Sabse Jyada Protein kisme Hota Hai | सबसे ज्यादा और अच्छा प्रोटीन किसमे होता है

Sabse jyada protein kisme hota hai : प्रोटीन को भी जीवन के निर्माण का खंड कहा जाता है क्योंकि यह हमारे शरीर की हर कोशिका में मौजूद होता है यह हमें खाने से भी प्राप्त होता है

प्रोटीन कोशिकाओं की मरम्मत का काम करते है, प्रोटीन का काम कोशिकाओं को स्वस्थ रखना है और कोशिकाएं तो हमारे शरीर का खंड है जिससे हम यह तो समझ ही सकते है की प्रोटीन हमारे लिए कितना ज़रूरी है

अलग-अलग तरह के प्रोटीन का अलग-अलग काम होता है कुछ कोशिकाओं के आकार का निर्माण करते है और कुछ उनको बनाने का काम करते है और कुछ उनकी मरम्मत करते है

यह शरीर में पोषण तत्वों को एकत्र करने का काम भी करते है, कुछ प्रोटीन एंटीबाडी जैसे काम करते है प्रोटीन का हमारे जीवन की हर क्रिया में कुछ न कुछ को भाग लेते ही है

प्रोटीन हमारा शरीर खुदसे नही बना पाता जिसके कारण हमें इसे अपने भोजन में लेना पड़ता है, प्रोटीन हमारे शरीर को बहुत अधिक मात्रा में चाहिए होता है क्योंकि यह हमारे शरीर की बनावट और तो और मुख्य क्रियाओं में भी सहयोगी है

किसी भी इंसान के शरीर में उसके वजन का 15 प्रतिशत भार प्रोटीन की उपस्थिति के कारण होता है अब इससे अंदाज़ा तो लगाया जा ही सकता है की हमारे शरीर में कितना प्रोटीन होना चाहिए

आज हम इस आर्टिकल में आपको बताएँगे की Sabse jyada protein kisme hota hai, प्रोटीन क्या होता है, इसकी क्या आवश्यकता है आदि सवाल के विस्तार में जानने की कोशिश करेंगे

 

Sabse Jyada Protein kisme Hota Hai
Sabse Jyada Protein kisme Hota Hai

 

प्रोटीन क्या है – सबसे ज्यादा प्रोटीन किसमे होता है

प्रोटीन एक तत्व है जिसका हमारे कोशिकाओं के निर्माण और उसको सही रखने और भी शरीर की कुछ मुख्य क्रियाओं में विशेष रोल है,

प्रोटीन शब्द ग्रीक शब्द प्रोटोस से आया है प्रोटोस का अर्थ है एक ऐसा तत्व जिसका उपयोग शरीर के खंड के रूप में हो, यह हर एक कोशिका में उपस्थित रहता है

यह एक ऐसा तत्व है जिसकी हमें बहुत ज्यादा मात्रा में आवश्यकता होती है हमारा शरीर खुदसे प्रोटीन नही बना सकता है जिसके कारण हमें इसे बाहर से लेना पड़ता है,

प्रोटीन का निर्माण कार्बन, हाइड्रोजन और ऑक्सीजन, नाइट्रोजन से होता है प्रोटीन बहुत सारे एमिनो एसिड के समूह से मिलके बने होते है

प्रोटीन हजारों की संख्या में जुड़े एमिनो एसिड से बनता है एमिनो एसिड आपस में जुड़े होते है, एमिनो एसिड के कुल 20 प्रकार होते है और प्रोटीन इन 20 तरह के एमिनो एसिड की किस्मों से मिलकर प्रोटीन बनता है

प्रोटीन में उपस्थित एमिनो एसिड के जुड़ने के तरीके से ही प्रोटीन का 3 डी स्ट्रक्चर बनता है,  प्रोटीन का मुख्य काम कोशिका को जन्म देना और उसको बनाये रखना है

 

Sabse jyada protein kisme hota hai

हमें अपने शरीर की प्रोटीन की ज़रुरत आहार से ही पूरी करनी पड़ती है क्योंकि हमारा शरीर तो प्रोटीन खुदसे बनाता नही है हमारा शरीर बस तत्वों से प्रोटीन को अलग करने में ही सक्षम है,

प्रोटीन से युक्त हम आपको आज सब श्रोत बताएँगे जिनके सेवन से आप अपने शरीर को प्रोटीन से भरपूर बना सकते है आइये जानते है की sabse jyada protein kisme hota hai

