किडनी खराब होने के लक्षण – Kidney Kharab Hone Ke Lakshan

किडनी खराब होने के लक्षण – हमारे शरीर मे सबसे महत्व का अंग किडनी होता है और किडनी के कारण हम मजेदार जिंदगी जीते हैं

ऐसे में अगर किडनी सबंधित किसी भी तरह की समस्या होती है तो बात हमारे जीवन को बचाने पर आ जाती है | इसलिए हमे किडनी को स्वस्थ रखना हमारे जीवन का एक हिस्सा है।

लेकिन कई ऐसी बीमारी है जिनमे किडनी खराब होने के लक्षण पता नही चलते है | और हम उसे सामान्य बीमारी समझकर नजरअंदाज करते हैं

आज हम आपको किडनी खराब होने के लक्षण बताएगें जो और उसे जानना आपके लिए बेहद महत्वपूर्ण है क्योंकि कुछ ऐसे संकेत होते है जिसके चलते आप तुरंत इलाज़ करवाकर किडनी खराब होने से खुद को बचा सकते है।

 

अनुक्रम

किडनी खराब होने के लक्षण – Kidney Kharab Hone Ke Lakshan

 

Kidney Kharab Hone Ke Lakshan
Kidney Kharab Hone Ke Lakshan

 

किडनी खराब होने के शुरुआती लक्षण – Kidney kharab hone ke shuruati lakshan

आपको बता दें किडनी हमारे शरीर के ब्लड को फिल्टर कर के हमारी बॉडी को स्वस्थ रखने का काम करती है।

और ज्यादातर लोगों को किडनी संबधित बीमारियों का जल्दी पता नही चलता, ऐसी बीमारी होती हैं जिनसे किडनी खराब होने का खतरा रहता है

जैसे कि डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर, टाइफाइड, न्यूमोनिया अन्य छोटी मोटी बीमारी होती हैं जो कही बार किडनी को नुकसान पहुचाती है | नीचे हमने कुछ किडनी खराब होने से पहले वानेवाले संकेत दे रखे हैं।

  • कमजोरी : कई बार बुखार या अन्य बीमारी के कारण कमजोर और थकान महसूस होती है और कई बार लोगों को बिना बीमारी या हल्के बीमारी के लक्षण के कारण अगर लगातार थकान महसूस होती है तो यह किडनी की समस्या के सामान्य लक्षण हैं | यहां समस्या आपको काफी तकलीफ़ देती हैं और ऐसे स्थिति में आपको तुरंत डॉक्टर को दिखाना चाहिए।
  • भूख की कमी : कही बार लोगों को अचानक भूख की कमी होने लगती हैं | ये बीमारी के कारण भी होता है और बिना बीमारी के भी यह लक्षण देखने को मिलते हैं अगर आपके शरीर मे भूख की कमी हो तो उसे नजरअंदाज न करे अच्छे डॉक्टर को दुखाना चाहिए क्योंकि भूख की कमी के कारण शरीर मे जरूरी पोषक तत्त्व न होने के कारण यह किडनी को नुकसान पहुंचा सकती है।
  • पैरो में सूजन : सोडियम हमारे शरीर में बनते हैं जिसे किडनी द्वारा फिल्टर होता है और शरीर तंदुरुस्त रहता है | ऐसे में अगर  सोडियम जमा होने लगे तो तुरंत किडनी पर काफी प्रभाव पड़ता है | जिसके कारण शरीर के अन्य हिस्सों पर सूजन होता है जैसे आंख, पैरों और हाथों में सूजन देखने को मिलता है यह किडनी खराब होने का संकेत हैं।
  • त्वचा में खुजली: किडनी खराब होने का एक और संकेत है त्वचा में रेड सर्कल बन जाना और लगातार खुजली होना,किडनी किसी भी तरह प्रभावित होती है तो कई बार त्वचा सुखी हो जाती है और खुजली के साथ दुर्गंध आने लगती हैं इसका इलाज समय पर करवाना चाहिए।
  • लगातार पेशाब आना : पेशाब शरीर के लिए निरोगी माना जाता है और दिन में हम कम से कम पाँच से दश बार हम पेशाब के लिए जाते हैं | लेकिन अगर उसे ज्यादा आपको पेशाब जाना पड़ता है तो यह किडनी खराब होने का संकेत हैं और पेशाब आमतौर पर किडनी से होकर विकृत होनेवाला अहम हिस्सा है। अगर पेशाब के संबधित किसी भी तरह की ज्यादा बीमारी होती है तो तुरंत इलाज करवाना चाहिए।

