैं

और यह बाकी दवाओं से काफी सुरक्षित भी मानी जाती है इसका असर आपको बहुत जल्द बाकी दवाओं से जल्दी देखने को मिलता है

हालांकि इस दवा का सेवन करना स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है या नहीं यह मानना सही नहीं है,

इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर या मेडिकल क्षेत्र से जुड़े अपने करीबी की सलाह जरूर ले।बच्चा गिराने से क्या लावा बच्चा गिराने के अलावा इस दवा का इस्तेमाल इमरजेंसी कंट्रासेटिव के रूप में भी किया जाता है


साइड इफेक्ट्स(side effects)

पेट दर्द
सिर दर्द
योनी में ब्लीडिंग होना।
पेशाब में जलन
बुखार आना
डायरिया
ठंड लगना
पेट दर्द
माइफप्रिस्टोन (200mg) + (मिसोप्रोस्टल 200mcg)  Price :390₹

मिफ्टी कीट (mifty kit) प्रेगनेंसी रोकने की टेबलेट

इस टेबलेट में 5 गोलियां होती है जिनको आप भूखे पेट सेवन कर सकते हैं

यह बच्चा गिराने के लिए या गर्भपात के लिए काफी कारगर मानी जाती है

आप पहला डोज लेने के बाद 24 या 36 घंटो के भीतर आपको इस दवा का असर देखने को मिलेगा

इस दवा का सेवन  7 सप्ताह के गर्भ को गिराने के लिए काफी फायदेमंद मानी जाती है

हालांकि इस दवा के कुछ साइड इफेक्ट भी है इसीलिए इसका सही तरीको से सेवन करने के लिए पहले डॉक्टर की सलाह लेना चाहिए

और इसको सही तरीके से सेवन करने के बारे में जानना बेहद जरूरी होता है इसीलिए जब भी आप गर्भपात के लिए इस दवा का सेवन करें उससे पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें


साइड इफेक्ट्स(side effects)

पेट दर्द
सिर दर्द
योनी में ब्लीडिंग होना।
पेशाब में जलन
बुखार आना
डायरिया
ठंड लगना
पेट दर्द
मिसोप्रोस्टल (200mcg) Price :598.85₹

फाइब्रोइज 25mg टेबलेट | अबॉर्शन करने के लिए टेबलेट

फाइब्रोइज टेबलेट का इस्तेमाल शरुआती प्रेगनेंसी को रोकने के लिए किया जाता है

और यह काफी इफेक्टिव टेबलेट में से एक है और इन दिनों पूरे भारत में महिलाएं गर्भपात कराने के लिए इस टेबलेट का तेजी से उपयोग कर रही है।

अगर कोई महिला को 1 सप्ताह से लेकर 7 सप्ताह के भीतर का गर्भ है ऐसे में फाइब्रोइज टेबलेट का सेवन करने से आप गर्भ गिरा सकते हैं

इसके अलावा बच्चा गिराने की टेबलेट की लिस्ट में यह टेबलेट प्रथम स्थान पर मानी जाती है।

वैसे यह टेबलेट आपको आसानी से बाजार में नहीं मिलेगी। जब गर्भ गिराने की बात आती है ऐसी स्थिति में आपको डॉक्टर इस दवा का सेवन करने का सुझाव देते हैं

हालांकि गर्भ गिराना गैरकानूनी माना जाता है ऐसे में अगर आप सही तरीकों से गर्भ गिराना चाहते हैं तो आप अपने डॉक्टर की सलाह लेकर इस दवा का सेवन कर सकते हैं और गर्भपात आसानी से कर सकते हैं


साइड इफेक्ट्स(side effects)

पेट दर्द
सिर दर्द
योनी में ब्लीडिंग होना।
पेशाब में जलन
बुखार आना
डायरिया
ठंड लगना
पेट दर्द
माइफप्रिस्टोन (25mg)  Price:696.89₹

मिफेजेस्ट कीट (mifegest kit) बच्चा गिराने की दवा टेबलेट

इस टेबलेट में  5 गोलियां होती हैं। जिनमें आपको मिसोप्रोस्टल की 2 छोटी गोलीयां लेनी होती है