  • नॉनवेज

सबसे ज्यादा प्रोटीन हमें मांसाहारी आहार से मिलता है इसमें मुर्गा का मीट और अन्य मीट भी शामिल है मछली और अंडे का सेवन भी नॉनवेज है यह आपके शरीर को प्रोटीन के साथ-साथ बहुत विटामिन और तत्व भी प्रदान करते है

पर इसका अर्थ यह बिलकुल भी नही है की जो व्यक्ति सिर्फ नॉनवेज का सेवन करते है वह ज्यादा स्वस्थ रहते है नॉनवेज का सेवन आवश्यक तो है पर बहुत ज्यादा नॉनवेज के सेवन से भी हमारे अन्दर के अंगों में दिक्कत शुरू हो जाति है

नॉनवेज का सेवन अच्छा भी है और बुरा भी है इसलिए ज़रुरत से ज्यादा और अति में नॉनवेज का सेवन न करिये


  • सोयाबीन 

सोयाबीन एक सस्ता और असरदार श्रोत है इसका उपयोग सब्जी के रूप में होता है और तो और और भी बहुत तरह से होता है इसको भून के भी खाया जाता है इसमें सबसे ज्यादा प्रोटीन पाया जाता है

सोयाबीन का जूस भी बनता है और सबसे ज्यादा इसका फायदा भून के खाने से होता है, 100 ग्राम सोयाबीन में 50 ग्राम तो प्रोटीन ही होता ही है इसका अर्थ यह है की सोयाबीन में आधा तो प्रोटीन ही होता है


  • दूध से बने पदार्थ 

दूध से बने पदार्थ में विटामिन, प्रोटीन और अन्य पोषण तत्व अलग-अलग मात्रा में पाए जाते है

एक लीटर दूध में लगभग 40 ग्राम प्रोटीन होता है, दूध हमारे शरीर के लिए बहुत आवश्यक है क्योंकि ये अकेले ही हमें सब महत्वपूर्ण तत्व देता है, प्रोटीन की मात्रा दूध और उससे बने पदार्थों में अलग-अलग होती है जिससे दूध और उसके बने पदार्थ की भूमिका भी अलग अलग हो जाति है

दही भी दूध से बना ही पदार्थ है इसमें प्रोटीन की मात्रा दूध में मौजूद प्रोटीन की मात्रा से अलग होती है 100 ग्राम दही में 11 ग्राम प्रोटीन होता है, पनीर भी दूध से ही बनता है इसमें भी प्प्रोटीन की मात्रा दूध में मौजूद प्रोटीन की मात्रा से भिन्न होता है 100 ग्राम पनीर में 18 ग्राम प्रोटीन होता है

पनीर, दही और दूध में प्रोटीन के साथ-साथ और भी पोषण तत्व मौजूद होते है बेशक उनकी मात्रा अलग हो


  • दाल

हम रोजाना जो भोजन खाते है उसमे दाल भी एक महत्वपूर्ण भोजन है अब सवाल ये आता है की इसमें कितना प्रोटीन होता है और इसके क्या फायदे है

दाल से हमें सबसे ज्यादा प्रोटीन मिलता है आइये जाने कैसे दाल एक ऐसा आहार है जिसका सेवन हम जाने अंदाजे में बहुत ज्यादा करते है और रोजाना या ज्यादा सेवन करने से यह हमारे शरीर में सबसे ज्यादा प्रोटीन पैदा करने का श्रोत बन जाता है,

जब भी ये सवाल आता है की  sabse jyada protein kisme hota hai तो सीधा हम दाल का नाम सबसे पहले लेते है आइये कारण जानते है

100 ग्राम मूंग की दाल में 24 ग्राम प्रोटीन होता है और अरहर की दाल में भी बहुत ज्यादा प्रोटीन होता है अन्य प्रकार की दाल भी प्रोटीन का श्रोत है बस फरक इतना है की हर प्रकार में दाल में प्रोटीन की मात्रा भिन्न होती है

हम आपको दाल से जुडा एक बहुत मुख्य तथ्य बताना  चाहते है पोलिश दाल से ज्यादा बिना पोलिश दाल में ज्यादा प्रोटीन होता है पर ज़्यादातर लोगों को ये आशंका होती है की पोलिश दाल में ज्यादा प्रोटीन होता है इसलिए यह तथ्य बहुत ही आवश्यक हो जाता है

