घाव सुखाने की एंटीबायोटिक दवा – Ghav Sukhane ki Dava in Hindi

घाव सुखाने की एंटीबायोटिक दवा : हमारे शरीर की चमड़ी पर कोई भी घाव होने पर इसमें सबसे बड़ा खतरा संक्रमण का होता है क्योंकि स्किन के अंदर जो सब स्किन की पतली सी परत होती हैं वह बाहरी पर्यावरण के जीवो के साथ मिलकर एक बड़ा संक्रमण कर सकती है

शरीर की चमड़ी पर विभिन्न प्रकार से घाव हो सकते हैं जैसे कि आग इत्यादि से जलने पर या कटने से या खरोच आदि लगने से और इन घावों को करने के लिए विभिन्न प्रकार की क्रीम और दवाइयां आज मार्केट में उपलब्ध हैं

आज के इस लेख में हम इसी घाव को भरने के लिए कौन-कौन सी एंटीबायोटिक दवाइयां मार्केट में मौजूद हैं और घाव सुखाने की क्रीम तथा घाव सुखाने की अंग्रेजी दवाइयों इत्यादि के बारे में जानने वाले हैं और साथ ही आज के हमारे इस लेख का मुख्य विषय रहेगा घाव सुखाने की एंटीबायोटिक दवा

घाव सुखाने की दवाइयां तथा घाव सुखाने वाली विभिन्न प्रकार की क्रीमों का प्राइज भी हम आपको बताएंगे ताकि अगर आप इन्हें खरीदने जाए तो आपको इसका मूल्य पता हो

 

Wound drying medicine and cream in Hindi
Wound drying medicine and cream in Hindi

घाव सुखाने की एंटीबायोटिक दवा – Ghav sukhane ki dava

इन एंटीबायोटिक दवाओं का प्रयोग इसलिए किया जाता है क्योंकि हमारे शरीर की चमड़ी पर पड़े घावों के ऊपर विभिन्न प्रकार के बैक्टीरिया और जर्म्स पैदा हो जाते हैं जो कि इस Infection को और भी ज्यादा बढ़ाने का काम करते हैं

विभिन्न प्रकार के फंगस तथा अन्य प्रकार के पैरासाइट मिलकर भी इस घाव को भरने नहीं देते हैं और जिस कारण से यह बहुत दर्द दायक भी होता है

इन एंटीबायोटिक दवाओं का सबसे ज्यादा असर यह होता है कि यह शरीर पर पड़े घावों  को बहुत ज्यादा जल्दी सुखाने का कार्य करती हैं और इसी वजह से यह घाव और भी ज्यादा जल्दी ठीक होते हैं

 

घावों को सुखाने के लिए सबसे अच्छी दवाईया 

 

  •  Amoxicillin calnevulnate ( अमोक्सिसलीन कैलनेवुल्नेट )

Amoxicillin calnevulnate

  1. यह एंटीबायोटिक दवा बैक्टीरियल इन्फेक्शन को रोकने का कार्य करती है जो कि हमारे घाव के ऊपर रहते हैं और साथ ही यह इसमें जलन को भी कम करती हैं
  2. इस टेबलेट का अधिकतर प्रयोग ऐसा घावों को भरने के लिए किया जाता है जो कि शरीर के जटिल भागों में होते हैं जैसे कि हमारा यूरीन एरिया या फिर नाक कान के संक्रमण इत्यादि
  3. इसके अलावा कान के संक्रमण, त्वचा के संक्रमण तथा ब्रोंकाइटिस के लिए किया जाता है
  4. इस एंटीबायोटिक दवा को बिना किसी डॉक्टर की सलाह के लिया जा सकता है क्योंकि इसे जनरल एड इनफेक्शन टेबलेट कहा जाता है जिसका अर्थ है कि आप इसे बिना किसी एंड एडवाइज के ले सकते हैं
  5. यह आपको 70 ग्राम के पैकेज तथा 150 ग्राम के पैकेज मे देखने को मिलेगी और यह आसानी से किसी भी मेडिकल स्टोर पर उपलब्ध हैं

  • Sufferoxme TabletAnti Infection ( एंटी इंफेक्शन सफेरोक्सम टैबलेट ) 

 

Sufferoxme TabletAnti Infection

 

