ESR Test in hindi | ESR test meaning | ईएसआर टेस्ट क्यों करवातें हैं ? ESR test Normal range

ESR Test in hindi : आज के लेख में हम ESR क्या होता है ? ESR टेस्ट क्यों करते है ? ESR की नार्मल वैल्यू क्या होती है और अगर ESR वैल्यू ज्यादा आती है तो उसके लिए क्या करे जैसे सभी सवालों के जवाब विस्तार और सरल भाषा में शेयर करने की कोशिश की है यदि आप भी ESR Test संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो इस लेख को शुरवात से लेकर अंत तक जरूर पढ़े

ESR Test in hindi | ESR Ka full form kya Hota hai | ESR Full Form

ESR Test in hindi | ESR Ka full form kya Hota hai | ESR Full Form
ESR Test in Hindi (2021)

 

ESR का Full form (Erythrocyte sedimentation rate or sed rate) होता है ESR शब्द 3 शब्दों से मिलकर बना है और इन तीनो शब्दों का मतलब क्या होता है यह हम ने निचे बताया है

Erythrocyte : एरिथ्रोसाइट को रेड ब्लड सेल्स या लाल रक्त कोशिका कहते है | हमारे शरीर में 50 लाख कोशिका होती है और उससे अधिक यह रेड ब्लड सेल्स होते है जिनका काम हमारे शरीर को डेवेलोप करना होता है

हमारे शरीर के रचात्मक तरीके से तंदुरुस्त रखने के लिए इन सेल्स का इस्तिमाल होता है | स्किन डेवलप,शारीरिक डेवलप, के लिए यह लाल रक्त कोशिका बहोत जरूरी होता है

Sedimentation : तल पर बसने या तलछट के रूप में जमा होने के प्रक्रिया को Sedimentation कहा जाता है उदाहरण के तौर पर यह जान लीजिये की जैसे एक ग्लास में अगर आप कुछ कूड़ा या चावल डालते है तो वे कूड़ा या चावल ग्लास के तल पर जाकर जमा होता है तो इसी प्रक्रिया को Sedimentation कहा जाता है

Rate : रेट को Ratio से जाना जाता है जैसे की हमारे शरीर की लाल कोशिकाए है वह कितने देर में एक Test tube के तल पर बैठ जाती है जिसमे रक्त नमूना होता है

 

ESR Test in hindi | ESR test meaning
ESR Test in hindi | ESR test meaning

 

नॉर्मली शरीर में कोई इन्फेक्शन वगेरा नहीं होता है तो यह लाल रक्त कोशिकांए वो धीरे धीरे तल पर नहीं बैठती है लेकिन अगर कोई इन्फेक्शन हो रहा है या शरीर में कोई सूजन होती है तो ऐसे परिस्थिति में यह रक्त कोशिकांए Tube के तल पर बैठ जाती है ( कोशिकांए का तल पर बैठने का समय 1 घंटे का हो सकता है )

 

ESR Test कब पॉजिटिव आता है | Esr Test Positive Result in Hindi

यदि आप के शरीर में निचे दी कोई भी बीमारी होती है तो ऐसे स्थति में आप का ESR Test Positive आ सकता है जैसे की

  • शरीर के किसी भी हिस्से में सूजन
  • ऐनीमिया : कम हीमोग्लोबिन,खून की कमी .अदि
  • शरीर में कोई इन्फेक्शन होना
  • गर्भावस्था में महिलाओं का ESR Test पॉजिटिव आ सकता है
  • बुढ़ापा जैसे स्थिति में यह टेस्ट पॉजिटिव हो सकती है

 

ESR Test क्यों करना चाहिए |

यदि आप को अचानक से कोई शारीरिक समस्या है पैदा होती है और उसके बारे में आप को सटीक जानकारी प्राप्त नहीं हो रही है तो आप Laboratory में जाकर ESR Test कर सकते है : निचे दिए किसी भी शारीरिक समस्या से आप को लढना पड़ रहा है तो बेशक आप ESR Test जरूर करवा लीजिये

  • आप के हाथो-पैरो में बहोत ज्यादा जकड़न है या जोड़ो में दर्द है और वे सुबह -सुबह 30 मिनिट या उस से अधिक रहती है तो आप को ESR टेस्ट करवाना चाहिए
  • कंधो में जुड़े दर्द के साथ सिरदर्द होता है तो टेस्ट करना जरूरी है
  • यदि आप के शरीर का वजन तेज़ी से घट रहा है या खाना सही तरह से हजम नहीं होता है तो आप टेस्ट कर सकते है
  • यदि पाचन संबंधित समस्या, बुखार, मल से खून आना या असामान्य पेट दर्द करना जैसे कोई भी परेशानी है तो आप को जरूर ESR Test करना चाहिए

ऊपर दिए सभी शारीरिक समस्या के चलते आप को यह टेस्ट करवाना चाहिए और इस टेस्ट का करना बहोत महत्वपूर्ण होता है क्यों की यही टेस्ट आप को बताता ता है की आप के शरीर किस तरह की समस्या है

 

ESR test Normal range क्या है | ESR Value Means in Hindi

इस टेस्ट का एक लेवल होता है और उस लेवल के अनुसार आप के शारीरक की वास्तविक स्थिति के बारे में पता चलता है निचे हम ने ESR test Normal range के बारे में बताया है जिस के आने से आप की यह टेस्ट नार्मल होती है

