लिवर का साइज कितना होता है – Liver Ka Size Kitna Hota Hai

लिवर का साइज कितना होता है : मनुष्य के शरीर में बहुत सारे अंग होते हैं जिसका नाम , साइज और कार्य  हमें पता नहीं होता है तो दोस्तों आज हम इस लेख के माध्यम से लीवर के बारे में जानेंगे कि लीवर क्या होता है ? लीवर का कार्य  क्या होता है ? लीवर का साइज क्या होता है?

यदि आप भी मानवी शरीर में Liver Ka Size Kitna Hota hai यह जानना चाहते है तो आप बिलकुल सही जगह आये हो !

क्यों की हम ने निचे नॉरमल लिवर का साइज कितना होना चाहिए संबंधित काफी विस्तार में लेख प्रदान किया जिसे | आप को शुरवात से अंत तक जरूर पढ़ना चाहिए

 

लिवर का साइज कितना होता है – Liver Ka Size Kitna Hota Hai

Liver Ka Size Kitna Hota hai
Liver Ka Size Kitna Hota hai

 

लीवर क्या है ? और इसकी लंबाई कितनी है ?

मानव शरीर में वैसे तो बहुत सारे ग्रंथियां होती है जिसका आकार छोटा और बड़ा होता है लेकिन लीवर मानव शरीर की सबसे बड़ी ग्रंथि है, यह पेट के ऊपरी भाग में दायीं ओर और डायफ्राम के नीचे स्थित होती है।

इसकी लंबाई लगभग 20-25 सेमी होती है, इसका दायां भाग मोटा और चौड़ा होता है और बायां भाग पतला और चपटा होता है, इसका वजन लगभग 1. 500 किलो होता है।

लीवर यह गहरे लाल रंग का होता है।  ग्रहणी में पित्त नामक रस बाहर से आता है। यह लीवर में ही बनता है।

जब भी रोग का कान लिवर के आकार को बड़ा करता है, तो वह पसलियों से बाहर आ जाता है।

जिसे डॉक्टर अपने हाथ से छूकर महसूस कर सकते हैं और इसके आधार पर वह आपके लीवर में हुए सूजन को पहचान सकते हैं और उसका इलाज कर सकते हैं।

लीवर में अधिकांश कोशिकाएँ जमीनी कोशिकाएँ होती हैं, जिन्हें लिवर कोशिकाएँ कहा जाता है, जिसमें शुद्ध और अशुद्ध दोनों प्रकार के रक्त लाए जाते हैं।

जिसमें शुद्ध रक्त को ले जाने का कार्य यकृत धमनी द्वारा तथा अशुद्ध रक्त को ले जाने का कार्य संवहनी शिरा द्वारा किया जाता है

 

व्यक्ति के उम्र के अनुसार लीवर का साइज

पुरुषों का लीवर का  आकार महिलाओं की तुलना में बड़ा होता है। यह आमतौर पर इसलिए होता है क्योंकि पुरुषों का शरीर बड़ा होता है। जबकि लीवर का आकार थोड़ा  अलग हो सकता है।

आपको बता दें कि एक अध्ययन इंडियन पीडियाट्रिक्स जर्नल में प्रकाशित हुआ था।  जिसमें शोधकर्ताओं ने 1 से 12 साल की उम्र के 597 स्वस्थ बच्चों का अल्ट्रासाउंड करवाया जिसके अनुसार लीवर के  आकार का मूल्यांकन किया।

 लड़कों के लिए औसत लिवर  की लंबाई को मापने वाले अध्ययन के परिणाम निम्नलिखित हैं:

उम्र  लीवर की लंबाई
1 से 3 महीने 2.6 इंच 2.6 इंच (6.5 सेमी)
3 से 6 महीने 2.8 इंच 2.8 इंच (7.1 सेमी)
6 से 12 महीने 3.0 इंच 3.0 इंच (7.5 सेमी)
1 से 2 साल 3.4 इंच 3.4 इंच (8.6 सेमी)
2 से 4 साल 3.5 इंच 3.5 इंच (9.0 सेमी)
4 से 6 साल 4.1 इंच 4.1 इंच (10.3 सेमी)
8 से 10 साल 4.7 इंच (11.9 सेमी) 4.3 इंच (10.8 सेमी)
10 से 12 साल 5.0 इंच (12.6 सेमी) 5.0 इंच (12.6 सेमी)

 