अब अगर आप भी दाल खरीदने जाये तो बिना पोलिश की दाल ही खरीदे क्योंकि पोलिश करने से दाल के ऊपर की परत उतार दी जाति है जिससे उसमे प्रोटीन की मात्रा कम हो जाति है


  • बादाम

बादाम हमारे दिमाग को तेज करने के लिए बहुत आवश्यक है इसमें प्रोटीन भी काफी ज्यादा मात्रा में पाया जाता है, 100 ग्राम बादाम में लगभग 21 प्रतिशत प्रोटीन की मात्रा होती है,

बादाम के ऊपर वाले छिलके में बहुत गर्मीं होती है अर्थात यह आपके शरीर को बहुत ज्यादा गर्मीं प्रदान करते है और ज्यादा गर्मीं हमारे शरीर के लिए हानिकारक होता है

बादाम को भिगोने से उसमे से उसकी गर्मी कम हो जाति है जिससे सिर्फ उसके तत्व का फायदा मिलता है और उसकी गर्मी से होने वाला नुक्सान भी नही होता है,

बादाम को  भिगो के रखने के बाद उसका छिलका आसानी से उतर जाता है, बादाम के छिलके को उतार कर बादाम खाने से आपको ज्यादा फायदा होगा


  • काजू

काजू में बादाम के मुकाबले कम गर्मी होती है और इसमें भी प्रोटीन पाया जाता है पर इसमें प्रोटीन की मात्रा बादाम में मौजूद प्रोटीन की मात्रा से कम होती है

100 ग्राम प्रोटीन में लगभग 18 ग्राम प्रोटीन होता है, ज़रुरत से ज्यादा काजू के सेवन से आपको समस्या भी हो सकती है इसलिए बहुत ज्यादा काजू का सेवन मत करियेगा


  • चना

चने में फाइबर, विटामिन और प्रोटीन भी होता है इसमें लगभग 100 ग्राम चने में 15 ग्राम प्रोटीन होता है चने को भिगो के खाने से बहुत फायदे होते है चने को भी बहुत तरीके से खाया जाता है


  • मूंगफली

मूंगफली में भी काफी प्रोटीन पाया जाता है 100 ग्राम मूंगफली में 26 ग्राम प्रोटीन होता है इसको भी भिगो के या भून के या अन्य तरीको से खाया जाता है, सबसे ज्यादा फायदा मूंगफली को भिगो कर खाने में है


  • बकला की फली 

यह एक बहुत ही लाभदायी पदार्थ है इसका कैंसर, ह्रदय रोग आदि में ज़ल्दी ठीक ह्योने के लिए इस्तेमाल किया जाता है, 100 ग्राम में 11 ग्राम प्रोटीन होता है


  • राजमा 

सफेद और काले राजमा दोनों ही अलग-अलग पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं इनमें फाइबर, आयरन, पोटेशियम पाए जाते हैं और साथ में इनमें कई विटामिन और प्रोटीन पाए जाते हैं 100 ग्राम सफेद राजमा में 6 ग्राम प्रोटीन होता है


  • हरी मटर 

मटर में प्रोटीन के साथ-साथ अन्य पोषक तत्व भी पाए जाते हैं इसको हम कई तरीकों से खा सकते हैं इसलिए इससे प्रोटीन लेने की संभावना और बढ़ जाती है100 ग्राम मटर में  सिर्फ 5 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है


  • गेंहू 

गेहूं में बहुत ज्यादा प्रोटीन पाया जाता है 100 ग्राम गेहूं में 75 ग्राम प्रोटीन ही होता है इनको अलग-अलग तरीके से खाया जाता है अलग-अलग तरीके से पकाने खाने में प्रोटीन की मात्रा कम होने की संभावना होती है


  • टोफू 

टोफू सोया दूध से तैयार होने वाला पनीर होता है इसके फायदे भी अलग होते हैं और साथ में यह सोया दूध से बना होता है तो उस में प्रोटीन की मात्रा बहुत अधिक होती है 100 ग्राम टोफू में 8 ग्राम प्रोटीन होता है

 

प्रोटीन के अन्य श्रोत

  • सेम
  • दही
  • चिया बीज
  • सूअर का मांस
  • तिलापिया मछली

 प्रोटीन पाउडर (Protein powder) में सबसे ज्यादा प्रोटीन होता है

प्रोटीन पाउडर का निर्माण हमारे शरीर की प्रोटीन की जरूरतों को पूरा करने के लिए किया गया है, महिलाओं और पुरुषों के लिए बहुत कंपनियों ने अलग-अलग प्रोटीन पाउडर बनाये है और बहुत ने सामान प्रोटीन पाउडर बनाया है

