पीरियड के कितने दिन बाद संबंध बनाना चाहिए | Period ke kitne din bad sambandh banana chahie

पीरियड के कितने दिन बाद संबंध बनाना चाहिए : कही महिलाओं को प्रेगनेंसी के बारे में पूरी जानकारी नहीं होती है pregnancy की जानकारी न होने के कारन कही सारे महिलाओं को प्रेगनेंट होते समय घबराट होती है लेकिन इस विषय पर थोड़ी जानकारी से आप के मन में उठने वाले सभी सवाल शांत हो जाते है |

महिलाओ के जीवन से जुडी पीरियड, मासिक चक्र, ओवुलेशन और प्रेगनेंसी जैसे कुछ मुश्किल सवाल है जिनके बारे में हर महिला को आवश्यक जानकारी होनी चाहिए जैसे की

  • ओवुलेशन कब होता है
  • पीरियड के कितने दिन बाद संबंध बनाना चाहिए
  • पीरियड के कितने दिन बाद ओवुलेशन होता है
  • बच्चेदानी का मुंह कितने दिन खुला रहता है

जैसे सभी सवालो की जानकारी आप को पता होना जरूरी है |

आज हम महिलाओ के पीरियड संबंधित और पीरियड के कितने दिन बाद संबंध बनाना चाहिए जैसे महत्वपूर्ण सवालों के जवाब विस्तार में देने की कोशिश करेंगे यदि आप भी इन सभी सवालों के जवाब जानना चाहते है तो इस लेख को शुरवात से अंत तक जरूर पढ़े

 

पीरियड के कितने दिन बाद संबंध बनाना चाहिए | Period ke kitne din bad sambandh banana chahie

 

पीरियड के कितने दिन बाद संबंध बनाना चाहिए । Period ke kitne din bad sambandh banana chahie .

Period के बाद ओवुलेशन की एक निश्यित प्रक्रिया होती है और इस प्रक्रिया को समझने के लिए आप को मासिक धर्म को समझना होगा |

ओवुलेशन में महिला के अंडाशय के द्वारा एक तैयार अंडा fallopian tube में पोहचता है जो लगबघ हर माँ, महिला के अंडा शय में एक अंडा तैयार होता है

 

ovulation

 

और यह अंडा पूरी तरह से तैयार होने के बाद यह अंडा महिला के अंडाशय से fallopian tube में पोहचकर शुक्राणु (Sperm) का इंतजार करता है

इस समय अंडे के निशेषन के लिए गर्भाशय की परत मोठी हो जाती है अगर अंडे निशेषन नहीं होते है तो गर्भाशय की परत और रक्त के साथ वे बहार आ जाती है, पीरियड के समय बिना निशेषन हुआ अंडा और गर्भाशय में बनी परत खून के थक्के के रूप में बहार निकल आती है

 

ओवुलेशन कब होता है | Ovulation kya hota hai | Ovulation in hindi

ओवुलेशन आप के मासिक चक्र का वो समय है जब अंडा पूरी तरह से तैयार हो कर Ovarian से Release हो जाता है और fallopian tube में पोहचता है जहा पर अगर उस अंडे का मेल शुक्राणु से होता है तो महिला को प्रेगनेंसी होती है

हर महिला का मासिक चक्र अलग अलग होता है | सामान्य रूप में देखा जाये तो 21 से 35 दिन का मासिक चक्र Normal होता है

याने अगर किसी महिला के पीरियड्स हर 21 दिन में आते है तो वे सामान्य है उसी तरह यदि किसी महिला के पीरियड्स 25 से 26 दिन के बिच में आते है तो वे भी सामान्य है तो वही 35 दिन बाद आये पीरियड्स भी सामान्य होते है

यदि किसी महिला के Period Cycle 21 दिन का है और अगर ऐसे में इस महिला के पीरियड्स 1 जनवरी से शुरू होता है तो इन महिला का अगला पीरियड्स 21 या 22 जनवरी को शुरू होगा