उसके बाद बची हुई दो गोली आप 24 घंटे में दोबारा ले सकते है आपको बता दें इस दवा के सेवन करने के बाद जैसे ही इसका असर देखने को मिलेगा तुरंत आपको रक्तस्राव जैसे लक्षण देखने को मिलेंगे।

वैसे घबराने की बात नहीं है लेकिन जब आप इस दवा का सेवन करते हैं तब ऐसा लक्षण देखना आम बात है फिर भी आप चाहे तो अपने डॉक्टर को इस दवा के बारे में बताकर इस्तेमाल कर सकते हैं


साइड इफेक्ट्स(side effects)

पेट दर्द
सिर दर्द
योनी में ब्लीडिंग होना।
पेशाब में जलन
बुखार आना
डायरिया
ठंड लगना
पेट दर्द
माइफप्रिस्टोन (200mg) Price:433.83₹

गर्भपात (Miscarriage) के संकेत और लक्षण

Bacha Girane Ki medicine का उपयोग करने के बाद यह जानना भी जरूरी है कि गर्भपात हुआ है या नहीं

वैसे इसके कोई खास लक्षण नहीं होते लेकिन आप इसका पता आसानी से लगा सकते हैं

ज्यादातर बच्चा गिराने की टेबलेट काफी कारगर मानी जाती है

और इसका असर भी देखने को मिलता है अगर आप गर्भपात के लक्षण जानना चाहते हैं तो सबसे पहले यह जान लीजिए कि आपको कितने सप्ताह का गर्भ है उसके मुताबिक गर्भपात के लक्षण अलग-अलग देखने को मिलते हैं

जैसा कि कुछ मामलों में योनि में से ब्लीडिंग होने लगती है और कुछ मामलों में उल्टियां होती है वैसे इसके अलावा भी कहीं साधारण लक्षण देखने को मिलते हैं

जैसे गर्भपात होने के कारण आपके शरीर में कमजोरी,थकान महसूस होती है कई महिलाएं ऐसी है जिन्हें गर्भपात के बाद दो या तीन बार योनि से रक्त स्राव होता है यह मेडिकल भाषा में मुख्य लक्षण माना जाता है।

 

अबॉर्शन पिल्स (Abortion Pill) के साइड इफेक्ट्स

जैसा कि हमने आपको पहले बताया अबॉर्शन पिल्स का सेवन करना कहीं महिलाओं के लिए फायदेमंद तो कुछ महिलाओं के लिए नुकसानदायक भी माना जाता है

वैसे एबॉर्शन टेबलेट का उपयोग करने का साइड इफेक्ट महिलाओं के स्वास्थ्य पर निर्भर करता है

इसके अलावा उनके शरीर पर निर्भर करता है और यह भी जानना बेहद जरूरी होता है कि उनके पेट में कितने दिनों का या कितने सप्ताह का गर्भ है अगर 10 सप्ताह से अधिक का समय हो जाता है

ऐसे में गर्भपात की दवाओं का सेवन करना स्वास्थ्य के लिए काफी नुकसानदायक माना जाता है

और इसके साइड इफेक्ट भी काफी गंभीर होते हैं इसीलिए अगर आपको 10 सप्ताह से अधिक का प्रेगनेंसी समय है तो आप गर्भपात कराने से पहले डॉक्टर की मुलाकात जरूर लें और किसी भी दवाओं का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर को जरूर दिखाए।

वैसे हमने अबॉर्शन पिल्स के साइड इफेक्ट बारे में महत्वपूर्ण जानकारी बताइए है।

  • हेवी ब्लीडिंग
  • योनि में लगातार ब्लीडिंग
  • यूरिन इंफेक्शन
  • उल्टियां
  • पेनफुल यूरिनेशन
  • कमजोर और थकान महसूस होना।
  • एब्डोमिनल पेन
  • पेट दर्द और सिर दर्द

 

इसके अलावा साधारण से लेकर गंभीर लक्षण साइड में देखने को मिलते हैं जब भी आपको हमने ऊपर बताए गए लक्षण देखने को मिले तुरंत अपने डॉक्टर को दिखाएं और उनसे इलाज करवाएं।

 

मेडिकल अबॉर्शन – Medical Abortion

गर्भपात कराने का सबसे उत्तम उपाय मेडिकल अबॉर्शन है इसमें महिला का सुरक्षित गर्भपात किया जाता है

