किस विटामिन की कमी से नींद नहीं आती है – Kis Vitamin ki kami se nind nahin aati

किस विटामिन की कमी से नींद नहीं आती है :- नींद हम सब मनुष्यों के लिए बहुत आवश्यक है हर व्यक्ति को 7 से 8 घंटे सोना अति आवश्यक है एक अच्छी नींद से ही हम अपने पूरे दिन की क्रियाओं को अच्छे से कर सकते हैं

नींद की कमी बहुत सी बीमारियों को जन्म देती है अच्छी नींद ना ले पाने से हम एक अच्छा जीवन जीने में असमर्थ हो जाते हैं, नींद हमारे दिमाग की ज़रुरत है

यदि हमारे शरीर को पर्याप्त नींद न मिले तो उसकी रोज़ मर्रा की क्रियाओं में कठिनाई आने लगती है थकान और तनाव महसूस होने लगता है

एक अच्छी नींद, अच्छे से सो पाना, 8 घंटे के बीच में किसी भी चीज का डिस्टरबेंस ना होना हमारे शरीर को पूरी तरह से आराम मिलना अति आवश्यक है

अच्छी नींद ना ले पाने अनिद्रा इन को इंग्लिश में इनसोम्निया (Insomnia) कहते हैं आदि की समस्याएं होती हैं,हमारे शरीर की क्रियाओं में विटामिन, प्रोटीन, खनिज पदार्थों का बहुत उपयोग है

अगर हमारे शरीर में विटामिन, प्रोटीन या किसी भी खनिज पदार्थ की कमी हो जाए तो हमें बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ता है उसी में से कुछ विटामिन की कमी होने से हमें अनिद्रा की समस्या भी होती है

आज  इस आर्टिकल ‘Kis Vitamin ki kami se nind nahin aati’ में हम आपको वह सब विटामिन बताएँगे जिनकी कमी से अनिद्रा की समस्या होती है और उनके लक्षण, उनकी कमी कैसे पूरी हो सकती है आदि सब चीज़ें विस्तार में जानने की कोशिश करेंगे

 

Kis Vitamin ki kami se nind nahin aati
Kis Vitamin ki kami se nind nahin aati

 

किस विटामिन की कमी से नींद नहीं आती है – Kis Vitamin ki kami se nind Nahin Aati

हमने नीचे चार ऐसे मुख्य विटामिन दिए हैं अगर यह आपके शरीर  में पर्याप्त मात्रा में है तो आप नींद से जुडी समस्या से बच सकते है आइये जानते है किस विटामिन की कमी से नींद नहीं आती है

  • विटामिन डी
  • विटामिन बी 6
  • विटामिन सी
  • विटामिन ई

 

विटामिन डी (Vitamin D) की कमी से नींद नहीं आती है

विटामिन डी हमारी हड्डियों को मजबूत अर्थात स्वस्थ रखने का काम करते है और यह हमारी मांसपेशियों के लिए एक बहुत ही मुख्य विटामिन है इसमें कैल्शियम, फास्फेट पाए जाते हैं, कैल्शियम और फॉस्फेट साथ में हमारी हड्डियों और मांसपेशियों को स्वस्थ रखने का काम करते है

विटामिन डी हमें सूर्य की किरणों से मिलने वाला विटामिन है यह हमें पर्याप्त मात्रा में सूर्य की किरणों से मिल सकता है

रिसर्च में यह पाया गया है कि विटामिन डी की कमी से आपको अनिद्रा की समस्या भी होती है

यदि आपके शरीर में विटामिन डी की मात्रा पूरी हो तो आपकी बहुत सी शारीरिक समस्या दूर हो सकती है, यह ऐसा विटामिन है जो हमारे मूड को सही रखने में भी सहायक होता है

 

विटामिन डी की कमी के लक्षण – Vitamin D ke kami ke lakshan

अनिद्रा की समस्या होना या नींद का बीच-बीच में टूट जाना आदि समस्या हो सकती है

  • पैरों में कमजोरी रहना
  • हड्डियों में दर्द रहना
  • जोड़ों के आकार का निराकार होना
  • मांसपेशियों मे कमजोरी आना
  • हड्डियों में सही से विकास न होना
  • हड्डियाँ कमज़ोर या नरम हो जाना
  • शरीर में पूरे दिन थकावट रहना
  • मांसपेशियों में एंठन महसूस होना
  • बिना बात के दुःख होना या डिप्रेशन के लक्षण दिखने

अगर यह लक्षण आपके लक्षण से भी मिलते हैं तो आप यह समझ सकते हैं कि आपके शरीर में विटामिन डी की कमी है