इस टेस्ट में आप के ब्लड सेल्स कितने तेज़ी से निचे आते है उसके अनुसार यह ESR टेस्ट की जाती है और इस समय से ही पता चलता है की आप की ESR नार्मल है या रिस्की है निचे हम ने महिला, पुरुष और बच्चों के वयोमर्यादा के अनुसार ESR टेस्ट की रेंज बताई है जिसे एक बार जरूर देख लीजिये

  • ESR Normal Range in Hindi : जन्म के उपरांत एक बच्चे का ESR 2 Mm/Hr के आस-पास होना चाहिए।
  • ईएसआर परीक्षण नार्मल रेंज: जो बच्चे युवा अवस्था में प्रवेश करने वाले होते है उनका ESR 2 से लेकर 13 Mm/Hr के अंदर होना चाहिए।
  • अगर किसी महिला की आयु 50 वर्ष से कम है तो उसका ESR 20 Mm/Hr तक होना चाहिए।
  • किसी महिला की उम्र 50 वर्ष से ज़्यादा हो चुकी है तो उसका ईएसआर परीक्षण नार्मल रेंज ESR 30 Mm/Hr तक होना चाहिए।
  • एक पुरूष की उम्र 50 वर्ष से कम होने की स्थिति में उसका ESR 15 Mm/Hr के आस-पास होना चाहिए।
  • किसी पुरूष की उम्र 50 वर्ष से अधिक हो जाती है तो उसका ईएसआर परीक्षण नार्मल रेंज 20 Mm/Hr के आस-पास होना चाहिए।

 

ESR के स्तर को स्वाभाविक रूप से कम करें | 13 खाद्य पदार्थ जो स्वाभाविक रूप से ESR को कम करते हैं | How To Reduce ESR Levels in Hindi

यदि आप का ESR High हो गया है तो आप स्वेलिंग या इन्फेक्शन की दवा ले सकते है इसके अलवा फाइबर रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में आप की मदत करेगा : निचे हम ने 13 ऐसे FOOD के नाम दिए है जिसके सेवन से आप का ESR जल्द से जल्द नार्मल होगा

  1. Berries
  2. Fatty fish
  3. Broccoli
  4. avocados
  5. Green tea
  6. peppers
  7. Mushrooms
  8. grapes
  9. turmeric
  10. tomatoes
  11. cherries
  12. Dark chocolate & cocoa
  13. Extra virgin Olive oil

 

ESR Blood Test (in Hindi) ESR TEST FAQ,s

Q. ESR क्या होता है ?
ESR याने वह गति जिस पर एरिथ्रोसाइट एक एंटी कोएग्लुलेटेड ब्लड सैंपल पर जमा होता है | एरिथ्रोसाइट के जमा होने की गति 2 चीज़ो पर निर्भय करती है जैसे फिब्रेनोजेन और जिटा पोटेंशिअल

Q. ESR Blood टेस्ट करने से हमे क्या मालूम चलता है ?
इस टेस्ट से हमे यह पता चलता है की पेशेंट को कोई क्रोनिक इंफ्लेमेटरी कंडीशन है अथवा नहीं

Q. ESR ब्लड टेस्ट कैसे किया जाता है ?
इस टेस्ट के लिए आप के रक्त का नमूना लिया जाता है जिसे ब्लड ट्यूब में डालकर उसे चेक किया जाता है

Q. इस टेस्ट करने के पहले कोई खास सुचना दी जाती है ?
नहीं ,लेकिन आम तौर पर रक्त का नमूना सुबह आप के बाजु से लिया जाता है

Q. इस ESR टेस्ट के लिए रेफ़रन्स रेंज क्या है ?
पुरुषो के लिए 15-20mm/hr और महिला के लिए 20 -30mm/hr और बच्चों के लिए 3-13mm/hr है

Q. ESR बढ़ने का क्या मतलब होता है ?
यदि ESR बढ़ता है तो पेशेंट को क्रोनिक इंफ्लेमेटरी जैसे बीमारी है जैसे की TB या ऑटो इम्यून बीमारी हो सकती है

Q. क्या सामान्य स्थति में ESR बढ़ सकता है ?
गर्भावस्था, मासिक धर्म या बढ़ते उम्र के चलते यह ESR बढ़ सकता है

Q. दवाइया खाने से ESR Normal होता है ?
जी हाँ जैसे की, मिथाइलडोपा, विटामिन A और कॉण्ट्रासेप्टिव पिल्स ESR को बढ़ा देते है | एस्पिरिन और स्टेरॉयड इसर को कम करते है

 

Conclusion

आज हम ने ESR टेस्ट क्या होता है, ESR Blood test कैसे करते है, ESR Normal Range सहित ESR Test की पूरी जानकारी आप के साथ शेयर करने की कोशिश की है |

यदि आप आपने शारीरिक अवस्था को लेकर चिंतित हो और आप सोच रहे है की ESR Test kaise kare तो आप अपने डॉक्टर के सलाह से इस टेस्ट को नज़दीकी किसी भी laboratory से कर सकते है जिसके लिए आप को केवल 300 से 500 रुपये का शुल्क देना होगा

2 thoughts on “ESR Test in hindi | ESR test meaning | ईएसआर टेस्ट क्यों करवातें हैं ? ESR test Normal range”

Leave a Comment