घबराहट का रामबाण इलाज | Ghabrahat ka ramban ilaj

घबराहट का रामबाण इलाज – घबराहट जिसे हम एंग्जायटी (Anxiety) भी कहते हैं यह एक प्रकार का मानसिक विकार है यदि अप देखेंगे तो इससे ग्रसित रोगियों की संख्या दिनों दिन बढती ही जा रही है

यदि आप इसका समय पर इलाज नहीं करवाते हैं तो यह धीरे-धीरे गंभीर रूप धारण कर सकता है घबराहट एक ऐसी समस्या है जिस पर यदि आप ध्यान नहीं देते हैं तो इससे आपको आगे जाकर काफी मुश्किल हो सकती है

हालाँकि इसे कंट्रोल करने के लिए कई दवाइयां तथा अन्य कई प्रकार के उपचार पहले से ही मौजूद हैं परन्तु यहाँ पर ध्यान देने वाली बात ये है कि यदि आप दवाओं पर ज्यादा समय तक निर्भर रहते हैं तो यह एक नशे की लत का रूप ले सकती है तथा इससे आपको कई परेशानियाँ भी हो सकती हैं

घबराहट या एंग्जायटी एक ऐसी समस्या है जिससे हर एक उम्र का व्यक्ति आपको पीड़ित देखने को मिल जाएगा इसलिए आज हम आपको घबराहट से छुटकारा पाने के लिए घबराहट का रामबाण इलाज के बारे में सारी जानकारियां देंगें

दुनिया में हर व्यक्ति को अपने जीवन में कोई न कोई या किसी न किसी प्रकार की उदासी या तनाव ज़रूर होता है जिससे जल्दी उभर पाना उसके लिए मुश्किल होता है वास्तव में विज्ञान कहता है कि घबराहट का थोडा सा तनाव हर किसी व्यक्ति के लिए सामान्य ही माना जाता है तथा ये व्यक्ति के दिन-प्रतिदिन के जीवन का हिस्सा होता है

 

 Ghabrahat ka ramban ilaj
Ghabrahat (Anxiety) ka ramban ilaj in Hindi

 

एंग्जायटी या घबराहट कई कारणों से हो सकता है जैसे कभी किसी ज़रूरी मीटिंग को अटेंड करना हो, या फिर बहुत सी भीड़ के सामने आपको कोई स्पीच देनी हो तथा और भी ऐसी बहुत सी स्थितियां होती हैं जब मनुष्य घबरा जाता है इसे सोशल एंग्जायटी के नाम से भी जाना जाता है

प्रतिदिन योग या मैडिटेशन करके भी आप घबराहट को काफी हद तक काबू में कर सकते हैं इसके और भी अनेकों बहुत से प्रभावशाली इलाज हैं जिनसे आप घबराहट को कम या ख़त्म कर सकते हैं

इसलिए आज हम आपको बताने जा रहें है घबराहट का रामबाण इलाज, तो यदि आप इस रामबाण इलाज के बारे में जानना चाहते हैं जिससे आप घबराहट को कम कर सकते हैं तो इसके लिए हमारा पूरा आर्टिकल अवश्य पढ़ें

 

अनुक्रम

घबराहट का रामबाण इलाज – Ghabrahat ka ramban ilaj

 

घबराहट का रामबाण इलाज

 

घबराहट के दौरान अचानक ठण्ड या गरमी का अहसास होना, झटके जैसा महसूस होना,  मुंह सूखना, तथा पेट से जुड़ी कई दिक्कतें भी एक साथ हो सकती हैं तो अगर आपको लगातार घबराहट की समस्या हो रही है तो इसे बिलकुल भी हल्के में न लें

हालाँकि हमेशा घबराहट का संकेत बुरे हालातों की तरफ ही नहीं होता है बल्कि कुछ स्थितियों में इससे आप जीवन के खतरों से भी अवगत होते हैं यह आपको हमेशा तैयार रहने और संगठित रहने के लिए भी प्रेरित करता है तथा साथ ही यह जोखिमो की गणना करने में भी आपकी मदद करता है

परन्तु जैसा आपने देखा होगा कि कई बार घबराहट आपके स्वास्थ्य के लिए काफी हानिकारक हो सकती है तो इससे पहले कि आपकी घबराहट आगे चलकर कोई बड़ी बीमारी बने इसका सही समय पर इलाज कर लेना आवश्यक है हमारे द्वारा घबराहट का रामबाण इलाज नीचे विस्तार से दिया गया है

