शिलाजीत के फायदे हिंदी – शिलाजीत कैप्सूल खाने का तरीका

शिलाजीत के फायदे हिंदी : आज के लेख में हम आप के साथ शिलाजीत के फायदे और नुकसान साझा करने वाले है । लेकिन ये शिलाजीत क्या है, शिलाजीत का इस्तिमाल कहा होता है

जैसे कही सारे सवाल हम में से बहुतों के मन में उठा होगा और इसी सवाल को जवाब के रूप में देने के लिए हम इस महत्वपूर्ण लेख को आप के साथ शेयर करने की कोशिश कर रहे है

यदि आप भी शिलाजीत के बारे में विस्तार में जान ना चाहते है तो इस लेख को शुरवात से लेकर अंत तक जरूर पढ़े

आपको बता दे कि, शिलाजीत एक आयुर्वेदिक औषधि है। या यूँ कहे कि ये एक चमकीला पत्थर है। जो पहाड़ो से प्राप्त होता है।

हम यहाँ आपको शिलाजीत के बारे में पूरी जानकारी देंगे। शिलाजीत क्या होता है, शिलाजीत के फायदे, शिलाजीत कैप्सूल खाने का तरीका, और इसकी कीमत भी हम आपको इस पोस्ट में बताएंगे। जिसका आप को वर्तमान तथा भविष्य में जरूर फायदा होगा

 

शिलाजीत के फायदे हिंदी (Shilajit ke Fayde in Hindi )

 

शिलाजीत के फायदे हिंदी
शिलाजीत के फायदे हिंदी

 

शिलाजीत क्या है ( shilajit kya hota hai )

भारतीय जड़ी-बूटियों में शिलाजीत का एक विशेष स्थान है। आयुर्वेद के अधिंकाश नुस्खों में शिलाजीत का प्रयोग किया जाता है। शिलाजीत एक गाढ़े भूरे रंग का चिपचिपा पदार्थ है।

जिसकी उत्पत्ति हिमालय की पहाड़ियो से हुई है। गर्मी के मौसम में सूरज की गर्मी से पर्वत की धातु से अंश पिघलकर रिसने लगता है।

इसी पदार्थ को शिलाजीत कहा जाता है। आज से लगभग 5000 साल पहले से शिलाजीत का उपयोग बीमारियों को ठीक करने के लिए किया जाता था। और आज भी आयुर्वेद में शिलाजीत को वरदान माना जाता है।

 

शिलाजीत के फायदे और नुकसान ( Shilajit ke fayade )

शिलाजीत में विभिन्न प्रकार के मिनरल्स पाए जाते है। ये कई प्रकार के रोगों से लड़ने में सहायक होते है। साथ ही शिलाजीत की सहायता से बूढापा भी दूर रहता है।

सेक्सुअल हेल्थ प्रॉब्लम्स से राहत पाने के लिए शिलाजीत का सेवन करने की सलाह दी जाती है। आयुर्वेद में शिलाजीत के फायदों का विस्तृत उल्लेख है। आइए जानते है शिलाजीत हमारे स्वास्थ्य के लिए किस प्रकार लाभदायक है-

 

81avxf Z6iL. SL1500

 