  1. इस एंटीबायोटिक प्रयोग भी घाव को जल्दी सुखाने के लिए किया जाता है और इसकी विशेषता यह है कि यह बहुत ज्यादा गहरे घावों के लिए भी उपयोगी रहती हैं और विशेषकर यदि किसी व्यक्ति कि स्किन कट गई है या किसी वजह से उस में गहरी चोट आई है तो यह इसे जल्दी भरने का काम करती है
  2. इस एंटीबायोटिक दवा को बिना किसी डॉक्टर की सलाह के नहीं लेना चाहिए और आप किसी अच्छे से डर्मेटोलॉजिस्ट से इस दवाई के बारे में अच्छी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं और उनके निर्देशानुसार इसे ग्रहण कर सकते हैं
  3. इस दवाई की 500mg मात्रा ही हमें ग्रहण करनी चाहिए जो कि मार्केट में आसानी से उपलब्ध हैं और इसके 1 पत्ते में 8 गोलियों का सेट आता है

  •  Prednisolone Antibiotic Medicine ( प्रेडनिसोलोन एंटीबायोटिक दवा )

 

Prednisolone Antibiotic Medicine

 

  1. घाव को सुखाने के लिए प्रेडनिसोलोन दवा भी काफी अच्छी हैं जो कि कटे हुए या छिले हुए स्किन के घाव को बहुत ज्यादा तेजी से सही करती हैं
  2. इस दवाई का इस्तेमाल भी घाव को जल्दी सुखाने के लिए और उस पर से बैक्टीरियल इनफेक्शन को कम करने के लिए किया जाता है और यह घाव के ऊपर स्थित रेडनेस को भी कम करने में सहायक हैं
  3. यह किसी भी जनरल मेडिकल स्टोर पर उपलब्ध हैं और इसके एक पैकेट में आपको 28 गोलियां देखने को मिलेगी जो कि 5 ग्राम की होती है
  4. इस एंटीबायोटिक दवा को बिना किसी डॉक्टर की सलाह के उपयोग नहीं करना चाहिए और इसके उपयोग करने से पहले आप अपने घाव को थोड़े गुनगुने पानी से साफ कर सकते हैं या किसी सूती कपड़े के द्वारा उस घाव को साफ किया जा सकता है

  •  ( Warfarin Antibiotics Drug ) फार्फ्रिन एंटीबायोटिक दवा

 

Warfarin Antibiotics Drug

 

  1. अगर आपके स्क्रीन पर पड़ेगा वो में बहुत ज्यादा खुजली चलती है तो आप इस दवा का प्रयोग कर सकते हैं जोकि बहुत कारगर हैं
  2. इसके प्रयोग करने का सबसे अच्छा फायदा यह है कि यह स्किन पर पड़े घाव में खून का थक्का नहीं जमने देती है क्योंकि यदि शरीर में विटामिन K की कमी हो जाए तो खून का थक्का जमना बंद हो जाता है, इस कारण से यह इस विटामिन को भी संतुलित करने का काम करती है जिससे कि खून का थक्का ना जमे
  3. इस एंटीबायोटिक दवा के 2 फायदे हैं यह घाव को ठीक करने के अलावा हृदय संबंधी तथा फेफड़ों संबंधी रोगों में भी डॉक्टर द्वारा रिकमेंड की जाती हैं
  4. इस दवाई को डॉक्टर की सलाह के बगैर नहीं लेना चाहिए क्योंकि यह एक प्रकार की मल्टीपल डिजीज एंटीबायोटिक टैबलेट हैं जिससे कि 2 से अधिक बीमारियों का इलाज किया जाता है
  5. तो इस प्रकार से आप इन सभी प्रमुख एंटीबायोटिक दवाओं का प्रयोग करके अपनी चमड़ी पर पड़े घावों को बैक्टीरियल Infection से बचाते हुए इन्हें वापस से भर सकते हैं

घावों को सुखाने तथा भरने के लिए – Creams

आप एंटीबायोटिक दवाओं का प्रयोग करके आंतरिक तौर से इन घावों को भरने का उपाय कर सकते हैं परंतु बाहरी उपयोग के लिए आपको विभिन्न प्रकार की मेडिकल साइंस टेस्ट क्रीमों का प्रयोग करना होता है

इन घावों को सुखाने के लिए मेडिकल क्रीमों का प्रयोग इसलिए भी किया जाता है क्योंकि यह शरीर के ऊपर जो घाव है वहां पर इंफेक्शन को कम करते हैं और जो हानिकारक बैक्टीरिया होते हैं उन्हें मिटाने का काम भी करती है