 

1) घबराहट से उपचार के लिए करें नियमित रूप से योग और व्यायाम


घबराहट का रामबाण इलाज


व्यायाम करने से व्यक्ति का शरीर चुस्त और तंदरुस्त रहता है यह शरीर को स्वस्थ रखने का एक आवश्यक उपाय है व्यायाम कई प्रकार के होते हैं जैसे दौड़, खेल, क्रिकेट, बैडमिंटन आदि खेल व्यायाम के ही कई रूप है घबराहट को ठीक करने के लिए प्रतिदिन व्यायाम या योग आपके लिए फायदेमंद हो सकता है

यदि आप नियमित रूप से व्यायाम करते हैं तो ऐसा करने से आपके शरीर में मेटाबॉलिज्म बेहतर होने के साथ ही कैलरी भी तेजी से बर्न होती है और इससे आपका वजन भी नियंत्रण में रहता है

नियमित रूप से व्यायाम करना व्यक्ति के शरीर को ही नहीं बल्कि उसके दिमाग को भी तेज रखने में उपयोगी होता है नियमित व्यायाम की मदद से कई बिमारियों को नियंत्रण में रखा जा सकता है जैसे तनाव, बेचैनी, सर दर्द जैसी कई समस्याएँ तथा इन समस्याओं को व्यायाम से आप ठीक भी कर सकते हैं

क्योंकि नियमित व्यायाम से व्यक्ति की मांसपेशियां तो स्वस्थ रहती ही हैं साथ ही इससे शरीर में खून का बहाव भी बेहतर तरीके से होता है जिससे व्यक्ति स्वस्थ बना रहता है तथा वह अनेक प्रकार की बीमारियाँ से दूर रहता है

इसलिए यदि आप प्रतिदिन योग या व्यायाम करते हैं तो इससे आप घबराहट की समस्या से भी दूर रहते हैं

प्रतिदिन व्यायाम घबराहट का रामबाण इलाज में से ही एक सबसे असरदार इलाज है, जिससे न सिर्फ घबराहट की ही समस्या दूर होती है बल्कि व्यायाम और योग से और भी समस्याएं दूर होती हैं

 

2) बादाम का सेवन भी घबराहट और चिंता को करता है कम


घबराहट का रामबाण इलाज


घबराहट के उपचार के लिए बादाम को सबसे अच्छा प्राकृतिक घरेलु उपचार माना जाता है, क्योंकि बादाम में अनेक प्रकार के आवश्यक पोषक तत्त्व पाए जाते हैं जो आपको घबराहट से छुटकारा दिलाने में मदद करते हैं इन्ही में से एक होता है ओमेगा-3 फैटी एसिड, यह सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद माना जाता है

बादाम में और भी अनेक प्रकार के तत्त्व पाए जाते हैं जो कि मनुष्य के शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होते है तथा जिनसे व्यक्ति का मानसिक विकास भी होता है याद करने की शक्ति तेज करने के लिए भी लोग बादाम का सेवन करते है आपने लोगों के मुंह से सुना भी होगा कि बादाम खाने से दिमाग तेज होता है

 

3) गर्म पानी से नहाने से बेचैनी और घबराहट से तुरंत राहत मिलती है


Ghabrahat ka ilaj


जब भी आपको घबराहट जैसा महसूस हो तो गर्म पानी से स्नान करें, ऐसा करने से आपको घबराहट कम करने में काफी मदद मिलेगी इसे घबराहट का रामबाण इलाज में से ही सबसे बेहतर इलाज माना जाता है गर्म पानी से नहाने पर आपके दिमाग को शांति जैसा महसूस होता है

इसके अलावा गर्म स्नान व्यक्ति के दिमाग को शांत रखने और बेहतर एवं सुखदायक भावनाओं के साथ तंत्रिका को आराम देने का भी सबसे अच्छा समाधान माना जाता है गर्म पानी से स्नान आपके लिए वैसे भी फायदेमंद साबित हो सकता है इससे आपको तरोताजगी महसूस होगी तथा आप किसी काम को और भी बेहतर ढंग से कर सकेंगे

इसलिए जब भी आपको घबराहट जैसा महसूस हो तो गर्म पानी से स्नान ज़रूर करें पर यदि फिर भी आपकी घबराहट सही नहीं होती है तो हमारे द्वारा नीचे और भी तरीके दिए गए हैं जिससे आप घबराहट को कम सकते हैं

