Haddi ka doctor in English | हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉक्टर को इंग्लिश में क्या कहते है

Haddi ka doctor in english : आजकल की प्रदूषित हवा, असावधानियों और खाने पीने का सही से ध्यान न रखने के कारण मनुष्य को अनेक प्रकार की बीमारियों का सामना करना पड़ रहा है, जिनमे त्वचा से जुड़ी बीमारियां, फेफड़े, किडनी, और दिल से जुड़ी बहुत सी बिमारियां तथा हड्डी के रोग भी शामिल हैं

मनुष्य को बीमारियां अनेक कारणों से होती हैं,जैसे गंदा पानी पीने के कारण, दूषित भोजन खाने के कारण, विटामिन और प्रोटीन की कमी के कारण, किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने के कारण आदि शामिल हैं

आज के समय में बीमारियां होना बहुत ही आम बात हो गई है, छोटे बच्चों से लेकर, वृद्ध लोगों तक में भी बहुत सी बीमारियां देखने को मिलती हैं

जिस प्रकार मनुष्य हानिकारक पेय पदार्थों और अन्य नुकसानदायक बाहरी चीजों का सेवन कर रहा है, उसके स्वास्थ्य पर उन सबका बहुत बुरा प्रभाव पड़ रहा है

आज हम हड्डी के रोग के बारे में ही आगे विस्तार से पढ़ेंगे आज के हमारे टॉपिक में हम Haddi ke doctor in english और हड्डी से जुड़ी अनेक प्रकार की और भी बहुत सी जानकरियां प्राप्त करेंगे

 

Haddi ka doctor in english
Haddi ke doctor ko english main kya kahate hai

 

Haddi ka doctor in english हड्डी का डॉक्टर इन इंग्लिश

 हड्डी रोग के विशेष डॉक्टर को आर्थोपेडिक( Orthopedics) सर्जन कहते हैं 

आर्थोपेडिक्स वे डॉक्टर होते हैं जो हड्डी रोग के विशेषज्ञ होते हैं, ऑर्थोपेडिक सर्जरी की उस शाखा को कहते हैं जो क्षतिग्रस्त या रुग्ण हड्डियों, जोड़ों, पेशियों तंत्रिकाओं और ऊतकों से संबंधित है

आर्थोपेडिक सर्जन का काम हड्डियों, जोड़ों और मांसपेशियों का उपचार करना होता है

हड्डी रोग बहुत ही कष्टदायक होता है, बूढ़े लोगों में घुटने की हड्डी कमज़ोर होने के कारण उन्हें गठिया रोग हो जाता है, जिससे चलने फिरने में भी काफी दिक्कत आती है

इसलिए हमे अपने स्वास्थ्य का अच्छे से ध्यान रखना चाहिए जिससे वर्तमान में या आगे चलकर किसी परेशानी या बीमारी का सामना न करना पड़े

तो जैसा कि हम आज पढ़ रहे हैं कि हड्डी के डॉक्टर को इंग्लिश में क्या कहते हैं Haddi ka doctor in english तो हड्डी के डॉक्टर को हम ऑर्थोपेडिक सर्जन कहते हैं

तो यदि आपको हड्डी से संबंधित कोई भी समस्या हो तो सीधा ऑर्थोपेडिक डॉक्टर के पास ही जाएं और अच्छे से सारी जांचें करवाएं उसके बाद ही आगे कोई उपचार कराएं


हड्डी की कुछ बीमारियां – Haddi ki kuch bimariyan

 

31 03 2018 pain in joints

 

आमतौर पर हड्डी की बीमारियों के लक्षण दर्द और सूजन से जुड़े होते हैं परंतु सूजन से कई बड़ी बीमारियां भी हो सकती हैं

हड्डियों में अनेक प्रकार के रोग होते हैं, मानव शरीर में 206 हड्डियां पाई जाती है और शरीर के किसी भी क्षेत्र में हड्डियों से जुड़ी कोई भी बीमारी हो सकती है

हड्डियों की बीमारियां कई कारण से होती है पर कुछ बीमारियों का कारण हमें सही से स्पष्ट नहीं हो पाता हैं

हम शरीर के बहुत से अंगों का प्रयोग बहुत अधिक करते हैं जैसे हाथ और पैर, पैरों में गठिया रोग और अनेक प्रकार के हड्डी के रोग हो जाते हैं जिससे घुटनो की हड्डी में भी दर्द होता है

घुटने की समस्या आजकल बहुत अधिक है इसी तरह यदि हम काफी समय तक बैठे रह कर कोई काम करते हैं तो हमारी पीठ, पैर और हाथ दर्द होने लग जाते है