 

घाव को सुखाने के लिए आप निम्नलिखित क्रीमो का प्रयोग कर सकते हैं :

  • बीटाडीन क्रीम  ( Betadine Cream )

 

Betadine Cream

 

यह क्रीम आपको मार्केट में 20 ग्राम के पैकेज में मिलती हैं और यह माइक्रोबायसाइडल वॉटर सॉल्युबल ऑइंटमेंट के रूप में जानी जाती है

इस घाव सुखाने वाली क्रीम को अधिकतर डॉक्टरों द्वारा रिकमेंड किया जाता है और यह क्रीम उन घावों को भरने के लिए ज्यादा सहायक है जो कि ऑपरेशन द्वारा होते हैं

बहुत सारे डॉक्टरों द्वारा इस क्रीम को बताया जाता है जो कि गहरे घावों को भरने के लिए भी जानी जाती हैं और हाइजीन एरिया के विभिन्न घाव को भरने में भी यह सहायक होती है

इसी कंपनी की टैबलेट भी मिलती है जिनके साथ आप इस क्रीम का प्रयोग करके अपने घावों को बहुत जल्दी से ठीक कर सकते हैं


  • Neosporin Cream ( नियोस्पोरिन क्रीम ) 

 

Neosporin Cream

 

यह क्रीम आपको 8 ग्राम के पैकेज में किसी भी मेडिकल स्टोर पर आसानी से उपलब्ध हो जाएगी और आप इसका प्रयोग अपने घावों को अच्छे से साफ करने के बाद आसानी से कर सकते हैं

आप इसका प्रयोग डॉक्टर के सलाह अनुसार भी कर सकते हैं और आप चाहे तो अपनी मर्जी से भी इसका प्रयोग कर सकते हैं

शरीर पर पड़ी किसी भी खरोच या चोट में यह काफी सहायक सिद्ध होती हैं और यदि स्किन थोड़ी सी जल गई है तो भी आप इसका प्रयोग कर सकते हैं, जिसमें कि यह बहुत लाभकारी होगी


  • Clindamycin phosphate gel ( क्लिंडामाइसिन फॉस्फेट जेल ) 

 

Clindamycin phosphate gel

 

यह क्रीम आपको किसी भी मेडिकल स्टोर पर 20 ग्राम के पैकेज में मिलती है और यह एक फॉस्फेट जेल है

यह सामान्य क्रीम की बजाए एक जेली फॉर्म में आती है जिसका रंग वाटर वाइट होता है और यह आपके घाव पर बहुत ज्यादा ठंडक प्रदान करती हैं और जिससे की जलते हुए घाव भी जल्दी ठीक होते हैं

इसका प्रयोग आग से जली हुई या अन्य किसी रूप से जली हुई स्किन पर किया जाता है और यदि यह स्किन बहुत ज्यादा जली है तो भी इसका प्रयोग किया जा सकता है परंतु इसका प्रयोग किसी डर्मेटोलॉजिस्ट के सलाह अनुसार करना चाहिए

यह शरीर के अंडर आर्म्स वाली स्किन के लिए भी सबसे ज्यादा कारगर सिद्ध है क्योंकि वहां पर हमारे शरीर की त्वचा बहुत ज्यादा पतली और सेंसिटिव होती है, इस कारण से उस जगह के लिए भी यह क्रीम बहुत ज्यादा लाभकारी है


  • पॉलीसपोरिन क्रीम  ( Polysporin  Cream ) 

Polysporin Cream

 

यह क्रीम छोटे बच्चों की स्किन पर लगे घावों के लिए कारगर मानी जाती हैं और यह बैक्टीरियल इनफेक्शन को ठीक करने के साथ ही उन घावों को सूखा भी रखती है

यहां आपको किसी भी मेडिकल स्टोर पर 8 ग्राम के पैकेज में मिलती है और इसे डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही इस्तेमाल करना चाहिए

इस प्रकार आप इन सभी मेडिकल साइंस क्रीम्स का प्रयोग करके अपने घावों को सही कर सकते हैं और उन्हें संक्रमण से भी बचा सकते हैं