ऐसे कई लक्षण हैं जो किडनी को नुकसान पहुंचा सकते है किडनी के संबधित बीमारी होने पर समय पर इलाज करना ही कितनी की गंभीर बीमारी से बच सकते है।

 

किडनी खराब होने के लक्षण और उपाय – Kidney kharab hone ke sanket aur upay

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए किडनी का ध्यान रखना बेहद जरूरी होता है | क्योंकि अगर आपको किसी भी अन्य बीमारी होती है तो कही बार उसका प्रभाव किडनी पर पड़ता है

ऐसी कई छोटी बड़ी बीमारी से जिनसे किडनी खराब के लक्षण देखने को मिलते है हमने कुछ नीचे बिमारी के नाम दिए हैं जिनसे आपकी किडनी खराब होने का डर अधिक रहता है।

  • पेशाब कम आना और पेशाब करते वक्त जलन होना।
  • ज्यादा थकान और कमजोरी
  • ब्लड प्रेशर
  • डायबिटीज
  • फेफड़ों की समस्या
  • न्यूमोनिया
  • किडनी स्टोन (किडनी की पथरी)
  • टाइफाइड
  • सांस की तकलीफ

ये मुख्य कारण किडनी को प्रभावित करने के किए माने जाते है। उसके अलावा अगर ऐसे कई गंभीर बीमारी होते है जो किडनी खराब होने का कारण बनती हैं।

 

किडनी खराब होने से बचने के उपाय – Kidney kharab hone se bachane ke upay

जहा तक किडनी को बचाने के बात आती हैं तो सबसे पहला विचार हमारे दिमांग में यह आता है कि स्वास्थ्य के अलावा किडनी खराब होने से कैसे बचायें। हमने नीचे कुछ उपाय दिए हैं जिनसे आप अपनी किडनी को खराब होने के जोखिम से बच सकते है।

  • अन्य बीमारी होने पर तुरंत इलाज : आपको डायबिटीज या सूगर की तकलीफ है तो डॉक्टर से इलाज करवाना चाहिए। ज्यादा नमकीन भोजन का सेवन नही करना चाहिए।
  • ज्यादा पानी पीजिए : किड़नी को स्वस्थ रखने के लिए दिन में ज्यादा से ज्यादा चार से पाँच लीटर पानी पीना चाहिए, जिससे आपके शरीर तंदुरुस्ती रहे और किडनी के होने वाले इंफेक्शन से बचने में मदद मिले।
  • शराब का सेवन और अन्य लिक्विड : जैसे ज्यादा कोल्डड्रिंक और ठंडा पानी पीने से परहेज़ करे। बाहर मिलने वाली खाने पीने की चीजो से दूर रहिए और ज्यादा तीखा औऱ तला हुआ भोजन नही खाना चाहिए।

किडनी शरीर का एक ऐसा हिस्सा है जहाँ हमारे शरीर मे होने वाली सभी गतिविधियों को नियंत्रित करती है।

और अगर हम स्वास्थ्य या बीमारी होते उसका कारण किडनी होती हैं जैसे कि किडनी में दूषित पानी या अन्य कुछ खाने पीने की चीजों का सेवन करते हैं तो किडनी कुछ चीजों को सही से फिल्टर नही कर सकती जिसके कारण फेफडे और पेट मे दूषित तत्व जमा हो जाते है

और बीमारी का कारण बनता है। ऐसे में हमे बीमारी होने पर किडनी और अन्य जरूर अंग जैसी दिल,फेफड़े और किडनी ज्यादा प्रभावित न हो उससे पहले अच्छे डॉक्टर से इलाज करना चाहिए।

 

किडनी और लिवर खराब होने के लक्षण – Liver kharab hone ke lakshan

किडनी खराब होने के कई नॉर्मल लक्षण होते जिसे हम नजरअंदाज कर देते हैं और वह किडनी और लिवर के खराब होने का कारण बनता है।

  • पीलिया एक तरह लिवर खराब होने का संकेत हैं लिवर खराब होने से जोर्डस जैसे बीमारी होती हैं जैसे त्वचा पीली पड़ जाती है आँखे पीली और पेशाब गाड़ा आने लगता है ऐसे लक्षण जो लिवर खराब होने पर होता है जो पीलिया बीमारी का कारण बनता है।
  • किडनी खराब जब होती है तो खुजली जैसी समस्या ज्यादा देखने को मिलते यह इसलिए होती क्योंकि जो टॉक्सिन तत्व या मटीरियल बनते है उसे किडनी ठीक से फिल्टर नही कर पाती उसके कारण शरीर मे अन्य हिस्सों में खुजली होने लगती हैं त्वचा में फंगल इंफेक्शन जैसे लक्षण देखने को मिलते है।

