दवा खाने के बाद कितनी देर बाद शराब पीना चाहिए

दवा खाने के बाद कितनी देर बाद शराब पीना चाहिए : अगर आप भी शराब के शौकीन हैं परंतु आपको कुछ बीमारियों के कारण विभिन्न प्रकार की दवाइयां चल रही है तो आप किस प्रकार से इस शराब का सेवन कर सकते हैं

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि अगर किसी को शराब की बहुत ज्यादा लत लगी हुई है तो इसे छोड़ना लगभग असंभव सा लगता है और वही अगर यह लत किसी ऐसा व्यक्ति को हो जो की दवाइयां भी ले रहा है तो यह काफी मुश्किल भी उत्पन्न कर सकती हैं

आज हर कोई व्यक्ति  एंटीबायोटिक जैसी सामान्य दवाइयों को लेता है और यदि उसे कोई गंभीर बीमारी है, तो वह अन्य दवाइयां भी लेता होगा तो ऐसे में उसका सवाल एक ही होता है

कि वह शराब का सेवन अपनी दवा लेने के कितने समय बाद कर सकता है और अगर वह ऐसा करता है तो क्या इससे उसके शरीर पर कोई नुकसान पहुंचेगा या नहीं

आज के इस लेख में हम इसी विषय के बारे में चर्चा करने वाले हैं कि क्या कोई मरीज शराब का सेवन कर सकता है तथा दवाई लेने के कितने समय बाद हम शराब पी सकते हैं इत्यादि

साथ आज के इस लेख का हमारा मुख्य विषय रहेगा दवा खाने के कितनी देर बाद शराब पीना चाहिए और इसका सेवन किस हद तक किया जाना चाहिए कि यह हमारे शरीर पर विपरीत प्रभाव ना डालें

 

Dawa khane ke kitne der baad sharab pina chahiye
Daru peene ke Baad Dava khane se kya hota hai

 

दवा खाने के बाद कितनी देर बाद शराब पीना चाहिए – Dawa khane ke kitne der baad sharab pina chahiye

 आमतौर पर कोई भी व्यक्ति दवा खाने के 4 से 5 घंटे बाद शराब का सेवन कर सकता है ,यदि वह सामान्य रोगी है तो और उसे कोई छोटी मोटी बीमारी है ! तो परंतु यदि वह किसी बड़ी बीमारी से ग्रसित है तो उसे इसका त्याग ही कर देना चाहिए

हालांकि कई साइंटिफिक एक्सपर्ट्स का मानना है कि कुछ सामान्य एंटीबायोटिक दवाओं पर एल्कोहल का कुछ असर नहीं होता है तो आप अपनी दवा लेने के तुरंत बाद भी शराब का सेवन कर सकते हैं

परंतु कुछ ऐसी दवाईया है जो हृदय संबंधी एवं शुगर संबंधी होती हैं उनके सेवन करने के तुरंत बाद शराब का सेवन नहीं किया जा सकता

सेफलोस्पोरिन (Cephalosporin) तथा डाइसलफिराम (Disulfiram) कुछ ऐसी दवाइयां हैं जो कि एल्कोहल के साथ मिलकर हमारे शरीर में विपरीत प्रतिक्रिया करती हैं और इसके परिणाम स्वरूप अगर हम इन दवाइयों का सेवन करने के पश्चात शराब का सेवन करते हैं

तो हमें उल्टी होना और चक्कर आना जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है

इन सभी छोटे लक्षणों के अलावा हमे सिर दर्द एवं हृदय संबंधी दर्द भी होने लगता है एवं इससे हमें सांस फूलने की समस्या का सामना भी करना पड़ सकता है

चूंकि डाइसलफिराम एक ऐसी दवाई है जिसका इस्तेमाल किसी रोगी को एल्कोहल छुड़ाने के लिए किया जाता है

और इस के इस्तेमाल करने के पीछे सभी डॉक्टरों का मुख्य उद्देश्य यह रहता है कि जब भी कोई शराबी शराब पिए तो उसे उल्टी हो जाए या फिर वह उसे अच्छी ना लगे

पर इस दवाई का सेवन करने के पश्चात यदि हम शराब का सेवन करेंगे तो यह निश्चित है कि हमें उल्टी होगी तथा हल्के सिर दर्द का सामना भी करना पड़ सकता है