तो अगर हम इस महिला के ओवुलेशन डेट को कैलकुलेशन करने की कोशिश करेंगे तो 21 या 22 जनवरी के पहले 14 दिन याने 7 या 8 जनवरी इनकी ओवुलेशन की डेट होगी

उसी तरह यदि किसी महिला की Period Cycle 28 दिन का है और अगर ऐसे में इस महिला के पीरियड्स 1 जनवरी से शुरू होता है तो इन महिला का अगला पीरियड्स 28 या 29 जनवरी को शुरू होगा

और इस डेट से अगर हम 14 दिन पीछे करते है तो इन महिलाओ की ओवुलेशन की डेट 14 या 15 जनवरी होगी | तो इसी तरह आप अपने Period date के 14 दिन पीछे जाकर अपने ओवुलेशन डेट का पता कर सकते है 

 

पीरियड के कितने दिन बाद महिला प्रेगनेंट होती है Period ke kitne din ke baad mahila pregnant hoti hai

पीरियड के कितने दिन बाद महिला प्रेगनेंट होती है यह एक कॉमन सवाल है और हर महिला को इसके बारे में जानकारी होना जरूरी है, जैसे की हम ने कहा ओवुलेशन के दिन पर अगर कोई महिला संबंध बनाती है तो उस महिला प्रेगनेंट होने के चांचेस ज्यादा होते है ,

अब सवाल आता है की पीरियड के तारीख के सटीक 14 पीछे की तारीख ओवुलेशन की तारीख हो सकती है ? तो इसका जवाब है “नहीं ” क्यों की ओवुलेशन की तारीख एक दिन आगे या एक दिन पीछे भी हो सकती है

इसीलिए डॉक्टर हमेषा ओवुलेशन डेट के अगले 2 दिन और बाद में आने वाले 2 दिन याने ओवुलेशन के डेट सिमित टोटल 5 दिन संबंध बनाने की सहला देते है जिस से महिला जल्द से जल्द प्रेगनेंट होती है

जैसे की हम ने आप को बताया की महिला के बॉडी से एक अंडा रिलीज़ होता है तो वो सिर्फ 24 घंटे जिंदा रहता है तो यही पर आप के Husband का स्पर्म 5 से 7 दिन आप के बॉडी में जिंदा रहता है

याने जभी आप ने शारीरिक संबंध बनाते है और आप के बॉडी में स्पर्म गए तो वे 5 से 7 दिन आप के बॉडी में जिंदा रह सकते है

इसीलिए ओवुलेशन डेट के 2 से 3 दिन पहले से आप intercourse करते है तो आप के प्रेगनेंट होने के चांचेस बढ़ जाते है, उम्मीद है आप को इस जवाब से या पता चला होगा की ” पीरियड के कितने दिन बाद महिला प्रेगनेंट होती है “

 

शादी के बाद बच्चा कैसे पैदा होता है | Baccha kaise paida hota hai

शादी के बाद Baccha kaise paida hota hai इसके बारे शायद सभी को पता होगा लेकिन यदि आप को पता नहीं है तो हम आप को सीधे भाषा में समझाने की कोशिश करते है

जैसे की हम ने पिछला पोस्ट “बच्चेदानी का मुंह कितने दिन खुला रहता है” इसपर लेख लिखा है तो अपने अधिक जानकारी के लिए उस लेख को एक बार जरूर पढ़े जहा हम ने Ovulation और Period के कितने दिन के बाद महिला का गर्भपात रह सकता है इसकी जानकारी शेयर की है, जिस से आप को एक यह पता चलेगा की महिलाय प्रेगनेंट कैसे होती है

शादी के बाद जभी जोड़ा निरोध के बिना शारीरिक संबंध बनाते है तब husband का स्पर्म महिला के अंडाशय में जाता है और महिला प्रेगनेंट रहती है | और यह संबंध अगर Ovulation के समय होता है तो महिला का प्रेगनेंट होने के चांचेस ज्यादा रहते है,

याने अगर सीधे भाषा में बताये तो महिला और पुरुष के बिच में जभी असुरक्षित यौन होते है तब Baccha paida hota hai