शिलाजीत के फायदे हिंदी में

• मधुमेह (डायबिटीज) के रोगी के लिए शिलाजीत बेहद कारगर है। शिलाजीत का सेवन शहद और त्रिफला चूर्ण के साथ करने से मधुमेह की समस्या पूरी तरह से ठीक हो जाती है।
• शिलाजीत के सेवन से बार- बार मूत्र जाने की समस्या से भी निजात मिलता है तथा इससे शरीर में ताकत आती है और शरीर मजबूत बनता है।
• शिलाजीत गर्भाशय को मजबूत बनाता है। हार्मोन को संतुलित करने के लिए महिलाएं शिलाजित का इस्तेमाल करती हैं। इसमें मौजूद फुल्विक एसिड कई बीमारियों को दूर करने में कारगार है। शिलाजित महिलाएं के स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद है।
• स्वन्पदोष की समस्या दूर करने के लिए शिलाजीत उपयोग में लिया जाता है। इससे शारिरिक क्षमता में तो सुधार होता ही है साथ ही इसके इस्तेमाल से बूढा व्यक्ति भी जवान दिखने लगता है। लेकिन इस प्रयोग के दौरान खटाई, मिर्च, मसाला आदि का परहेज करना चाहिए।
• शिलाजीत का सुबह शाम लगातार सेवन करने से शरीर बीमारियों से दूर रहता है।
• महिलाओं में गठियां की समस्या ज्यादा होता है। और शिलाजीत के इस्तेमाल से लचीलेपन में सुधार के साथ दर्द और जोड़ों की अकड़न एक कम हो जाती है।
• शिलाजीत के प्रयोग से ब्लड प्रेशर नॉर्मल रहता है। इससे रक्त शुध्द होता है और नसों में रक्तसंचार बढता है।
• दिमागी ताकत बढ़ाने के लिए भी शिलाजीत को उपयोग में लिया जाता है। इसके लगातार उपयोग दिमागी थकावक नही होती है और याददाश्त तेज होती है।
• शिलाजीत पुरुषो में टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाता है। शिलाजीत के सेवन से मर्दों की ताकत बढ़ाई जा सकती है। हालांकि, किसी भी चीज का सेवन करने से पहले डॉक्टर या आयुर्वेदिक एक्सपर्ट की मदद जरूर लेनी चाहिए।
• शिलाजीत के सेवन से रेड ब्लड सेल्स की बढ़ने लगती है। तथा एनीमिया की समस्या ही खत्म हो जाती है।
• शिलाजीत पुरुष बांझपन से निजात पाने के लिए एक सुरक्षित औषधि है।
• एक अध्ययन को मुताबिक इसका उपयोग करने से तनाव कम होता है।
• खून की कमी से इंसान को कई बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है। जबकि शिलाजीत में आयरन की मात्रा पाई जाती है। जिसके कारण यह आपके शरीर में खून की कमी नहीं होने देता है।

 

शिलाजीत के नुकसान हिंदी में

जैसे हर सिक्के को दो पहलू होते है, उसी प्रकार कोई भी वस्तु हो उसके फायदों के साथ नुकसान होना लाज़मी है। और शिलाजीत हो या कोई और औषधि हो हमे उसका सेवन करने से पहले उसकी मात्रा का ध्यान रखना आवश्यक होता है।

अक्सर लोग इन दवाईयों का सेवन करते समय उसकी मात्रा कम या ज्यादा करते है। और यही वो चूक है जिससे दवाइयाँ फायदा देने की बजाय नुकसान पहुँचाती है।

• इसके लगाता सेवन से शरीर में गर्मी बढ़ती है। हाथ, पैर और पेट में भारीपन महसूस होता है। तापमान असंतुलित ना होने की वजह से मूड खराब रहता है।
• शिलाजीत के सेवन से बैचेनी होने लगती है और हार्ट बिट भी बढ़ सकती है।
• गर्मी और एलर्जी की वजह से फुँसी, रैशेज आदि कि समस्या देखने को मिलो तो ये शिलाजीत के साइड- इफेक्ट हो सकते है।
• बार बार पेशाब जाने की इच्छा भी शिलाजीत के अधिक सेवन करने की वजह से होती है।
• पैरों के तलवों और हाथों में जलन महसूस होने की समस्या भी शिलाजीत के अधिक सेवन के कारण होती है।

 

शिलाजीत कैप्सूल खाने का तरीका

शिलाजीत एक औषधि है जिसके इस्तेमाल से शरीर की ताकत में वृध्दि होती है। शिलाजीत का उपयोग विशेष रुप से आयुर्वेद में किया जाता है।

शिलाजीत का सेवन करने से पहले आपको एक बार डॉक्टर से संपर्क कर लेना चाहिए। शिलाजीत के कैप्सूल का सेवन आप को दिन में 2 बार करना है।