इसीलिए यदि किसी को शराब पिने की लत है और वे दवा खाने के बाद शराब पीना चाहते है तो वे अपने डॉक्टर से इस बात की पृष्ठि कर लेना जरूरी है क्यों की दवा खाने के बाद शराब पिने के नुकसान भी है जिसे आप निचे दिए पॉइंट के माध्यम से पढ़ सकते है

 

दवा खाने के बाद शराब पीने से होने वाले नुकसान 

अगर कोई रोगी शराब पी रहा है तो वह सीधे तौर पर अपनी मौत को आमंत्रित कर रहा है क्योंकि उसे पहले से ही विभिन्न बीमारियों ने जकड़ रखा है उसके उपरांत भी वह अनेकों और बीमारियां ले रहा है

यदि दवा खाने के बाद शराब का सेवन किया जाता है तो इससे निम्नलिखित नुकसान व्यक्ति को उठाने पड़ सकते हैं :

  • शराब में पाए जाने वाले मुख्य  तत्व एल्कोहल में हिस्टामाइन पाए जाते हैं जो कि हमारे सूंघने की शक्ति को एवं हमारे स्वाद की शक्ति को भी कमजोर बना देते हैं जिससे हमें किसी वस्तु के स्वाद तथा उसकी गंद में परिवर्तन नजर आता है
  • यदि दवा खाने के बाद शराब का सेवन किया जाता है तो यह हृदय संबंधी तथा हमारे फेफड़ों संबंधी विभिन्न रोगों को उत्पन्न कर सकता है जिससे कि हमें सांस लेने में भी दिक्कत आ सकती हैं और कई बार हार्टअटैक के लिए भी यह कारण जिम्मेदार होते हैं
  • कुछ दवाइयों में इथेनॉल की मात्रा पाई जाती हैं और यदि उन को लेने के बाद शराब का सेवन किया जाए तो एल्कोहल के साथ इथेनॉल मिलकर शरीर पर विपरीत प्रभाव डालेंगे जिससे कि सिर दर्द तथा उल्टी इत्यादि समस्याएं हो सकती हैं
  • अगर कोई मरीज रात को शराब का सेवन करके उस पर अपनी दवाई का सेवन कर ले तो उसके अमाशय में बनने वाले हाइड्रोक्लोरिक एसिड की मात्रा भी बढ़ जाएगी और उसके पेट में गहरे छाले भी उत्पन्न हो सकते हैं
  • अगर पेरासिटामोल नामक एंटीबायोटिक दवाई को लेने के तुरंत बाद शराब का सेवन कर लिया जाए तो यह हमारे लीवर को पूर्णता खराब करने के लिए काफी हैं और यह हमारे लीवर पर सूजन भी उत्पन्न कर सकता है
  • यदि किसी मरीज द्वारा दवाई लेने के तुरंत बाद शराब का सेवन किया जाता है तो यह उसके नर्वस सिस्टम को भी काफी हद तक प्रभावित करता है जिससे उसके हाथ पैरों में हमेशा कंपन रहती हैं और वह किसी भी वस्तु को सही ढंग से नहीं पकड़ पाता है
  • दवाई खाने के तुरंत बाद शराब पीना मानव के पाचन तंत्र के लिए भी हानिकारक होता है और जब शरीर से लगातार उल्टी होने पर पानी की कमी हो जाती हैं तो इससे डिहाइड्रेशन का खतरा भी बढ़ जाता है

इस प्रकार से यदि कोई व्यक्ति दवा खाने के बाद शराब का सेवन करता है तो उसे यह सब हानियां उठानी पड़ सकती हैं

 

क्यों नहीं करना चाहिए दवा खाने के बाद शराब का सेवन

सभी डॉक्टरो द्वारा यह सलाह दी जाती है कि किसी भी मरीज को शराब का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि एल्कोहल की प्रकृति उस मरीज को दी जाने वाली दवाओं की प्रकृति से पूर्णता अलग होती हैं

अल्कोहल में पाए जाने वाले विभिन्न हिस्टामिन तत्व अन्य दवाइयों के तत्वों के साथ मिलकर शरीर के आंतरिक अंगों पर अपना प्रभाव डालते हैं जैसे कि किडनी फैलियर तथा लीवर में सूजन होना इत्यादि