हमारे शरीर को प्रोटीन की बहुत ज्यादा आवश्यकता होती है, इसको हमें आहार से या फिर दवाइयां से लेना पड़ता है, छोटे बच्चों को या फिर जब आपके शरीर में प्रोटीन की कमी हो जाती है

तब यह पाउडर आपको डॉक्टर लिखते हैं, यदि आपको लगता है कि आपके आहार से शरीर की प्रोटीन की आवश्यकता नहीं पूरी हो पा रही है तो आप भी प्रोटीन पाउडर का सेवन कर सकते हैं

अलग-अलग कंपनियों के हिसाब से अलग-अलग प्रोटीन पाउडर का निर्माण हुआ है, जिसमें आपको अलग-अलग मात्रा में मिलेगा कुछ में प्रोटीन के साथ कुछ और भी मिलते हैं इनको पीने का या इनको ग्रहण करने का तरीका अलग-अलग हो सकता है

हमने नीचे भारत में 10 सबसे ज्यादा खरीदे जाने वाले प्रोटीन पाउडर के बारे में बताया है यदि आपको भी लगता है कि आपका शरीर आहार से संतुष्ट नहीं है आपके शरीर की प्रोटीन की आवश्यकता पूरी नहीं हो पा रही है तो आप भी इनको खरीद कर इनका सेवन कर सकते है

हमने अमेजोन की साईट से लिंक दिया है आप सीधा जाकर खरीद सकते है

⇒ Rs. 3,699

download 9


⇒  Rs. 12,998

81A2YkgVMDL. AC SS450


⇒  Rs. 2,959

616cI2pfTOL. SX569


⇒  Rs. 2,999

61qr1OMFOL. SL1500


⇒  Rs. 2,999

31uJGzqqi5L


⇒  Rs. 4,499

NB MBZ 1001 02 01 510x510 1


⇒  Rs. 1,350

download 10


⇒  Rs. 8,639

images 2


⇒  Rs. 2,899

71Szu 3ZZ8S. SY450


⇒  Rs. 1,540

031K in h24 rebuild strength

यह 10 प्रोटीन पाउडर है इससे अब आप ये भी जान गए की पाउडर में  Sabse jyada protein kisme hota hai

अगर आप भी कोई विटामिन पाउडर लेना चाहते है, तो आप कोई भी चुन सकते है  पर एक बार सुरक्षा के नज़रिए से या तो अपने डॉक्टर से सलाह लीजिये या तो जिस भी पाउडर का आप प्रयोग करने का सोच रहे है उस प्रोटीन पाउडर के बारे में पता करिये की उसके क्या फायदे क्या नुकसान है और उसका इस्तेमाल कैसे होता है


प्रोटीन की कमी के लक्षण – Protein ki kami ke Lakshan

  • नाखून बहुत ही खुरदुरे और कमजोर हो जाते हैं
  • समय के साथ मांसपेशिया कमजोर होने लगती हैं
  • शारीरिक और मानसिक कमजोरी होना प्रोटीन की कमी होने का आम लक्षण है
  • प्रोटीन की कमी होने से जल्दी थकान हो जाती है किसी भी काम को करने की इच्छा नहीं होती है
  • प्रोटीन की कमी होने से जल्दी थकान हो जाती है किसी भी काम को करने की इच्छा नहीं होती है
  • प्रोटीन की कमी होने पर हमारा शरीर हमें ज्यादा प्रोटीन लेने के लिए उत्साहित करता है जिसके कारण हमें प्रोटीन से भरपूर चीजें खाने की लालसा होती है
  • हड्डियां कमजोर होने लग जाती हैं
  • यदि आपके शरीर में बहुत ज्यादा प्रोटीन की कमी है तो इससे आपको गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं
  • आपके पेट में सूजन आ सकती है
  • आपका लीवर खराब हो सकता है
  • आपको फैटी लीवर की समस्या हो सकती है
  • आप की प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर हो सकती है
  • लाल कोशिकाओं की कमी हो जाती है

प्रोटीन हमारी कोशिकाओं को जन्म देने और उनको सही रखने का काम करता है कोशिकाओं से ही हमारे शरीर का पूरा निर्माण हुआ है