किडनी और लिवर का खराब होने का खतरा तब ज्यादा बढ़ जाता है जब गंभीर बीमारी होती हैं।

और नॉर्मल बीमारी होने पर  किडनी लिवर को ज्यादा नुकसान नही होता लेकिन अगर आपको अन्य बीमारी भी होती है तो आपको हाई पावर की दवाओ का सेवन नही करना चाहिए क्योंकि हाई पावर की दवा आपकी किडनी के लिए जोखिम पैदा कर सकती हैं।

इसलिए डॉक्टर की सलाह और दिशा निर्देश अनुसार दवाओं का सेवन करना चाहिए।

 

दोनों किडनी खराब होने पर क्या होता है – Dono Kidney Kharab Hone Ke Lakshan

दुनिया मे ऐसे कई लोग हैं जो एक किडनी पर जीवन जी रहे है उसे किसी भी तरह का कोई नुकसान या तकलीफ नही होती क्योंकि एक किडनी भी यूरिया की मात्र में किसी भी तरह का बदलाव नही ला सकती।

लेकिन सबसे बड़ा सवाल तब उठता है जब बात दोनो किडनी खराब होने की आती हैं हमने बताया कि किडनी खराब होने के लक्षण क्या होते है

लेकिन जब दोनों किडनी खराब हो जाती हैं तब उनके लक्षण इतने गंभीर होते है कि मरीज़ के जिंदगी का सबसे बड़ा खतरा बढ़ जाता हैं।

वह इसीलिए होता है कि जब शरीर मे दूषित कचरा या बैक्टीरिया को फिल्टर कर के शरीर के स्वस्थ रखने का काम किडनी करती थी जब वही शरीर मे नही रहेंगी तो शरीर मे ब्लड क्रिएटिनिन और यूरिया की मात्रा बहुत ज्यादा बढ़ जाती हैं।

और मरीज़ के जीवन जीने का जरिए ऐसे खत्म हो जाता और मरीज़  के शरीर पर काफी बड़ा प्रभाव पड़ता हैं।

 

दोनों किडनी खराब होने पर क्या करना चाहिए – Dono Kidney Kharab Hone par kya kare

अगर अचानक दोनो किडनी खराब हो जाती हैं तो हाई बीपी और ब्लड प्रेशर हाथ पैरो में सूजन, पैशाब की तकलीफ जैसी अन्य तकलीफ़ बढ़ जाती है | और ऐसे स्थिति में मरीज़ की जान का भी खतरा रहता है।

लेकिन अगर मरीज़ की दोनों किडनी खराब हो जाती है तो वह दूसरी किडनी ट्रांसप्लांट कर सकते है, और इसको करने के लिए मरीज़ के पास काफी कम समय होता है

उसी समय के बीच किडनी ट्रांसप्लांट करना पड़ता है और कई ऐसे मरीज़ है जो किडनी ट्रांसप्लांट के बावजूद अपनी नॉर्मल जिंदगी जी रहे है

किसी भी मरीज़ की दोनों किडनी खराब हो जाती हैं तो तुरंत उसे हॉस्पिटल में एडमिट करना पड़ता है

और एक किडनी को सबसे पहले स्वस्थ करने की जरूरत पड़ती हैं साथ ही डॉक्टर किडनी ट्रांसप्लांट का विकल्प भी रखते है।दोनों किडनी खराब होने पर मरीज़ का इलाज काफी ट्रॉपिकल होता है और ध्यान से किया जाता हैं।

 

किडनी खराब होने का कारण – Kidney Kharab Hone Karan

कई मरीज़ की किडनी में खराबी होती लेकिन उसे पता तक नही होता जब किडनी ख़राब होने का लक्षण देखने को मिलते है तब पता चलता है

हमने नीचे कुछ बीमारियों के बारे में बताया है जिनसे किडनी खराब होने का डर ज्यादा रहता हैं।