आपको बता दें मेडिकल अबॉर्शन में महिला के स्वास्थ्य की बारीकी से जांच की जाती है जैसे कि वह कितने सप्ताह से गर्भवती है

और उनके पेट में गर्भपात होने से किस तरह का नुकसान हो सकता है इसके अलावा मेडिकल अबॉर्शन डॉक्टर द्वारा उनके दिशा निर्देश अनुसार किया जाता है

हमारी माने तो मेडिकल अबॉर्शन बाकी दवाओं की बजाए यह बेहतर विकल्प है इसमें आपके स्वास्थ्य पर किसी भी प्रकार का खतरा नहीं होता  वैसे हमने मेडिकल अबॉर्शन कैसे होता है उसके बारे में महत्वपूर्ण जानकारी नीचे बताइए है

 

मेडिकल हिस्ट्री चेकअप

मेडिकल अबॉर्शन सबसे पहले महिला की मेडिकल हिस्ट्री जांच की जाती है

जैसे कि उनको किसी भी प्रकार की पुरानी बीमारी है या नहीं उसके अलावा उनको पास्ट में कौन सी बीमारी हुई है

यह सारी हिस्ट्री चेक करने के बाद उनके कुछ मेडिकल रिपोर्ट किए जाते हैं

जिनमें यह पता लगाया जाता है कि उन्हें कितने सप्ताह की प्रेग्नेंसी है।

इसके अलावा ब्लड रिपोर्ट यूरीन रिपोर्ट जैसे कुछ महत्वपूर्ण रिपोर्ट किए जाते हैं इसके अलावा महिला को अपने पास्ट के मेडिकल हिस्ट्री के बारे में बताना पड़ता है

अगर मेडिकल हिस्ट्री चेकअप के लिए किसी भी टेस्ट करने की आवश्यकता नहीं होती तो महिला खुद डॉक्टर को मेडिकल हिस्ट्री के बारे में बता सकती है

मेडिकल हिस्ट्री चेकअप के बाद गर्भपात करना महिला के लिए सुरक्षित माना जाता है।


प्रेगनेंसी टेस्ट

गर्भपात से पहले प्रेगनेंसी टेस्ट होना बेहद जरूरी होता है

क्योंकि इनसे यह पता चलता है कि महिला को कितने सप्ताह का गर्भ है और मेडिकल अबॉर्शन द्वारा गर्भपात कैसे करें,

इसके अलावा प्रेगनेंसी टेस्ट सुरक्षित गर्भपात करने के लिए काफी लाभदायक माना जाता है इससे महिला के स्वास्थ्य पर किसी भी प्रकार का खतरा नहीं होता और डॉक्टर प्रेगनेंसी रिपोर्ट के अनुसार सुरक्षित गर्भपात करने में सफल होते है


गर्भावस्था उम्र

अबॉर्शन करवाने के लिए गर्भावस्था उम्र को जानना बेहद जरूरी होता है

क्योंकि इससे आपके डॉक्टर कुछ मेडिकल रिपोर्ट करते हैं और उस मेडिकल रिपोर्ट के आधार पर आपका अबॉर्शन करते हैं

यह मेडिकल अबॉर्शन करने का तीसरा सबसे अहम हिस्सा है गर्भावस्था उम्र के आधार पर अबॉर्शन करना काफी सुरक्षित माना जाता है

गर्भावस्था उम्र जांच करना इसलिए जरूरी है क्योंकि इससे महिला के स्वास्थ्य पर किसी भी प्रकार का खतरा नहीं होता है और सुरक्षित अबॉर्शन किया जाता है।

 

कब गर्भपात नही करना चाहिए

गर्भपात कराने का एक समय सीमित होता है उस समय अवस्था के दौरान अगर आप गर्भपात करते हैं तो आपका गर्भपात सफलतापूर्वक हो जाता है

और अगर आप बिना गर्भावस्था की जांच किए बिना गर्भपात कराने की दवाओं का सेवन करते हैं

या फिर बच्चा गिराने की टेबलेट का सेवन करते हैं तो यह आपके स्वास्थ्य के लिए बेहद खतरनाक साबित हो सकता है इसीलिए कुछ महत्वपूर्ण बातों को ध्यान में रखना बेहद जरूरी है