यदि आपके शरीर में प्रोटीन की ही कमी हो जाएगी तो आपके शरीर के हर एक क्रिया में और हर एक अंग में आपको समस्या देखने को मिल सकती है, अब तो आप जान ही गए होंगे की सबसे ज्यादा प्रोटीन वाले पदार्थ कौनसे है

प्रोटीन हमारे जीवन का आधार है हमारी कोशिकाओं को सही रखने के लिए प्रोटीन की बहुत ज्यादा आवश्यकता है इसीलिए ध्यान रखें कि आपके शरीर में प्रचुर मात्रा में प्रोटीन रहे


प्रोटीन हमारे शरीर में क्या काम करता है – Benefits Of Protein in Hindi

  • ऊतकों का निर्माण 

हमें अपने शरीर के ऊतकों का निर्माण करने के लिए प्रोटीन की आवश्यकता होती है प्रोटीन हमारे ऊतकों के निर्माण में एक विशेष भूमिका निभाते हैं यह हमारे शरीर के विकास के लिए बहुत आवश्यक है


  • शरीर का पीएच बनाये रखना 

प्रोटीन हमारे शरीर में उचित पीएच बनाकर रखने का कार्य करते हैं अर्थात हमारे शरीर को ना ही ज्यादा अधिक एसिडिक होने देते है न ही ज्यादा basic होने देते है  यह हमारे  शरीर में एसिड और बेस की मात्रा बनाकर रखते हैं जिससे हमारे शरीर को कोई नुकसान नहीं होता है


  • संरचना 

हमारे ऊक्तों को संरचना प्रदान करने का काम भी प्रोटीन ही करते हैं संरचना देने वाले तीन मुख्य प्रोटीन होते है यह हमारे बालों और नाखूनों में भी पाए जाते है


  • इन्जाइम के रूप में 

इन्जाइम का निर्माण भी प्रोटीन से ही होता है  इन्जाइम हमारे शरीर में बहुत क्रियाओं में भाग लेते हैं इन्जाइम के कारण ही हमारे शरीर के ऊतकें एक दूसरे को भिन्न भिन्न रूप से जान पाते है इन्जाइम हमारे शरीर के अंदर और बाहर होने वाली प्रक्रिया के लिए जिम्मेदार होते हैं और इनका निर्माण भी प्रोटीन से होता है


  • होर्मून के रूप में 

कुछ प्रोटीन हार्मोन के रूप में भी काम करते हैं हार्मोन का काम संदेश पहुंचाना है यह हमारे शरीर में हमारे एक अंग से दूसरे अंग, एक जगह से दूसरी जगह को जोड़ कर रखते हैं जिससे हम अपनी क्रियाएँ कर पाते है


  • एंटीबाडी 

प्रोटीन हमारे शरीर में एंटीबॉडी बनाने में सहायता करते हैं एंटीबॉडी ही किसी भी तरह के संक्रमण से लड़ने का काम करती हैं


  • द्रव्य दर को बनाये रखना 

इनदेमिन और  ग्लोब्युलिन नाम के दो प्रोटीन होते हैं जो हमारे खून में पाए जाते हैं इन दोनों प्रोटीन का काम होता है कि यह हमारे खून में द्रव की मात्रा को संतुलित रखें यदि हमारे शरीर में प्रोटीन की कमी हो जाती है तो परिणाम स्वरूप हमारे खून में द्रव्य की मात्रा संतुलित नहीं रहती है जिसके कारण कहीं-कहीं खून ज्यादा रहता है


  • पोषण तत्व 

यह पोषण तत्वों को एकत्र भी कहते हैं जिसके कारण पोषण तत्वों को एकत्र करना संभव हो पाता है और उनको समय से इस्तेमाल कर पाना प्रोटीन की सहायता से ही संभव हो पाता है


  • उर्जा 

प्रोटीन हमारे शरीर को ऊर्जा प्रदान करते हैं ऊर्जा हमारे शरीर के लिए ईंधन के जैसी होती है इसके बिना हम कुछ नही कर पाएंगे


  • भण्डार 

यह खनिज पदार्थों को एकत्र करते हैं हमारे शरीर में जो भी खनिज पदार्थ  एकत्र होते हैं वह प्रोटीन की सहायता से ही होते हैं प्रोटीन उनको एकत्र करते हैं और उनको परिवहन करने का काम भी करते हैं हिमोग्लोबिन, ग्लूकोस यह सब प्रोटीन की सहायता से ही ट्रांसपोर्ट हो पाते है

 

FAQs – Sabse jyada protein kisme hota hai

सवाल: कौन से अनाज से सबसे ज्यादा प्रोटीन मिलता है ?