  • डायबिटीज: यह एक गंभीर बीमारी माना जाता है और किडनी खराब होने का मुख्य कारण भी डायबिटीज है। जिसमे सूगर की कमी होती और चक्कर आते है। डायबिटीज के मरीज़ को लगातार दवाओं का सेवन समय पर करना पड़ता है अगर नही करते तो इसका सीधा प्रभाव किडनी पर पड़ता हैं।
  • सांस लेने में परेशानी: कई मरीज़ को अस्थमा की बीमारी होती हैं जिसमे मरीज़ ठीक से सांस में दिक्कत होती हैं इस बीमारी में उनको अपनी सेहत का काफी ध्यान रखना पड़ता है और यह बीमारी किडनी खराब होने का कारण बनती हैं।
  • सीने में दर्द: फेफड़ों की समस्या और सीने में दर्द होना किडनी खराब होने का संकेत है अगर किसी भी मरीज़ को सीने में लगातार दर्द होता है या फेफड़ों में बलग़म सांस फूलने जैसी समस्या होती हैं तो तुरंत डॉक्टर से इलाज करवाना चाहिए।
  • ब्लड प्रेशर: देश मे लाखो लोग ब्लड प्रेशर जैसी बीमारी से पीड़ित हैं और लगातार दवाओं का सेवन करते हैं लेकिन क्या आपको पता है ब्लड प्रेशर में ली जाने वाली दवाओं काफी पावरफुल होती हैं जो शरीर मे कमजोरी और इसका असर किडनी पर पड़ता है। इसीलिए ब्लड प्रेशर होने पर ब्लड रिपोर्ट और यूरिन रिपोर्ट करवाना बेहद जरूरी होता है। और डॉक्टर भी इन रिपोर्ट का सुझाव देते है।

 

किडनी खराब होने का इलाज – Kidney Kharab Hone Ka ilaj

जभी कोई व्यक्ति को किडनी की समस्या होती हैं तो सबसे पहले उसके ईलाज के बारे में सोचते है। क्योंकि जभी किसी व्यक्ति को किडनी खराब होने की समस्या होती हैं तो उन्हें कई परेशानियों का सामना करना पड़ता। ऐसे में हमने किडनी खराब होने का इलाज के बारे नीचे बताया है।

  • ब्लड टेस्ट: यह टेस्ट हर बीमारी के लिए जरूरी माना जाता है लेकिन जब गंभीर बीमारी होती हैं तब यह टेस्ट काफी जरूरी होता है। किडनी की समस्या होने और ब्लड टेस्ट सबसे पहली प्रायोरिटी रहती हैं। इस टेस्ट से डॉक्टर पता लगाने की कोशिश करते हैं कि ब्लड में इस बीमारी के कारण कितना असर पता है।
  • यूरिन टेस्ट: किडनी की समस्या कितनी गंभीर है उसका पता यूरिन टेस्ट के माध्यम से किया जाता हैं। और जभी किडनी की समस्या होती हैं तो यूरिन टेस्ट उसका सबसे सटीक तरीका है।
  • सिटी स्कैन: सिटी स्कैन किसी भी गंभीर बीमारी को परखने का बेहतर विकल्प हैं क्योंकि इससे किडनी इंफेक्शन और किडनी खराब होने का ब्लॉकेज का पता चलता है।
  • किडनी ट्रांसप्लांट: अगर किडनी की समस्या ज्यादा बढ़ जाती है और इसका इलाज नही होता तो डॉक्टर उसे किडनी ट्रांसप्लांट का सुजाव देते है जिसमे स्वस्थ किडनी मरीज़ की खराब किडनी को निकालकर स्वस्थ किडनी प्लाट करते है जिससे मरीज़ को लंबे दिनों तक हॉस्पिटल में एडमिट रहना पड़ता है।

 

किडनी ट्रांसप्लांट का खर्चा – kidney transplant cost in Hindi

जैसा कि हमने ऊपर बताया कि जभी किडनी की समस्या बढ़ जाती है और उसको ठीक करने के लिए किडनी ट्रांसप्लांट का ही विकल्प रहता है |और जभी किडनी ट्रांसप्लांट की बात आती है

मरीज़ के दिमांग में ट्रांसप्लांट के खर्चे को लेकर सवाल उठता है। और महंगे खर्च के लिए कई बार किडनी ट्रांसप्लांट से डरते हैं

लेकिन आपको बता दें अपने सेहत को लेकर कभी डरना नही चाहिए, आज के समय मे कई सरकारी हॉस्पिटल है जहाँ कम खर्च में किडनी ट्रांसप्लांट करवा सकते हैं।