दवा खाने के तुरंत बाद शराब का सेवन करना सिर दर्द को बढ़ावा दे सकता है और इससे खून की उल्टी भी हो सकती हैं जो कि शरीर के लिए हानिकारक होती हैं

कुछ शराब की बोतलों में एल्कोहल की जगह मेथेनॉल होता है जो कि इस से भी खतरनाक रिएक्शन देता है

और यदि इस प्रकार की शराब का सेवन कोई रोगी कर ले तो उसके पेशाब में बनने वाले यूरिया की मात्रा अधिक हो जाएगी और इससे उसे यूरिन इन्फेक्शन भी हो सकता है और यहां तक की इस इंफेक्शन से उसकी मौत तक हो सकती हैं

इस प्रकार की मेथेनॉल शराब का सेवन कोई मरीज यदि दवा लेने के बाद कर लेता है तो यह उसके नर्वस सिस्टम को भी ब्लॉक कर सकती हैं और जिस कारण से उसे भयानक सिर दर्द होने के साथ ही सिर की नसों का फटना भी हो सकता है


FAQs : दवा खाने के बाद कितनी देर बाद शराब पीना चाहिए

सवाल : दवा खाने के कितनी देर बाद शराब पि सकते है

आमतौर पर एक व्यक्ति को दवा खाने के 4 से 5 घंटे बाद ही शराब का सेवन करना चाहिए क्योंकि तब तक वह अपना प्रभाव बता चुकी होती हैं

सवाल : क्या एंटीबायोटिक दवाइयों पर एल्कोहल का विपरीत प्रभाव पड़ता है?

उच्च स्तर के साइंटिफिक एक्सपर्ट्स के अनुसार एंटीबायोटिक दवाइयों पर एल्कोहल का बिल्कुल भी प्रभाव नहीं पड़ता है परंतु कुछ दवाइयों को छोड़कर यह बात सब एंटीबायोटिक दवाओं में प्रमाणित नहीं होती है

सवाल : अगर किसी दवाई को खाने के तुरंत बाद शराब का सेवन कर लिया जाए तो क्या होगा?

ऐसा करने पर उस व्यक्ति को बहुत तेज चक्कर आने लग जाएंगे तथा उल्टियां होने लगेगी एवं उसे हृदय संबंधी भी कुछ विकार उत्पन्न हो सकते हैं

सवाल : पेरासिटामोल दवाई को शराब पीने के कितने समय बाद ग्रहण किया जा सकता है?

इस पेरासिटामोल दवाई में मुख्यतः इथेनॉल होता है जो कि एल्कोहल के साथ मिलकर आपके शरीर पर विपरीत प्रभाव डाल सकता है इसलिए इस दवाई का सेवन करने के बाद एल्कोहल या शराब का सेवन नहीं करना चाहिए

सवाल : क्या शराब पीने के बाद कोई दवा को ग्रहण किया जा सकता है?

यह सीधी एक मौत की घंटी किसी के लिए भी बन सकती है अगर कोई व्यक्ति शराब पीने के तुरंत बाद किसी दवाई को ग्रहण करता है क्योंकि एल्कोहल विभिन्न प्रकार की दवाइयों के साथ विपरीत प्रतिक्रिया करता है


Conclusion

आशा करते हैं कि आपको आज का हमारा यह लेख दवा खाने के बाद कितनी देर बाद शराब पीना चाहिए बहुत ज्यादा पसंद आया होगा और

इसे पढ़कर आप यह जाने होंगे कि कोई व्यक्ति शराब पीने के कितने समय बाद दवा का सेवन कर सकता है या फिर किसी दवा का सेवन करने के कितने समय बाद दारू का सेवन किया जा सकता है इत्यादि

अगर आपको हमारा यह लेख पसंद आया हो तो इस लेख के कमेंट बॉक्स में अपने अमूल्य सुझाव जरूर लिखें ताकि आगे आने वाले समय में हम आपके लिए इन्हीं सुझावों के मुताबिक विभिन्न प्रकार के ज्ञानवर्धक लेख लाते रहे और आपके ज्ञान में सकारात्मक वृद्धि करते रहें

इस लेख को पढ़ने के लिए आप सभी पाठकों का बहुत-बहुत धन्यवाद और आभार

error: Content is protected !!