 

4) सीने में घबराहट होने पर धीरे-धीरे सांस लेने का करें प्रयास


घबराहट का रामबाण इलाज


यदि आपको घबराहट हो रही है तो ऐसे में कोशिश करें कि आप जोर-जोर से सांस न लें तथा साँसों को नियंत्रण में रखने की कोशिश करें क्योंकि घबराहट में धीरे-धीरे साँसें लेकर आप अपनी घबराहट को थोडा सा काबू में रख सकते हैं

यदि आपकी घबराहट थोड़ी सी भी नियंत्रित हो जाएगी तो फिर इससे आपकी परेशानी कम होगी तथा आपको दवाइयां लेने या फिर डॉक्टर से संपर्क करने के लिए भी समय मिल जाएगा

इसलिए जब भी आपको घबराहट हो तो सबसे पहले धीरे-धीरे सांस लेने का प्रयास करें, इससे यदि आपकी घबराहट आम होती है तो ऐसा करने से ठीक भी हो सकती है

 

5) लोगों से मिलें-जुलें, इससे भी कम होती है शरीर में घबराहट


घबराहट का रामबाण इलाज


घबराहट होने पर आपको अधिक से अधिक लोगों से मिलना जुलना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से आपका ध्यान बट जाता है पर यदि आप अकेले रहते हैं तो इससे आपकी एंग्जायटी तथा बेचैनी बढती ही है तो यदि आप घबराहट जैसा महसूस कर रहें हों तो ऐसे में अपने किसी करीबी या फिर किसी दोस्त से बात करें या फिर उससे मिले

ऐसा करके आपको अच्छा महसूस होगा और आपकी घबराहट भी कम होगी क्योंकि खुश रहने वाले व्यक्तियों को घबराहट जैसी समस्याओं का सामना कम करना पड़ता है

 

6) घबराहट का इलाज है दूसरों के बारे में  चिंता ना करना तथा अपने स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान देना


Ghabrahat ka Ayurvedic ilaj in Hindi

 


अक्सर देखा जाता है कि जो लोग दूसरों की चिंता अधिक करते हैं उन्हें कई प्रकार के मानसिक तनाव का सामना करना पड़ता है क्योंकि चिंता करने से किसी भी समस्या का हल नहीं निकलता है ऐसा भी नहीं है कि आपको दूसरों के बारे में चिंता ही नहीं करनी चाहिए, आप अपने परिवार या भाई-बहनों की चिंता कर सकते हैं

परन्तु उससे भी ज्यादा जरूरी है आपका स्वास्थ्य, क्योंकि यदि आप ही स्वस्थ नहीं रहेंगे तो आप अपने अपनों का ध्यान कैसे रख पाएँगे तथा उनकी चिंता कैसे कर पाएँगे इसलिए सबसे ज़रूरी है कि आप अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें तथा फ़ालतू की चिंता करना कम कर दें क्योंकि चिंता करने से वैसे भी किसी समस्या का समाधान नहीं मिलता है

इसलिए हमेशा खुश रहें तथा चिंता करने की बजाय समस्या का समाधान ढूंढने की कोशिश करें

 

7) अश्वगंधा का प्रयोग भी होता है घबराहट के लिए असरदार


Ashwagandha

 


यदि आप किसी भी बीमारी का पतंजलि इलाज ढूंढने जाएँगे तो आपको उसमें अश्वगंधा ज़रूर देखने को मिलेगा, यह एक शक्तिशाली दवाई मानी जाती है जो कि तनाव और घबराहट को दूर करने में मदद करता है इससे व्यक्ति के होर्मोन्स नियंत्रित होते हैं तथा शरीर को स्वस्थ बनाने में भी इससे मदद मिलती है

अश्वगंधा का सेवन करने से नींद में भी सुधार आता है यह एक ऐसी जड़ी बूटी है जो व्यक्ति के डिप्रेशन को भी दूर करने में काफी मदद करती है

 

8) साबुत अनाज के सेवन से भी कर सकते हैं  बेचैनी और घबराहट से बचाव


घबराहट का रामबाण इलाज


साबुत अनाज का सेवन हर बीमारी के लिए फायदेमंद होता है यही वजह है जो लोग साबुत अनाज का सेवन करते हैं उन लोगों में घबराहट और बेचैनी की समस्या अक्सर या तो कम देखी जाती है या फिर बिलकुल ही नहीं देखी जाती क्योंकि साबुत अनाज का सेवन हर किसी की सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद माना जाता है