आमतौर पर विटामिन डी की कमी का पता हड्डियों में दर्द, मांसपेशियों में दर्द यानी हड्डियों और मांसपेशियों की किसी समस्या से लगता है

 

विटामिन डी के श्रोत 

  • दूध से बने पदार्थ 

दूध से बने पदार्थ जैसे दूध, दही, पनीर आदि के सेवन से हमारे शरीर को विटामिन डी मिलता है यह विटामिन डी प्राप्त करने का सबसे अच्छा तरीका है

नियमित रूप से एक गिलास दूध के सेवन से आपका शरीर स्वस्थ्य रहेगा, दूध में हर तरह के तत्व पाए जाते है इसलिए इसको सम्पूर्ण आहार भी कहा जाता है

  • धूप

हमारे शरीर में विटामिन डी की आवश्यकता बहुत ज्यादा होती है और हमारे शरीर में विटामिन डी की ज्यादा ज़रूरत धूप और दूध से बने पदार्थ से पूरा हो जाता है

सुबह की धूप में सबसे ज्यादा विटामिन डी होता है और पूरा दिन कमरे में या धूप से दूर रहने वाले लोगों के शरीर में अक्सर विटामिन डी की कमी होती है

सुबह 7 से 10 बजे की धूप में 10 मिनट बैठने से हमारे शरीर की हड्डियाँ स्वस्थ्य रहती है हमारे शरीर की विटामिन डी की ज़रूरतें पूरी हो जाति है

 

विटामिन डी के अन्य श्रोत 

  • मछली
  • लीवर का तेल
  • अंडे के बीच का हिस्सा
  • मशरुम
  • संतरे का जूस

विटामिन बी 6 (vitamin B 6) की कमी कारण देर रात तक नहीं आती

खुशी और शांति पैदा करने वाले हार्मोन का सही मात्रा में पैदा होना बहुत आवश्यक है यदि आप खुश और शांत नहीं रहेंगे तो भी आपको डिप्रेशन की समस्या हो सकती है जिसमें अनिद्रा की समस्या होना एक आम बात है

विटामिन बी 6 एक ऐसा विटामिन है जो हमारे शरीर में खुशी और शांति पैदा करने वाले हार्मोन सेराटोनिन और मेलाटोनिन को पैदा करने में सहायक होता है यह व्यक्ति को खुश, शांत रहने में सहायता करता है जिससे अनिद्रा की समस्या भी नहीं होती है

अगर आपके भी दिमाग में यह सवाल आता है की किस विटामिन की कमी से नींद नहीं आती है तो आपको बता दे की अनिद्रा में विटामिन बी 6 की कमी का बहुत बड़ा रोल है

 

विटामिन बी 6 की कमी के लक्षण – Vitamin 6B ke kami ke lakshan

  • विटामिन बी 6 की कमी से नींद की समस्याएँ भी होती है क्योंकि यह एक ऐसा विटामिन है जो हमारे मूड पर असर डालता है इसलिए इसका सीधा असर हमारी नींद पर भी होता है
  • त्वचा पर रशेस पड़ने लगते है
  • हमारे होंठ हमें सूखे-सूखे लगते हैं अर्थात सूखे होने के कारण होंठ फटने लगते हैं
  • विटामिन बी 6 की कमी होने पर जीभ में भी सूजन आ जाती है
  • विटामिन B 6 की कमी से डिप्रेशन आदि की समस्या भी हो जाती है क्योंकि यह सीधा हमारे हारमोंस की बनावट पर असर डालता है जिसके कारण हमारे मूड पर असर पड़ता है और डिप्रेशन की समस्या होने की भी संभावना रहती है
  • विटामिन बी 6 की कमी से हमारे शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर हो जाती है जिससे हमारा शरीर जल्दी संक्रमण में आ जाता है
  • विटामिन बी 6 की कमी आपके शरीर में ऑक्सीजन की कमी या फिर खून की कमी का कारण भी बन सकती है क्योंकि  विटामिन बी 6 आपके शरीर में हीमोग्लोबिन बनाने में सहायता करता है
  • हाथ पैरों में जलन होना या फिर झुनझुनी होना भी विटामिन बी 6 की कमी का ही लक्षण है
  • विटामिन बी 6 की कमी से चलने में कठिनाई भी होती है
  • विटामिन बी 6 हमारे मानसिक संतुलन को बनाए रखने में भी सहायता करता है इसकी कमी हमारे मानसिक स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है

 