  • सबसे पहले आपको इस बात का ध्यान रखना है कि आपके पेट में कितने सप्ताह का गर्भ है आप अपने गर्भावस्था समय अनुसार गर्भपात करवाना सुरक्षित माना जाता है।
  • अगर आपके पेट में 10 सप्ताह से अधिक का गर्भ है और ऐसे में अगर आप गर्भपात कराते हैं तो यह आपके स्वास्थ्य के लिए काफी खतरनाक माना जाता है ऐसे में आपको मेडिकल अबॉर्शन की आवश्यकता होगी।
  • अगर आप दूसरी बीमारियों की दवाओं का सेवन कर रहे हो और ऐसी स्थिति में अगर आप गर्भपात या बच्चा गिराने की गोलियों का इस्तेमाल करते हैं तो यह आपके स्वास्थ्य के लिए काफी हानिकारक माना जाता है।
  • गर्भावस्था के दौरान अगर आपकी योनि में से ब्लीडिंग हो रही है और पेशाब के दौरान जलन महसूस होती है ऐसी स्थिति में गर्भपात कराना काफी जोखिम माना जाता है ऐसी स्थिति में आपको अपने डॉक्टर को दिखाना चाहिए और उनसे बेहतर उपाय करना चाहिए।

 

गर्भपात के प्रकार – Types Of Abortion in Hindi

हमने आपको शरूआत में बच्चे गिराने टेबलेट के बारे में विस्तार से जानकारी बताएं इसके अलावा एबॉर्शन से जुड़े महत्वपूर्ण जानकारी बताएं  और Bacha Girane Ka Medicine Name भी बताया अब आपको गर्भपात के मुख्य प्रकार के बारे मे बताने जा रहे हैं।


अधूरा गर्भपात: इस प्रकार में महिला में गंभीर लक्षण देखने को मिलते हैं जैसे कि उनकी योनि में भारी ब्लीडिंग होती है और पेट के निचले हिस्से में लगातार तेज दर्द होता है अधूरा गर्भपात में भ्रूण का कुछ हिस्सा ही बाहर निकलता है। और कभी कभी अधूरा गर्भपात में महिला का इलाज अल्ट्रासाउंड से किया जाता है।


मिस्ड गर्भपात : यह सुरक्षित प्रकार माना जाता है इसमें इस प्रकार में ब्लीडिंग नही होती और भ्रुण गर्भ में ही रहता है। महिला जब गर्भपात करवाती हैं तो मिस्ड गर्भपात में उनके गर्भाशय में ही भ्रूण रहता है और इसका पता लगाने के लिए डॉक्टर अल्ट्रासाउंड के माध्यम से भ्रूण के विकार की जांच करते हैं


पूर्ण गर्भपात: गर्भपात के इस प्रकार में महिला को तेज दर्द है सामना करना पड़ता है और पेट में तेज दर्द के साथ-साथ ब्लीडिंग होता है रक्तस्राव होना पुणे पूर्ण गर्भपात का लक्षण है इसमें भ्रूण पूरी तरह बाहर निकल जाता है।


यह गर्भपात के मुख्य प्रकार है और इस प्रकार में अलग-अलग लक्षण देखने को मिलते हैं लेकिन रक्तस्राव होना सभी प्रकार में आम लक्षण माना जाता है।

 

Bacha Girane Ka Medicine का उपयोग करने की वजह

आप सब जानते हैं कि बच्चा गिराना गैर कानूनी है लेकिन आपको बता दें कहीं मायनों में बच्चा गिराना बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है वह इसलिए क्योंकि इसके पीछे का कारण साफ होता है

और कारण लीगल माना जाता है पूरे विश्व में कहीं महिलाएं रोज सैकड़ों की तादाद में गर्भपात करवाने का आंकड़ा दर्ज होता है

कई रिसर्च में भी सामने आया है महिला खुद की मर्जी से गर्भपात या बच्चा गिराती है तो उसे किसी भी मायने में गैर कानूनी नहीं माना जाता हमने नीचे बच्चा गिराने की टेबलेट उपयोग करने की कुछ वजह बताएं है