फिर भी अगर देखा जाए तो कम से कम दो या तीन लाख का किडनी ट्रांसप्लांट का खर्चा हो सकता है बाकी हॉस्पिटल और डॉक्टर पर निर्भय करता है।

और सबसे जरूरी बात अगर मरीज़ की किडनी खराब है और इलाज के बावजूद ठीक नही हो रही तो उसके पास किडनी ट्रांसप्लांट है इस इस समस्या से निजात पा सकते हैं।

 

किन आदतों से किडनी खराब हो सकती हैं

हमारे शरीर मे कई ऐसे अंग होते है जिसको स्वस्थ रखना हमारे हाथ मे होता है लेकिन हमारी कुछ बुरी आदतें हमे बीमारी का शिकार बनाती हैं | इनमे किडनी की समस्या भी है।

हम सब जानते हैं किडनी हमारे शरीर का एक ऐसा अंग हैं, जिनके बिना हमारा जीवन अधूरा है इसलिए इसको स्वस्थ तब रखा जा सकता है | जब हम बूरी आदतों को काबू में करे।

नीचे हमने कुछ बुरी आदतों के बारे में बताया है जिनके कारण किडनी खराब होने की समस्या हो सकती हैं।

  • पानी कम पीना,प्यास छुपाना
  • ब्लड प्रेशर में लापरवाही करना और समय पर इलाज न करवाना
  • स्ट्रीट फूड का सेवन
  • तला हुआ खाना
  • ज्यादा नमकीन भोजन का सेवन
  • ज्यादा सूगर वाली चाय पीना
  • अधिक मास खाने से किडनी की समस्या होती हैं।
  • सोडा और कोल्डड्रिंक जैसी चीजें ज्यादा पीने से किडनी खराब होने का खतरा रहता है।

 

किडनी की समस्या किसे अधिक होती हैं

ये बात सच है कि किडनी की समस्या हर किसी को नही होती लेकिन नजरअंदाज भी नही करना चाहिए। हमने निचे बताया है किन लोगों को किडनी की समस्या होने की संभावना अधिक होती हैं।

  • छोटे बच्चों को किडनी की समस्या हो सकती हैं
  • 65 साल से अधिक उम्र के लोगों को।
  • गर्भवती महिलाओं को।
  • डायबिटीज के मरीज और अगर एनीमिया है।
  • रक्त प्रणाली कमजोर है।
  • ब्लड प्रेशर के मरीज़।

 

किडनी को स्वस्थ रखने के घरेलू उपाय – Kidney kharab hone par gharelu upay

आपको बता दें जैसे अन्य बीमारियों को ठीक करने के लिए घरेलू उपाय से किसी भी गंभीर बीमारी से छुटकारा पा सकते हैं

वैसे ही हम किडनी संबधित किसी भी गंभीर बीमारी होने से पहले हम किडनी को स्वस्थ रख सकते है।

हमने कुछ घरेलू उपाय बताए हैं जिनके द्वारा आप अपनी किडनी को स्वस्थ रख सकते हैं और किडनी की होनेवाली किसी भी बीमारी से बच सकते है

  • नमक को नियंत्रण करे: हम रोज खाने में ज्यादा नमकीन और स्वादिष्ट खाना पसंद करते हैं लेकिन अगर आपको किडनी के समस्या से बचना है तो नियंत्रण में नमकीन का इस्तेमाल खाने में करना चाहिए।
  • डायबिटीज को कंट्रोल में रखे: अगर आपको डायबिटीज जैसी समस्या है तो आपको चीनी को नियंत्रित करना चाहिए, और डायबिटीज को कंट्रोल में रखना चाहिए क्योंकि डायबिटीज की समस्या ज्यादा होती है तो किडनी पर उसका बुरा असर पड़ता है।
  • ब्लड प्रेशर: अगर आपको ब्लड प्रेशर की समस्या है तो डॉक्टर से रेगुलर चैकअप करवाना चाहिए, अगर ब्लड प्रेशर में किसी भी तरह का गलत लक्षण दिखे तो तुरंत इलाज़ करवाना चाहिए।
  • स्वस्थ भोजन:आपको पता ही होगा किडनी हमारे शरीर मे टॉक्सिन जैसे दूषित तत्वों को फिल्टर कर शरीर को स्वस्थ रखने का काम करती हैं ऐसे में अगर आपको किडनी को स्वस्थ रखना है तो आपको स्वस्थ भोजन खाना चाहिए, सब्जियां और फ्रूट जैसे चीजो को अधिक खाना चाहिए।