घाव को सुखाने के आयुर्वेदिक उपाय

आज हम विभिन्न प्रकार की चिकित्सा प्रणालियों का प्रयोग अपने मानव शरीर को सही करने के लिए करते हैं, उन्हीं में से एक चिकित्सा प्रणाली आयुर्वेद है जो की सबसे पुरानी और किसी भी बीमारी को जड़ से खत्म करने के लिए जानी जाती

आयुर्वेद में भी कई ऐसे घरेलू उपाय हैं जिनके द्वारा आप अपने घावों को जल्दी से जल्दी ठीक कर सकते हैं

घाव को सुखाने और भरने के लिए आयुर्वेद में निम्नलिखित उपाय बताए गए हैं :

  • आप किसी नीम के पेड़ की छाल को गर्म पानी में भिगोकर उससे एक क्रीम का निर्माण कर सकते हैं जो की सिलबट्टे द्वारा आसानी से किया जा सकता है और उस क्रीम का प्रयोग आपको उसी समय अपने घाव पर करना है
  • सुबह-सुबह नीम के पत्तों को 1 घंटे गर्म पानी में भिगोकर इसके पानी का इस्तेमाल अपने घावों को धोने के लिए करें और साथ ही जो बचे हुए पत्ते हैं, उनका पेस्ट बनाकर उस नीम के पानी से धोए गए  ताजा घाव पर लगा दे यह उपाय कुछ दिन करने के बाद आपको चौंकाने वाले नतीजे मिलेंगे
  • आप कच्ची हल्दी का पेस्ट बनाकर भी अपने घावों पर इस्तेमाल कर सकते हैं क्योंकि इसमें एंटीबायोटिक और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं जो कि आपके घावों को भरने के साथ साथ ही इन घावों को बैक्टीरियल इनफेक्शन से भी बचाते हैं
  • आप नारियल तेल में हल्दी का पाउडर मिलाकर इसका एक घोल बना ले और इस घोल को अपने गांव पर लगा ले क्योंकि इसमें मौजूद नारियल तेल आपके घाव पर चलने वाली खुजली को रोकेगा वही दुसरी ओर हल्दी इस में इंफेक्शन को रोकेगी

FAQs : घाव सुखाने की एंटीबायोटिक दवा

सवाल : स्किन पर पड़े घावों को सुखाने के लिए सबसे अच्छी एंटीबायोटिक टेबलेट कौन सी मानी जाती हैं?

इन घावों को सुखाने के लिए सबसे अच्छी टेबलेट प्रेडनिसोलोन एंटीबायोटिक दवा है

सवाल : घाव को सुखाने के लिए सबसे अच्छी क्रीम कौन सी मानी जाती हैं?

इन घावों को सुखाने के लिए सबसे अच्छी क्रीम Clindamycin phosphate gel को माना जाता है जो की जेली फॉर्म में आती है

सवाल : छोटे बच्चों की स्किन पर पड़े हुए घाव को सुखाने के लिए कौन सी क्रीम अच्छी है?

पॉलीसपोरिन क्रीम, यह क्रीम छोटे बच्चों की स्किन पर पड़े हुए घाव को सुखाने के लिए अच्छी मानी जाती हैं

सवाल : घाव को जल्दी ठीक करने के लिए सर्वोत्तम आयुर्वेदिक उपाय क्या है?

आप नीम की छाल का पेस्ट बनाकर अपने घावों पर सुबह-सुबह प्रयोग कर सकते हैं, जिससे कि आप के घाव जल्दी भरेंगे और उन घावों में बैक्टीरियल इनफेक्शन भी नहीं होगा

सवाल : आग या गर्म पानी से जले हुए घाव को ठीक करने के लिए कौन सी क्रीम अच्छी मानी जाती हैं?

आग से जली हुई स्किन के लिए Clindamycin cream अच्छी मानी जाती हैं


Conclusion

तो पाठकों हम आशा करते हैं कि आपको आज का हमारा यह लेख घाव सुखाने की एंटीबायोटिक दवा बहुत ज्यादा पसंद आया होगा और इस लेख को पढ़कर आप यह जान गए होंगे कि किस प्रकार से हम अपनी त्वचा पर पड़े घावों को जल्दी से जल्दी ठीक कर सकते हैं बिना किसी इंफेक्शन के

इस लेख को पढ़ने के लिए आप सभी पाठकों का बहुत-बहुत आभार और धन्यवाद

error: Content is protected !!