विटामिन बी 6 के श्रोत 

विटामिन बी 6 के कुछ मुख्य श्रोत जिनके सेवन से आपका शरीर विटामिन बी 6 की कमी को पूरा कर लेगा

  • दूध

दिन में रोज़ एक गिलास दूध का सेवन करिए, आजके समय में शुद्ध दूध नही मिलता, दूध से ज्यादा तो उसमे पानी मिला रहता है पर यदि आप कही से शुद्ध दूध की व्यवस्था कर पाए तो यह एक स्वस्थ्य शरीर के लिए बहुत ज़रूरी रहेगा

  • रिकोता पनीर 

यह दूध से बना होता है, कच्चे पनीर का सेवन करने से हमें बहुत तरह के विटामिन मिलते है, लगभग हर तरह के विटामिन की कमी में कच्चे पनीर का सेवन करने को कहते है

  • सामन 

यह एक मछली का प्रकार है इस मछली के सेवन से ख़ास प्रकार के हॉर्मोन पैदा होते है जो मानसिक संतुलन को बढ़ावा देते है

जिसके कारण डॉक्टर बहुत से विटामिन की कमी होने पर इस मछली को खाने की सलाह देते है और यह मछली अपने तत्वों के लिए बहुत प्रचलित है

  • टूना (येलोफिन और अल्ब्कोर)

विटामिन बी 6 की काफी मात्र टूना में प्राप्त होती है टूना की मुख्य किस्मे जिसमे विटामिन बी 6 सबसे ज्यादा पाया जाता है वो येलोफिन और अल्ब्कोर है

  • गाजर 

गाजर को कच्छा खाने से विटामिन बी 6 के साथ और भी महत्वपूर्ण तत्व मिलते है इसको पका के खाने से तत्वों की मात्रा बहुत कम हो जाति है जिसके कारण कम लाभ होता है

  • शकर गंज

भारत में इसको सिर्फ गंजी के नाम से भी जाना जाता है यह भी आलू के जैसा ही होता है इसका स्वाद मीठा होने के कारण इसको मीठा आलू भी कहते है इसमें भी विटामिन बी 6 पाया जाता है

  • छोला 

कच्छा चना भिगो के खाने से बहुत लाभ होता है यह शरीर बनाने और मुख्य तत्वों  की कमी पूरा करने में सहायक है

  • अनाज 

सुबह के समय नाश्ते में अनाज से बने भोजन का सेवन करने से हमारे शरीर को बहुत लाभ होता है

हमारा शरीर पूरी रात खाली रहता है जिसके कारण सुबह का नाश्ता बहुत आवश्यक होता है

यदि आप सुबह के नाश्ते में अनाज से बनी वस्तुओं का सेवन करते हैं तो आपको बहुत सारे विटामिन और भी तत्व की प्राप्ति होती है

  • चिकन का कलेजा 

मुर्गी का मीट खाने से हमें विटामिन बी के तत्वों की प्राप्ति होती है

विटामिन बी 6 के अन्य श्रोत 

  • अविकैड़ो
  • केला
  • मटर
  • पालक
  • बीफ

विटामिन सी (vitamin C) देर रात तक नींद नहीं आती है

विटामिन सी एक एंटीऑक्सीडेंट विटामिन है और यह पावर हाउस के जैसे भी काम करता है यह अच्छी इम्यूनिटी के लिए बहुत जरूरी है यह दिल के स्वास्थ्य के लिए भी जरूरी है

विटामिन सी खून के संचार को बनाए रखने में सहायता करता है और यह एक अच्छी नींद के लिए बहुत आवश्यक है

विटामिन सी हमारे शरीर को ऊर्जा प्रदान करता है यह एक अच्छे स्वास्थ्य के लिए बहुत आवश्यक है यह हमारे शरीर में नींद और भी जरूरी क्रिया में सहायक है

 

विटामिन सी की कमी के लक्षण  – Vitamin C ke kami ke lakshan

  • विटामिन सी की कमी से हमें हमारे शरीर में जल्दी चोट लग जाती है बालों के झड़ने लाल रक्त वाहिकाओं की कमी के कारण धब्बे से पड़ जाते हैं
  • हमारे पैरों में जांघों में हाथों में छोटे-छोटे मुंहासे होने लगते हैं
  • हमारे बाल दो मुंहे हो जाते हैं हमारे बालों में कई कमियां दिखने लगती हैं
  • नाखूनों के नीचे धब्बे पड़ने लग जाते हैं
  • विटामिन सी की कमी के कारण हमारे जोड़ों में दर्द बना रहता है
  • विटामिन सी की कमी से हमारी हड्डियाँ सही से विकसित नहीं होती
  • इसकी कमी से हमारे मसूड़े काफी खराब होने लगते हैं
  • प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर हो जाती है जिसके कारण हम जल्दी संक्रमण से प्रभावित हो जाते हैं विटामिन सी की कमी से आयरन की कमी हो सकती है जिससे हमें एनीमिया का खतरा हो सकता है
  • विटामिन सी की कमी से वसा में वृद्धि होती है
  • विटामिन सी की कमी से ऑक्सीजन की कमी हो जाती है