गेंहू में सबसे ज्यादा प्रोटीन होता है, गेंहू एक ऐसा आहार है जिसमे आधे से ज्यादा तो प्रोटीन ही होता है

सवाल: 5 बादाम में कितना प्रोटीन पाया जाता है ?

100 ग्राम बादाम में 12 ग्राम प्रोटीन होता है, अब आप जितने भी बादाम का प्रोटीन जानना चाहते है वो नाप के पता कर सकते है

सवाल: एक दिन में कितना प्रोटीन लेना है ?

हमारे शरीर की एक दिन की प्रोटीन की ज़रुरत लगभग 56 ग्राम होती है अलग-अलग लोगों के लिए यह मात्रा थोड़ी-थोड़ी अलग होती है

अगर हम ज़रुरत से ज्यादा प्रोटीन ले लेते है तो भी नुक्सान नही होता क्योंकि हमारा शरीर उतने ही प्रोटीन को तोड़ता है जितने की आवश्यकता होती है बाकी सब waste हो जाता है जिससे ज्यादा प्रोटीन से कोई नुक्सान नही होता

सवाल: प्रोटीन के क्या श्रोत है ?

प्रोटीन हमें बहुत जगह से मिलता है पर ख़ास तौर पर ये मांस और दूध से बने पदार्थ से मिलता है, हमारी रोज़ मर्रा की ज़िन्दगी में जो आहार है उनसे भी हमें ज़रुरत का प्रोटीन मिल सकता है

  • दूध से बने पदार्थ
  • सेम
  • दही
  • चिया बीज
  • सूअर का मांस
  • तिलापिया मछली
  • टोफू
  • गेंहू
  • हरी मटर
  • राजमा
  • बकला की फली
  • मूंगफली
  • चना
  • काजू
  • बादाम
  • दाल
  • नोंवेज

 

सवाल: हमारे शरीर में कितना प्रोटीन बनता है ?

हमारे शरीर में प्रोटीन नही बनता हमारा शरीर बस आहार में से प्रोटीन को अलग करने में सक्षम हो पाता है

सवाल: प्रोटीन कितने प्रकार के होते है ?

प्रोटीन के सात प्रकार होते है

  1. एंटीबाडी प्रोटीन
  2. सुकड़ा हुआ प्रोटीन
  3. इन्जाइम प्रोटीन
  4. हार्मोनल प्रोटीन
  5. संरचना करने वाला प्रोटीन
  6. भंडारण प्रोटीन
  7. परिवहन प्रोटीन

 

एंटीबाडी प्रोटीन: यह प्रोटीन हमारे शरीर में एंटीबाडी के रूप में काम करता है यह बाहर के हमलों से शरीर को बचाता है

सुकड़ा हुआ प्रोटीन: यह प्रोटीन शरीर में एक भिन्न काम करता है और साथ में इसके नाम से ही पता चल रहा है ये सिकुड़ा हुआ प्रोटीन है

इन्जाइम प्रोटीन: यह शरीर में इन्जाइम का काम करता है

हार्मोनल प्रोटीन: यह सन्देश पहुचाने वाले हॉर्मोन जैसे काम करता है

संरचना करने वाला प्रोटीन: यह ऊतकों की संरचना करने वाला प्रोटीन है

भंडारण प्रोटीन: इस प्रोटीन का काम पोषण तत्व को एकत्र करना है

परिवहन प्रोटीन: इस प्रोटीन का काम पोषण तत्वों को एक जगह से दुसरे जगह लेके जाना है


Conclusion

इस लेख में आप सबसे ज्यादा प्रोटीन किसमे होता है के बारे में जाना आशा करते है | आप Sabse jyada protein kisme hota hai जैसे महत्वपूर्ण विषय की पूरी जानकारी जान चुके होंगे।

आपको लगता है कि इसे दूसरे के साथ भी Share करना चाहिए तो इसे Social Media पर सबके साथ इसे Share अवश्य करें

हमारा यह लेख पसंद आया हो तो अपने अमूल्य सुझावों को हमारे सुझाव बॉक्स में जरूर लिखें ताकि आगे आने वाले समय में हम आपके लिए इसी प्रकार की सकारात्मक लेख लाते रहे और आपके ज्ञान में वृद्धि करते रहे। धन्यवाद

error: Content is protected !!