नियमित रूप से साबुत अनाज का प्रयोग करने से लोगों में घबराहट की समस्या दूर होती है तथा ऐसा करके आप जल्द ही घबराहट से राहत पा सकते हैं

अब तक हमने घबराहट का रामबाण इलाज in hindi के बारें में विस्तार से पढ़ा, नीचे घबराहट के कुछ और रामबाण इलाजों के बारे में हमने बताया है उन्हें भी ज़रूर पढ़ें

 

9) चॉकलेट खाने से भी दूर होती है घबराहट


घबराहट का रामबाण इलाज


कुछ लोगों को चॉकलेट खाने से भी घबराहट से राहत मिलती है, चॉकलेट तनाव को कम करने में मदद करती है इसे खाने से दिमाग में कोर्टिसोल नामक हार्मोन का स्तर कम हो जाता है जिसके कारण लोगों को घबराहट नहीं महसूस होती और घबराहट की समस्या से छुटकारा मिलता है

इसलिए जिन व्यक्तियों को भी घबराहट और तनाव की समस्या रहती है उन्हें भी चॉकलेट का सेवन जरूर करना चाहिए

 

10) अपना मनपसंद संगीत सुनें, इससे भी घबराहट से राहत मिलती है


घबराहट का रामबाण इलाज


संगीत सुनना बहुत से लोगों को पसंद होता है तथा इसके कई फायदे भी होते हैं जैसे संगीत सुनने से स्ट्रेस कम होता है तथा इससे व्यक्ति की घबराहट भी कम होती है क्योंकि संगीत में ऐसी हीलिंग पॉवर होती है जिससे आपका तन और मन दोनों ही ताजगी जैसा महसूस करते हैं इसलिए यदि आपको घबराहट होती है तो संगीत सुनें इससे आपको घबराहट कम करने में कुछ मदद मिलेगी

ऊपर हमने घबराहट का रामबाण इलाज in hindi के बारे में पढ़ा, ये तो थे घबराहट को कम करने के लिए कुछ इलाज पर आगे हम देखेंगे कि घबराहट किन कारणों से होती है तथा घबराहट के लक्षण क्या हैं इन सबके बारे में आगे हम विस्तार से सारी जानकारियां प्राप्त करेंगे

 

घबराहट का आयुर्वेदिक इलाज – Ghabrahat ka Ayurvedic ilaj in Hindi

हमने घबराहट का रामबाण इलाज के बारे में आपको ऊपर सब कुछ विस्तार से बताया है बहुत से लोग घबराहट को आम बात समझते हैं ऐसा है भी और नहीं भी, क्योंकि कई केसों में घबराहट आम ही होता है

परन्तु कुछ केस ऐसे भी होते हैं जिनमें घबराहट से व्यक्ति के स्वास्थ्य पर काफी बुरा प्रभाव पड़ता है आगे हम घबराहट के इलाज के लिए ही कुछ आयुर्वेदिक इलाजों के बारे में पढेंगे, घबराहट के आयुर्वेदिक इलाज निम्न दिए गए हैं

  • नीम्बू बाम
  • लैवेंडर
  • कैमोमाइल चाय 
  • ग्रीन टी
  • कावा

ऊपर दी गयी चीजों का उपयोग करके आप घबराहट का इलाज कर सकते हैं तथा इससे आप घबराहट से निदान पा सकते हैं इन आयुर्वेदिक इलाजों को भी घबराहट का रामबाण इलाज माना जाता है घबराहट के इन इलाजों को देखने के बाद अब हम देखेंगे कि घबराहट किन कारणों तथा किन परिस्थितयों के कारण होता है

 

घबराहट के कारण – Ghabrahat ke karan

घबराहट एक सामान्य प्रतिक्रिया होती है जो किसी अज्ञात, तनावपूर्ण या डराने वाली स्थिति में होती है उदाहरण के लिए आप देख सकते हैं कि जैसे किसी नौकरी के लिए इंटरव्यू देने जाना होता है तो इससे पहले अक्सर लोगों को घबराहट होती है ऐसी स्थिति में घबराहट महसूस करना आम बात होती है