 

विटामिन सी के श्रोत 

  • काकाडू पल्म

यह विटामिन सी से भरपूर होता है इसमें प्रति 100 ग्राम में 2907 मिलीग्राम विटामिन सी पाया जाता है

  • एसरोला चेरी 

यह विटामिन सी से तो भरपूर होता ही है साथ में यह ओक्सिड़ेटीव तनाव, सूजन और पैरों की दर्द से भी राहत देने में सहायक है

  • गुलाब के कूल्हे 

यह स्वस्थ्य त्वचा के लिए ज़रूरी होते है इस में 100 ग्राम में लगभग 426 मिलीग्राम विटामिन सी पाया जाता है, हमारी त्वचा पे निखार और चमक विटामिन सी के कारण ही आती है

  • मिर्च 

हरी मिर्च और लाल मिर्च दोनों ही विटामिन सी से भरपूर होते है पर हरी मिर्च में लाल मिर्च के मुकाबले बहुत अधिक विटामिन सी होता है और यह कोई नुक्सान भी नही करती

  • खरबूजा 

खरबूजा विटामिन सी का बहुत ही अच्छा श्रोत है क्या आप जानते है की एक खरबूजे के टुकड़े में 17.4 ग्राम विटामिन सी होता है अब खुद ही अंदाज़ा लगाया जा सकता है की पूरा खरबूजा कितने ज्यादा विटामिन सी से भरपूर होगा

  • ब्रोकली 

ब्रोकली विटामिन सी और विटामिन डी दोनों से भरा होता है इसको उबाल कर खाया जाता है उबली हुई ब्रोकली में 100 ग्राम में लगभग 65 मिलीग्राम विटामिन सी होता है

  • नीम्बू 

निम्बू तो आयुर्वेदिक औषधि में भी आता है इसके बहुत से फायदे है और हर खट्टी चीज़ में  विटामिन सी ज़रूर से होता है निम्बू में प्रति 100 ग्राम पर 53 मिलीग्राम विटामिन सी पाया जाता है इसके और भी बहुत फायदे है और इसके बहुत से उपयोग भी है

  • पपीता 

यह शरीर को उर्जा प्रदान करता है और यह विटामिन सी के साथ और भी कई विटामिन और तत्व से भरपूर होता है

जब भी व्यक्ति को बुखार, कमजोरी आदि की समस्या होती है तब उसको पपीता खाने को कहा जाता है पपीता के प्रति 100 ग्राम में लगभग 61 मिलीग्राम विटामिन सी मौजूद होता है

  • स्ट्राबेरी 

इसे पौष्टिक से भरे फलों में गिना जाता है इसमें बहुत से तत्व मौजूद होते है इसके प्रति 100 ग्राम में 59 मिली ग्राम विटामिन सी की उपस्थिति पायी गयी है

  • संतरा 

संतरे में विटामिन सी के साथ साथ और भी कई विटामिन मौजूद होते है यह एक खट्टा फल है यह हमारे त्वचा के लिए भी लाभकारी है प्रति 100 ग्राम संतरे में 59 मिलीग्राम विटामिन सी पाया गया है

अब तो आप जान ही गए होंगे की किस किस विटामिन की कमी से नींद नहीं आती है पर इन सबके इलावा एक और मुख्य विटामिन है जिसका नाम विटामिन ई है इसकी कमी भी अनिद्रा को बढ़ावा देती है


विटामिन ई (vitamin E) की कमी से देर रात नींद ना आने की समस्या होती है

विटामिन ई हमारी त्वचा और बालों के लिए बहुत उपयोगी है यह नींद से जुड़ी समस्याओं के लिए भी उपयोगी है यह अच्छी नींद के लिए एक जरूरी नुटरेंट है, यह हमारी नींद से जुड़े पैटर्न को सही करने में सहायक है

यह याददाश्त जाना, अनिद्रा दिमाग की कमजोरी आदि समस्याओं को सही करने में उपयोगी है यह शरीर और मस्तिष्क दोनों के स्वस्थ्य को सही रखने में उपयोगी है