गले की हड्डी भी प्रभावित होती है इस वजह से बहुत सी अन्य बीमारियां भी होने लग जाती हैं

इस प्रकार हड्डियों की बहुत सी बीमारियां हैं जैसे चोट लगना, अनुवांशिकता शरीर में कुछ पदार्थों की कमी या कई पदार्थ ज्यादा होने की वजह से भी हड्डी के रोग हो जाते हैं आगे हम कुछ बीमारियों के बारे में विस्तार से पढ़ेंगे

  • पीठ दर्द-back pain

पीठ का दर्द भी हड्डी की एक समस्या है, कभी-कभी यह शरीर के लिए बहुत ज्यादा ही दुखदाई होता है ये दर्द आगे चलकर कई बीमारियों का कारण भी बन सकता है

जो लोग लंबे समय तक ऑफिस में बैठकर काम करते हैं उन लोगों में यह समस्या अधिकतर देखने को मिलती है

भारत और अमेरिका दोनों देशों में हर साल इसके बहुत से मामले देखने को मिलते हैं इसके लक्षण यह है कि यह कम, निरंतर दर्द से लेकर अचानक तेज दर्द तक भी हो सकता है

  •  बर्साइटिस- bursitis

बर्साइटिस बर्सा की सूजन या जलन है, यह एक थैली होती है जो लुब्रिकेटिंग तरल पदार्थों से भरी होती है

यह थैली हमारी हड्डियों मांसपेशियों त्वचा और आंखों के बीच होती है, यह घर्षण रगड़ और जलन को भी कम करती है

बर्साइटिस होने पर आपकी मांसपेशियों और हड्डियों के आसपास के क्षेत्र में सूजन आ जाती है, आमतौर पर बर्साइटिस कंधे, कोहनी, घुटने, कूल्हे, जांघों जैसी जगहों पर देखने को मिलता है यदि आपके जोड़ों में दर्द और सूजन रहता है तो आपको बर्साइटिस हो सकता है

बर्साइटिस की जांच के लिए डॉक्टर से अवश्य मिले पर और भी अच्छा होगा यदि आप पहले इस बीमारी के बारे में थोड़ी जानकारी भी प्राप्त कर ले

  • बोन कैंसर- bone cancer

यह भी एक प्रकार का हड्डी रोग है, जब हड्डियों के अंदर कोशिकाओं की अनियंत्रित वृद्धि होती है तो बोन ट्यूमर बन जाता है

ये ट्यूमर घातक भी हो सकते हैं पर कुछ ट्यूमर हड्डी के ऊतकों पर लागू नहीं होते हैं और फैलते भी नही हैं ये सामान्य होते हैं, बोन कैंसर के लक्षण शुरुआत में दिखाई नहीं देते हैं

  • गाउट- Gout

गाउट गठिया का ही एक दर्दनाक रूप है, यह एक हड्डी रोग है जो कि मनुष्य के जोड़ों में होता है, ये हमारे घुटनो को काफी प्रभावित करता है शरीर में अतिरिक्त यूरिक एसिड की उपलब्धी के कारण पैर के अंगूठे या अन्य जोड़ों में तेज क्रिस्टल बन सकते हैं जिसकी वजह से सूजन आ जाती है

गठिया किसी भी इंसान को प्रभावित कर सकता है ये आमतौर पर महिलाओं की तुलना में पुरुषों में अधिक होता है क्योंकि उनके शरीर में यूरिक एसिड अधिक होता है

गाउट महिलाओं में रजोनिवृत्ति के बाद होता है, इसकी उन लोगों में होने की सम्भावना अधिक होती है जिनमे मोटापा या अत्यधिक वजन होता है या जिनको मधुमेह रोग होता है

  •  रेशेदार डिस्प्लेसिया- Fibrous dysplasia

रेशेदार डिस्प्लेसिया मनुष्य के हड्डियों में होने वाली एक बीमारी है यह तब होता है जब हमारे शरीर की स्वस्थ हड्डी अन्य प्रकार के ऊतक से परिवर्तित कर दी जाती है

इस दौरान हड्डियां कमजोर हो जाती हैं तथा टूट भी सकती हैं इसमें कभी-कभी आपको अहसहनीय दर्द का भी सामना करना पड़ सकता है

  • स्कोलियोसिस- Scoliosis

ये भी एक प्रकार का हड्डी रोग है,जो कि रीड़ की हड्डी में होता है ये ज्यादातर व्यस्कों में देखने को मिलती है इसके सबसे ज्यादा केस अमेरिका में देखे गए हैं

हर साल लगभग 3 लाख स्कोलियोसिस का इलाज किया जाता है, इसके रेयर मामले कम ही हैं और कुछ मामलों में इसके अनुवांशिक होने की भी बात कही गई है