आमतौर पर ऐसा देखा गया है कि लोगों को घबराहट चिंता के कारण होती है घबराहट के कारण पता लगने के बाद आप यदि चाहें तो घबराहट के आयुर्वेदिक इलाज भी कर सकते हैं जिनके बारे में हमने आपको ऊपर बताया है

निम्न दी गयी स्थितियों में आप घबराहट या बेचैनी महसूस कर सकते हैं

  • अनजान व्यक्तियों से मिलने में
  • नौकरी के लिए इंटरव्यू देने में
  • जनता के सामने कोई भाषण देना हो या प्रदर्शन करने में
  • परीक्षा के समय घबराहट होना
  • किसी प्रकार की चिंता या विकार होना
  • थायराइड बढ़ना आदि

घबराहट के इलाज के लिए घबराहट का रामबाण इलाज ऊपर दिए गए हैं घबराहट होने पर उन इलाजों को करके आप घबराहट को कम कर सकते हैं

 

घबराहट के लक्षण – Ghabrahat ke lakshan

घबराहट की समस्या आज कल के लोगों में बहुत ही आम बात हो गयी है घबराहट होने पर इसके कई सारे लक्षण आपको देखने को मिलते हैं यदि आपको इसके लक्षण पता होंगे तो इसका इलाज करने में आपको आसानी होगी तथा आप घबराहट की समस्या से आसानी से छुटकारा पा सकेंगे इसलिए घबराहट के लक्षण जो कि नीचे दिए गए हैं उन्हें भी अवश्य पढ़ें

  • पसीना आना घबराहट का एक लक्षण हैं अक्सर घबराहट होने पर व्यक्ति को बहुत ज्यादा पसीना आने लग जाता है
  • घबराहट होने पर अचानक ठण्ड या गर्मी का अहसास होने लगता है तो यदि आपको अचानक से ठण्ड या तेज गर्मी लगने लग जाती है तो ये घबराहट का ही लक्षण है ऐसा होने पर डॉक्टर से संपर्क करें तथा उनके कहे अनुसार ही आवश्यक दवाईयों का सेवन करें
  • जी मचलाने को भी घबराहट का ही एक लक्षण माना जाता है जी मचलने पर आप किसी खट्टे चीज का सेवन कर सकते हैं जैसे कि नीम्बू, संतरा आदि
  • घबराहट होने पर कई लोगों को चक्कर आने लगते हैं परन्तु जो लोग शारीरिक रूप से कमजोर होते हैं उन्हें चक्कर के साथ और भी अधिक दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है
  • साँस का फूलना भी घबराहट का ही एक लक्षण है, कई बार घबराहट होने पर व्यक्ति को सांस लेने में भी कठिनाई आने लगती है तथा उसकी साँसे फूलने लग जाती हैं ऐसे में किसी नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करें अन्यथा हो सकता है कि आपकी स्थिति और भी गंभीर हो जाये
  • घबराहट होने पर मांसपेशियों में तनाव महसूस होने लगता है तथा व्यक्ति की मांसपेशियां सही से काम नहीं कर पाती हैं
  • बेचैनी या परेशानी महसूस करना भी घबराहट का ही एक लक्षण है पर यदि आपको अधिक बेचैनी या परेशानी है तो ऐसे में अपने डॉक्टर से बात करें तथा उचित सलाह लेकर ही किसी चीज या दवाई का सेवन करें
  • घबराहट होने पर व्यक्ति को ध्यान केन्द्रित करने में परेशानी का सामना करना पड़ सकता है जिससे वो जिस काम को कर रहा होता है उस पर ध्यान नहीं लगा पता है ऐसे में ध्यान एक जगह केन्द्रित करने के लिए आपको योग करना चाहिये
  • घबराहट के दौरान कुछ लोगों को झटके जैसा महसूस होने लग जाता है ऐसा होने पर आप तुरंत किसी नजदीकी डॉक्टर को दिखाएं, जिससे कि डॉक्टर स्थिति गंभीर होने से पहले ही इसका इलाज कर सके
  • घबराहट होने पर पेट में खालीपन जैसा महसूस होना आम बात है अक्सर शारीरिक रूप से कमजोर लोगों को ऐसा महसूस होता है
  • ह्रदय की गति का बढ़ जाना भी घबराहट का ही एक लक्षण होता है पर ह्रदय की गति बहुत अधिक बढ़ने पर आपको काफी समस्या हो सकती है
  • घबराहट होने पर कमजोरी या थकान महसूस होने लगती है
  • पाचन क्रिया ख़राब होना भी घबराहट के ही लक्षणों में से एक है कई बार घबराहट होने का असर व्यक्ति की पाचन क्रिया पर भी पड़ता है