विटामिन ई की सेवन से हमारा मस्तिष्क स्वस्थ रहता है और तो और हमें नीद से जुडी समस्याएँ भी नही होती, बीच-बीच में नीद टूटना ऐसी समस्याएँ भी नही होती

 

विटामिन ई की कमी के लक्षण – Vitamin C ke kami ke lakshan

  • मांसपेशियों में कमजोरी आ जाती है जिसके कारण हमें कोई भी काम करने में बहुत ही कठिनाई होती है हमारा शरीर ऑक्सीडेंट हो जाता है जिसके कारण स्ट्रेस बढ़ता है और हमारे मांसपेशियां कमजोर हो जाती है
  • विटामिन ई की कमी वाले व्यक्ति को कोआर्डिनेशन करने में बहुत कठिनाई होती है उसको चलने में भी दिक्कत होती है
  • हाथों पैरों का सुन्न होना या फिर हाथों पैरों में झुनझुनी होना विटामिन ई की कमी के लक्षण है
  • विटामिन ई की कमी होने पर आंखों की रोशनी कम हो जाती है जिससे हमें देखने में जरूर देखने में, साफ़ देखने में आदि चीजों में आंखों से जुड़ी समस्याएं हो सकती हैं
  • हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली बहुत ही कमजोर हो जाती है जिससे हमारी चोट जल्दी ठीक नहीं होती है हम किसी भी संक्रमण के प्रभाव में जल्दी आ जाते हैं

 

विटामिन ई के श्रोत 

विटामिन ई के बहुत से श्रोत है हमने कुछ मुख्य श्रोत दिए है जिसमे बहुत ज्यादा विटामिन ई मिलता है

  • गेंहू
  • सूरज मुखी का बीज
  • बादाम
  • मिमी सपाटे
  • सूरजमुखी का तेल
  • बादाम का तेल
  • हेजनल
  • अबलोन
  • हंस का मांस
  • मूंगफली
  • सैलमन मछली
  • एवोकैड़ो
  • रेनबो त्रुत
  • आम
  • शलजम का साग
  • कीवी फल
  • घोंघे
  • काजू
  • ब्लैकबेरी

FAQs – किस विटामिन की कमी से नहीं आती नींद

सवाल: ज्यादा नींद किस विटामिन की कमी से आती है ?

विटामिन डी की कमी से कम नींद भी आती है और कुछ हालातों में ज्यादा नींद भी आती है

सवाल: नींद न आने को कौन सी बीमारी कहते है ?

नींद न आने को अनिद्रा की बीमारी कहते है इसके बहुत से कारण है और इसको बहुत तरीकों से सही भी किया जा सकता है

सवाल: कौन से फल के सेवन से अच्छी नींद आती है ?

केले और मधु के सेवन से अच्छी नींद आती है

सवाल: 2 मिनट में कैसे सो सकते है ?

यदि आप सिर्फ 7 मिनट तक एक ही अवस्था में बिना हिले जुले लेते रहेंगे तो आपको 8 वें मिनट में नींद आ जाएगी और यह बहुत से प्रयोगों में देखा गया है

सवाल: नींद की आयुर्वेदिक दावा का क्या नाम है ?

आयुर्वेद में ऐसी बहुत सी दवाइयां है जिनके सेवन से आपकी अनिद्रा की समस्या दूर हो सकती है

महर्षि आयुर्वेद का ब्लिस्स्फुल स्लीप(BLISSFUL SLEEP)

ipycvi8hgsj83b8qccrx

सवाल: पतंजलि की नींद की दवा ?

पतंजलि ने नीद और तनाव आदि समस्याओ के लिए, दिमाग को और अच्छा बनाने के लिए एक दवाई बनाई है जिसका कोई नुक्सान नही है

दिव्या मेधावती एक्स्ट्रा पॉवर (DIVYA MEDHA VATI EXTRA POWER)

1625052376400x300


Conclusion

आजके इस आर्टिकल  “किस विटामिन की कमी से नींद नहीं आती है” में हमने अनिद्रा से जुड़े सब विटामिन की कमी के बारे में विस्तार में जानकारी प्रदान करने की कोशिश की है

विटामिन हमारे क्रियाओं को करने की उर्जा प्रदान करते है इसलिए इनकी कमी भी घातक नतीजे दिखाती है, अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ SHARE करिए और किसी भी सवाल के जवाब के लिए निचे के लिए कमेंट करिए,  जिसका हम जरूर रिप्लाय देंगे | धन्यवाद

error: Content is protected !!