  • अनचाही गर्भवस्था : जब कोई महिला पहले से बच्चों की माँ है और दूसरा बच्चा पैदा करना नहीं चाहती ऐसी स्थिति में वह गर्भपात कर सकती है और बच्चे गिराने की दवाओं का सेवन कर सकती है।
  • यौन उत्पीड़न या रेप जैसी स्थिति में महिला गर्भपात के लिए बच्चा गिराने की दवाओं का सेवन कर सकती है या एक तरह से कानून रूप से सही माना जाता है और अबॉर्शन टेबलेट इस्तेमाल करने की अनुमति उन्हें कानून देता है।

 

बच्चा गिराने की मेडिसिंस से नुकसानBacha Girane Ka Medicine ke nuksaan

आपको बता दें बच्चा गिराने की टेबलेट में कई तरह के केमिकल प्रवाही पाए जाते हैं, जिसका सीधा असर आपके गर्भाशय में पड़ता है

कुछ महिलाओं को बच्चा गिराने की टेबलेट से किसी भी तरह नुकसान देखने को नहीं मिलता है लेकिन कुछ महिलाएं ऐसी है जो इन दवाओं का सेवन करने से उन्हें कहीं समस्या पैदा होती है

वैसे अगर आप बच्चा गिराने की टेबलेट मेडिसिन इस्तेमाल करना चाहते हैं तो सबसे पहले आप अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लीजिए।

अगर आप गर्भपात के लिए टेबलेट का इस्तेमाल करते हैं तो हमने नीचे उनके कुछ नुकसान के बारे में भी जानकारी बताइ है।

  • शरीर में कमजोरी और थकान महसूस होना
  • कभी कबार महिला में गंभीर समस्या पैदा हो सकती है जैसा कि अगर वह गलत गर्भपात की टेबलेट का सेवन करने से महिला फ्यूचर में मां न बनने जैसी समस्या भी हो सकती है
  • अगर आप बिना डॉक्टर को दिखाएं अबॉर्शन की टेबलेट का सेवन करते हैं और आपको इनको सेवन करने का तरीका पता नहीं है फिर भी आप गर्भपात की टेबलेट का सेवन करते हैं तो यह आपके स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक हो सकता है और इस वजह से आपको दूसरी बीमारी होने की संभावना भी बढ़ जाती है।

FAQ:- Bacha Girane Ka Medicine (Tablet) Name List

सवाल : गर्भपात कराने की मेडिसिन को सेवन करना सही विकल्प है

कई महिलाएं गर्भपात पिल्स जैसी मेडिसिन का इस्तेमाल करती हैं। फिर भी अपने डॉक्टर की सलाह जरुर ले।

सवाल : कब गर्भपात मेडिकल ला सेवन करना जोखिम माना जाता है

गर्भावस्था का दस सप्ताह से अधिक समय हो चुका है ऐसे में गर्भपात मेडिकल का सेवन नही करना चाहिए।

सवाल : अबॉर्शन कराने में डॉक्टर क्या मेरी बेहतर मदद करेगा

जी हाँ! अगर आप सही मायनों में अबॉर्शन करवाना चाहते हैं तो डॉक्टर आपको सुरक्षित अबॉर्शन करने में मदद करेगे।

सवाल : बच्चा गिराने की मेडिसिन कितनी फायदेमंद होती है

यह आपके गर्भवस्था पर निर्भर करता है और कई मामलों में यह काफी फायदेमंद मानी जाती है।

 

Disclaimer

इस लेख में दी गई जानकारी विभिन्न विशेषज्ञों के अध्ययन और राय के साथ-साथ आम आदमी के स्वास्थ्य पर आधारित है। इस जानकारी को देने का उद्देश्य विषय से परिचित होना है। पाठकों को अपने स्वास्थ्य के आधार पर कोई भी निर्णय लेने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लेनी चाहिए।

 

Conclusion

इस लेख में आपने Bacha Girane Ka Medicine Name के बारे में जाना आशा करते है | आप bacha girane ki tablet name list price क्या है जैसे महत्वपूर्ण विषय की पूरी जानकारी जान चुके होंगे।

आपको लगता है कि इसे दूसरे के साथ भी Share करना चाहिए तो इसे Social Media पर सबके साथ इसे Share अवश्य करें।

और इस विषय संबंधित कोई भी सवाल आप के मन में होगा तो निचे कमेंट में बताये हम आप के कमेंट का जरूर जवाब देंगे | शुरू से अंत तक इस लेख को पढ़ने के लिए तहेदिल से शुक्रिया…

 

error: Content is protected !!