 

घबराहट से बचाव – Ghabrahat se bachav

घबराहट से बचने के लिए आप निम्नलिखित उपाय कर सकते हैं

  • घबराहट होने पर किताब पढना या नहाना आदि आराम देने वाले काम करें
  • शारीरिक रूप से सक्रिय रहने का प्रयास करें, व्यायाम सक्रिय रहने के लिए एक अच्छा विकल्प है घबराहट में नियमित रूप से व्यायाम आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है
  • सदैव संतुलित आहार का ही सेवन करें, स्वच्छ फलों, सब्जियों तथा साबुत अनाज का सेवन अधिक करें क्योंकि इन सबके सेवन से चिंता कम होती है तथा घबराहट की समस्या होने की आशंका कम रहती है
  • घबराहट होने पर अपने डॉक्टर से बात करें क्योंकि थैरेपी से आपको अपनी सोच को नियंत्रित करने में काफी मदद मिलती है
  • घबराहट होने पर अपने ध्यान को भटकाने की कोशिश करें क्योंकि इससे आपकी नकारात्मक भावनाएं कम होती हैं तथा आप थोडा सा अच्छा फील करते हैं ध्यान भटकाने के लिए आप बहुत से कार्य कर सकते हैं जैसे टी.वी देखना, खेलना आदि
  • धूम्रपान करना छोड़ें तथा कैफीन का सेवन भी कम करें क्योंकि कैफीन और निकोटीन दोनों से ही घबराहट के लक्षण बढ़ने की आशंका रहती है
  • शरीर को आराम देने वाली तकनीकों का इस्तेमाल करें, इसके लिए आप ध्यान लगा सकते हैं या फिर योग कर सकते हैं
  • हमेशा भरपूर नींद लें क्योंकि पर्याप्त नींद से आपका स्वास्थ्य भी सही रहता है तथा आप तरोताजगी भी महसूस करते हैं पर यदि आपको सोने में कठिनाई आ रही है तथा आप सही से सो नही पा रहे हैं तो ऐसे में अपने डॉक्टर से संपर्क करें

 

FAQ’s – घबराहट का रामबाण इलाज

सवाल : सुबह-सुबह घबराहट क्यों होती है?

जब शरीर में विटामिन डी की कमी आती है तो इसका प्रभाव व्यक्ति के ब्लड प्रेशर पर भी पड़ता है इसकी कमी से ब्लड प्रेशर बिगड़ता है जिसकी वजह से आपको सुबह-सुबह घबराहट जैसी समस्या होती है

सवाल : घबराहट का रामबाण इलाज बताइए?

प्रतिदिन व्यायाम और योग को घबराहट का एक रामबाण इलाज माना जाता है

सवाल : रात को सोते समय घबराहट क्यों होती है?
हार्मोनल डिसबैलेंस-हार्मोनल डिसबैलेंस के कारण आपको सोते समय घबराहट या बेचैनी हो सकती है

सवाल : घबराहट बेचैनी में क्या खाना चाहिए?

घबराहट या बेचैनी में आप बादाम खा सकते हैं तथा चाय का भी सेवन कर सकते हैं

सवाल : घबराहट का एक लक्षण बताइए?

पसीना आना और सांस फूलना घबराहट का ही एक लक्षण हैं


Conclusion

आज हमने घबराहट का रामबाण इलाज, घबराहट के कुछ आयुर्वेदिक इलाज, इसके कारण, लक्षण तथा इससे बचाव के बारे में विस्तार से पढ़ा घबराहट की बीमारी वैसे तो आम मानी जाती है पपरन्तु इन छोटी छोटी समस्याओं को भी आपको नजरंदाज नहीं करना चाहिए 

घबराहट अधिक होने पर किसी डॉक्टर से सलाह लें तथा ऊपर दिए गए इलाजों को भी ध्यान में रखें जिससे आपको ये समस्या न हो, हम उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा आज का ये आर्टिकल पसंद आया होगा तथा इससे आपको महत्वपूर्ण जानकारियां भी प्राप्त हुई होंगी

error: Content is protected !!