 

पीरियड के कितने दिन बाद संबंध बनाना चाहिए जिस से महिला प्रेगनेंट नहीं होगी | Pregnant Nahi Hone ke Liye Kya Karna Chahiye

यदि आप बैचलर हो और आप की अभी तक शादी नहीं हुई है या फिर आप की शादी हो गयी है फिर भी अभी आप माँ बनने के लिए तैयार नहीं है

लेकिन आप अपने पार्टनर के साथ रेलशन बनाना चाहती हो वो भी बिना किसी Protection के, तो आप के लिए यह जानना जरूरी है की आप महीने के किन दिनों में शारीरिक संबंध बनाये जिससे आप के प्रेगनेंट होने के चांचेस कम हो सकते है !!

निचे हम ने ” पीरियड के कितने दिन बाद संबंध बनाना चाहिए जिस से महिला प्रेगनेंट नहीं होगी ” इस विषय के बारे में जानकारी प्रदान करने की कोशिश की है जिसके मदत से आप को यह पता चलेगा की “Pregnant Nahi Hone ke Liye Kya Karna Chahiye

pregnancy और period इन दोनों का आपस में कनेक्शन होता है, अक्सर आप ने यह सुना होगा की period के समय सेक्स नहीं करना चाहिए क्यों ऐसे दिनों में लड़की के Pregnant होने के चांचेस ज्यादा रहते है,

इसके अलावा असुरक्षित संबंध बनाने से भी लडकिया Pregnant होती है तो यह सभी बाते सही है लेकिन ऐसे कुछ दिन होते है जिसके दरम्यान यदि कोई महिला बिना प्रोटेक्शन के संबंध बनाती है तो उसके Pregnant होने के चांचेस कम रहते है |

Ovulation मात्र एक ऐसा समय होता है जिसके चलते कोई भी महिला शारीरिक संबंध बनाती है तो वे प्रेगनेंट रहती है |

और यदि किस महिला को प्रेगनेंट होना है तो डॉक्टर उन्हें Ovulation के दिन योन संबंध बनाने की सलाह देते है

लेकिन आप प्रेगनेंट नहीं होना चाहते है तो Ovulation date के 5 दिन के पहले या Ovulation date के 5 दिन बाद संबंध बनाते है तो आप के प्रेगनेंट होने के चांचेस कम होते है

Ovulation क्या होता है | Ovulation डेट को calculate कैसे करते के पूरी जानकारी हम ने ऊपर विस्तार में शेयर किया है ऊपर दिए लेख को एक बार जरूर पढ़े

 

ध्यान देनेवाली बात :

आप चाहिए जितना भी खयाल रखे, आप इस बात ध्यान रखना है असुरक्षित संबंध बनाने से Pregnancy के चांचेस तो होते ही है

क्यों की ओवुलेशन के समय भी कही महिला को ब्लीडिंग होती है और ऐसे में उन्हें लगता है की उनकी पीरियड चालू हो गए है जिस से वे बिना protection के संबंध बनाते है लेकिन यह ओवुलेशन के चलते हुआ होता है और वे महिला प्रेगनेंट रहती है

इसके अलावा महीने के किसी भी दिन संबध बनाने से Pregnancy नहीं होगी इस बात की गारंटी नहीं है इसीलिए ऐसे में आप अपने Ovulation दिनों का खयाल रखे और Ovulation के दिन शारीरिक संबंध ना बनाये और हो सके तो protection का इस्तिमाल जरूर करे

उम्मीद है आप को ” पीरियड के कितने दिन बाद संबंध बनाना चाहिए ” और ” पीरियड के कितने दिन बाद महिला प्रेगनेंट होती है ” महत्वपूर्ण सवालो के जवाब प्राप्त हुए होंगे |

यदि इन विषय संबंधित किसी भी सवालो के जवाब विस्तार में जानना चाहते है तो निचे कमेंट में जरूर अपना सवाल पूछे जिसका हम जवाब देने की पूरी कोशिश करेंगे | धन्यवाद

Leave a Comment