लिवर  के कार्य

लिवर  पित्त रस बनाता है। पित्त रस  हमारे भोजन के पाचन में सहायता करता है। यदि लीवर में पित्त रस का निर्माण नहीं होता है, तो भोजन को पचाने में सामान्य से दो से तीन गुना अधिक समय लगेगा, जो कि बहुत लंबा समय है।

लीवर के कारण रक्त में शर्करा की मात्रा हमेशा समान रहती है, यह शर्करा को ग्लूकोज में परिवर्तित कर अपनी कोशिकाओं में जमा कर लेता है।

जब किसी कारण से शरीर में शुगर की कमी हो जाती है, तो यह ग्लाइकोजन को वापस शुगर में बदल देता है और शरीर इसकी आपूर्ति करता है।

कुछ अमोनिया का निर्माण तब होता है जब शरीर की कोशिकाओं में प्रोटीन की उप-चयनात्मकता होती है।  जो शरीर के लिए बहुत ही जहरीला और हानिकारक होता है।

इसे रक्त द्वारा यकृत में ले जाया जाता है।  लीवर अमोनिया को यूरिया और यूरिक एसिड में बदल देता है। आंतों में पाचन के परिणामस्वरूप इंडोल और स्कैटोल नामक दो विषैले पदार्थ बनते हैं।

जो इसे यहां से लीवर तक रखता है।  और लीवर उन्हें हानिरहित पदार्थों में बदल देता है, जो हमारे शरीर को स्वस्थ और सुरक्षित रखता है।

  • आपको बता दें कि लिवर कोशिकाएं स्वयं विटामिन ए का निर्माण करती हैं। इसके साथ ही यकृत कोशिकाएं विटामिन बी, विटामिन बी और विटामिन ए का स्राव भी करती हैं।
  • लिवर कोशिकाएं विटामिन ए, विटामिन डी और बी को स्टोर  भी करती हैं।
  • लिवर कोशिकाएं स्वयं रक्त में प्रोथ्रोम्बिन और फ्रैबिनोजेन नामक प्रोटीन का उत्पादन करती हैं।  यह प्रोटीन घावों में रक्त के थक्के जामने का कार्य  भी करता है।
  • लिवर की कोशिकाएं खून में मौजूद हानिकारक बैक्टीरिया को खत्म करती हैं।
  • लिवर कोशिकाएं अमीनो एसिड, फैटी एसिड और वसा जैसे पदार्थों से ग्लूकोज का संश्लेषण करती हैं।
  • लिवर की कोशिकाएं वसा को घोलने का भी काम करती हैं।  यह वसा को अवशोषित करती है और उसके  बाद इसे ईंधन के रूप में उपयोग करता है।
  • लिवर कोशिकाएं वसा को अवशोषित करती हैं और इसे ईंधन के रूप में इसका  उपयोग करती हैं।
  • लिवर कोशिकाएं हेपिरिन नामक पदार्थ का उत्पादन करती हैं। इसका कार्य शरीर में रक्त की तरलता को बनाए रखना है।  जिससे शरीर में खून का थक्का न जम सके और यह हमारी रक्त वाहिकाओं में आसानी से प्रवाहित हो सके।
  • लिवर कोशिकाएं लसीका द्रव भी बनाती हैं और यह रक्त को सुरक्षित रखती हैं।

 

गर्भावस्था के दौरान, लीवर की कोशिकाएं भी बच्चे के लिए रक्त का उत्पादन करती हैं, लेकिन जब वे व्यस्त होती हैं, तो ये कोशिकाएं भंडार बनाना बंद कर देती हैं। और निष्क्रिय और मृत लाल रक्त कोशिकाओं को नष्ट करके पित्त हीमोग्लोबिन से बनता है।

हम आपसे उम्मीद करते हैं कि मेरे द्वारा इस लेख में लिवर क्या है ?  लिवर का साइज कितना होता है ? इन सब चीजों के बारे में जानकारी दिया जा रहा है।

अगर आपको यह लेख सही लगता है तो  आप इसे सोशल मीडिया पर शेयर कर सकते हैं क्योंकि हमारे शरीर में जितने अंग है इन सब चीजों के बारे में प्रत्येक व्यक्ति को जानकारी होना चाहिए।

 

Disclaimer

इस लेख में दी गई जानकारी विभिन्न विशेषज्ञों के अध्ययन और राय के साथ-साथ आम आदमी के स्वास्थ्य पर आधारित है। इस जानकारी को देने का उद्देश्य विषय से परिचित होना है। पाठकों को अपने स्वास्थ्य के आधार पर कोई भी निर्णय लेने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लेनी चाहिए।

Leave a Comment

error: Content is protected !!