स्कोलियोसिस होने पर आप अधिक देर तक बैठने में कठिनाई होती है


हड्डी के अन्य रोग 

  • गर्दन का रोग- gardan ka rog
  • जोड़ो का दर्द- Joint pain
  • कंधे की समस्या- Shoulder ki samasya
  • ऑस्टियोआर्थराइटिस- Osteoarthritis
  • ऑस्टियोपोरोसिस- Osteoporosis
  • रीड़ की हड्डी में क्षय रोग- Reed ki haddi me shay rog
  • अस्थि भंग ( फ्रैक्चर या हड्डी टूटना )-Asthi bhang
  • अस्थियों में सूजन-bones me sujan
  • घुटने की समस्या-ghutne ki samasya

हड्डी के कुछ प्रसिद्ध डॉक्टर-Haddi ke kuch prasiddh doctor


हड्डी रोगियों के लिए कुछ उपाय – Haddi rogiyo ke liye kuch upay

  • फिजियोथैरेपी

हड्डी रोगों के इलाज में दवाओं की कोई मुख्य भूमिका नहीं होती है, हड्डी की बीमारियों में दवा से अधिक फिजियोथैरेपी को अधिक उपयोगी माना गया है

  • ऑपरेशन

हड्डी के विशेषज्ञ डॉक्टरों के अनुसार अधिकांश हड्डी रोग के इलाज में ऑपरेशन ही एकमात्र इलाज होता है

यदि किसी व्यक्ति की हड्डी टूट जाती है घुटने में कोई खराबी होती है या कहीं किसी नस पर दबाव हो जाता है तो इसे किसी भी दवा से दूर नहीं किया जा सकता

  • विशेषज्ञ से परामर्श

डॉक्टरों की सलाह है कि यदि पैर में नियमित रूप से दर्द रहे तो ऐसी परिस्थितियों में विशेषज्ञ से परामर्श लेना चाहिए यदि समय पर इलाज ना हो  तो बाद में मरीज स्थाई रूप से विकलांग भी हो सकता है

इसलिए मरीज को एक्स रे (x ray), सिटी स्कैन (city scan) और एमआरआई (MRI) जांच करानी चाहिए, जिससे बीमारी का पता चल जाए और उसका समय से इलाज हो सके

  • व्यायाम

हड्डी रोग से बचने का बेहतर तरीका है कि नियमित रूप से व्यायाम करें

हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए धूप का सेवन करना आवश्यक है इससे हड्डियों को विटामिन डी मिलता है यदि आप प्रकृति के साथ रहेंगे तो आप हर प्रकार के रोगों से मुक्त रहेंगे


FAQs – Haddi ka doctor in english

सवाल : हड्डी के डॉक्टर को इंग्लिश में क्या कहते हैं?

हड्डी के डॉक्टर को इंग्लिश में ऑर्थोपेडिक सर्जन कहते हैं

सवाल : हड्डी के किसी एक विशेषज्ञ का नाम बताइए?

डॉ जयंत अरोड़ा एक प्रसिद्ध ऑर्टोपेडिक सर्जन हैं

सवाल : हड्डी की बीमारियों को कैसे दूर रखा जा सकता है?

यदि आप नियमित रूप से व्यायाम करेंगे,अच्छे खाद्य पदार्थों का सेवन करेंगे और प्रकृति के साथ रहेंगे तो आप जीवनभर रोगमुक्त जीवन जी सकते हैं

सवाल : हड्डी की किसी एक बीमारी का नाम बताइए?

गाउट, ये गठिया रोग का ही एक प्रकार है जो मुख्यतः व्यस्क लोगों में अधिक पाया जाता है

सवाल : बोन कैंसर का एक लक्षण बताइए?

हड्डियों में लगातार दर्द रहना बोन कैंसर का एक लक्षण है

 

Conclusion

Haddi ka doctor in english तो ये था हमारा आज का टॉपिक,आज हमने हड्डियों के डॉक्टर को क्या कहते हैं, हड्डियों में कितने प्रकार के रोग हो सकते हैं इन्हें कैसे ठीक किया जा सकता है तथा हड्डियों के कुछ मुख्य डॉक्टरों के नाम के बारे में भी जानकारी प्राप्त की

तो हम आपको एक बार फिर से बता दें कि आज के हमारे सवाल का जवाब है ऑर्थोपेडिक सर्जन, जो कि हड्डी के विशेषज्ञ होते हैं हम उम्मीद करते हैं कि आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारियां अच्छी लगी होंगी इसे share करे और comment करके हमें अपने विचार बताएं

error: Content is protected !!