 

कैसे फूड खाने चाहिए

किडनी की समस्या जितना हम गंभीर समझते हैं उनसे कही ज्यादा आम बीमारी है आगे हमने सही है उसका इलाज करे या खानेपीने का ध्यान रखने से किडनी की समस्या का सामना कभी नही करना पड़ेगा हमने नीचे कुछ ऐसे फुट के बारे में बताया है जिनका सेवन करने से आपको कभी कितनी की समस्या नही होगी।

  • जामुन: आप सब जानते होंगे पेड़ में होने वाले काले रंग के जामुन के बारे में। आपको बता दें जामुन में एंटीऑक्सीडेंट होता है। और सोडियम की मात्र बहुत ही कम होती हैं। इसको खाने से इम्युनिटी पावर बढ़ती है साथ ही किडनी की होने वाली गंभीर बीमारी से भी बच सकते है।
  • अनानास: पाचन तंत्र और शरीर को तंदुरुस्त रखने के लिए काफी फायदे फुट में से एक है। इसका सेवन हप्ते में दो बार करने से इम्युनिटी स्ट्रांग बनती हैं और टॉक्सिन जैसे तत्व को खत्म करने में मदद मिलती हैं साथ ही किडनी को स्वस्थ रखने के लिए अनानास का सेवन करना काफी फायदेमंद होता है। साथ ही इसमें फाइबर होता है जो गंभीर बीमारी से लड़ने में मदद मिलती हैं।
  • लाल अंगूर: सबसे पौष्टिक फूड लाल अंगूर होते है। इनमे बिटामिन भरपूर होता है। अगर आपको कमजोरी है या आपको लगातार सिरदर्द होता है तो लाल अंगूर खाने से आप इस समस्या से निजात पा सकते है साथ ही किडनी की गंभीर बीमारी से बच सकते है। और आपको बता दें लाल अंगूर को किडनी फ्रेंडली फूड भी माना जाता हैं। आप कम से कम हप्ते में दो या तीन बार अंगूर का सेवन करने से कितनी भी बड़ी बीमारी होने से रोक सकते है। इसके अलावा शरीर के लिए भी काफी स्वास्थ्य है।
  • लहसुन: हम सब के घर मे खाना बिना लहसुन से नही बनता है। लहसुन में औषधीय गुणों की काफी भारी मात्रा होती हैं। इसकी चटनी और खाली लहसुन की तीन चार कली रोटी के साथ खाने से शरीर में कभी भी गंभीर बीमारी नही होती। इसमे विटामिन C,B6 मौजूद होते है।

 

FAQ- Kidney Kharab Hone Ke Lakshan in Hindi

सवाल : किडनी खराब होने पर शरीर के कौनसे हुस्से में दर्द होता हैं?

पेट और पीठ दर्द होता है और पेट के निचले हिस्से में दर्द होता है।

सवाल : किडनी खराब होने पर शरुआती लक्षण?

शरुआती लक्षण पैरो में सूजन और खुजली जैसे लक्षण देखने को मिलते हैं।

सवाल : किडनी की समस्या से बचने के लिए जैसा खाना परहेज करना चाहिए?

ज्यादा नमकीन और तला हुआ खाना नही खाना चाहिए।

सवाल : किडनी कब खराब होती हैं?

शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी होने पर किडनी की समस्या होती हैं।

 

Disclaimer

इस लेख में दी गई जानकारी विभिन्न विशेषज्ञों के अध्ययन और राय के साथ-साथ आम आदमी के स्वास्थ्य पर आधारित है। इस जानकारी को देने का उद्देश्य विषय से परिचित होना है। पाठकों को अपने स्वास्थ्य के आधार पर कोई भी निर्णय लेने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लेनी चाहिए।

 

Conclusion

इस लेख में आपने किडनी खराब होने के लक्षण के बारे में जाना आशा करते है | आप Kidney Kharab Hone Ke Lakshan जैसे महत्वपूर्ण विषय की पूरी जानकारी जान चुके होंगे।

आपको लगता है कि इसे दूसरे के साथ भी Share करना चाहिए तो इसे Social Media पर सबके साथ इसे Share अवश्य करें।

और इस विषय संबंधित कोई भी सवाल आप के मन में होगा तो निचे कमेंट में बताये हम आप के कमेंट का जरूर जवाब देंगे | शुरू से अंत तक इस Article को Read करने के लिए आप सभी का तहेदिल से शुक्रिया…

error: Content is protected !!