शिलाजीत कैप्सूल आप दूध के साथ या पानी के साथ भी ले सकते है। इस कैप्सूल का सेवन आपको खाना खाने के बाद करना है।

जिन लोगों की उम्र 50 साल से अधिक हो वो इसका 3 महिने तक रोजाना दूध के साथ सेवन करे। और जवान लोग हफ्ते के अंदर सिर्फ 2 बार ही इसका सेवन करे।

हर उम्र के लोगों के लिए इसकी मात्रा अलग- अलग होती है, इसलिए इस कैप्सूल का इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरुर ले।

 

महिलाओं के लिए शिलाजीत के फायदे

शिलाजीत वर्षों से आयुर्वेदिक चिकित्सा में एंटी एजिंग यैगिक के रूप में जाना जाता रहा है। शिलाजीत का इस्तेमाल पुरूष और महिलाएं दोनों कर सकते हैं, लेकिन महिलाओं के लिए इसके ज्यादा फायदे है।

• ये गर्भाशय को मजबूत बनाता है, अंडाशय के कार्यों में सुधार करने के साथ ही एंटी एजिंग एजेंट के रूप में कार्य करता है।
• शोध के मुताबिक पुरूषों के मुकाबले महिलाओं को गठियां का खतरा ज्यादा होता है। और एक अध्ययन में सामने आया है कि, अगर शिलाजीत से इलाज किया जाए, तो लचीलेपन में सुधार के साथ दर्द और जोड़ों की अकड़न एक हद तक कम हो जाती है।
• हार्मोन को संतुलित करने के लिए ज्यादातर महिलाएं शिलाजित का इस्तेमाल करती हैं। इसमें मौजूद फुल्विक एसिड कई बीमारियों को दूर करने में कारगार है।
• महिलाओं में पीरियड्स इरैगुलर होने पर उनकी प्रजनन क्षमता पर असर पड़ता है। ऐसे में मासिक धर्म चक्र को नियंत्रित करने के लिए शिलाजीत बहुत फायदेमंद है।
• अनियमित मासिक धर्म से महिलाओं में आयरन की कमी हो जाती है, जिससे एनीमिया का खतरा बढ़ने लगता है। ऐसे में शिलाजीत का सेवन करने से एनीमिया से पीड़ित महिलाओं के स्वास्थ्य में सुधार करने लगता है।
• शिलाजीत एंटीऑक्सीडेंट का बेहतरीन स्त्रोत है। खूबसूरत दिखने की चाह रखने वाली महिलाओं को शिलाजीत का उपयोग करना चाहिए।
• महिलाओं में ऊर्जा बढ़ाने के लिए शिलाजीत सबसे अच्छा उपाय है। व्यस्त दिनचर्या में अगर कभी आप थकान, नींद और सुस्ती का अनुभव करें, तो शीलजीत औषधि एनर्जी लेवल बढ़ाने का काम करती है।

 

शिलाजीत की कीमत ( Shilajit ki Rate )

शिलाजीत आयुर्वेदिक दवाई है जिसका आज हर कोई प्रचार कर रहा है। शिलाजीत के कैप्सूल को कई कंपनी बना कर बेच रहे है। प्रत्येक कम्पनी ने अपने कैप्सूल की मात्रा के अनुसार उसकी कीमत निर्धारित की है।

डाबर ने इस कैप्सूल के रेट 193 रुपए, झंडु ने इसकी कीमत 375 रुपए, शिलाजीत अल्टरा गोल्ड ने इसकी कीमत 1,650 रुपए रखी है।

और भी आप अपनी सुविधा के अनुसार ऑनलाइन इसकी कीमत जान सकते है। या अपने नजदीकी मेडीकल स्टोर पर जाकर पता कर सकते है। आप ऑनलाइन भी इसे खरीद सकते है।

ऑनलाइन में आपको उत्पाद घर बैठे एक फोन कॉल पर मिल जाएगा और आपको कही जानी की जरुरत भी नही पड़ेगी।

 

शिलाजीत कब खाना चाहिए

शिलाजीत आयुर्वेदिक दवाई है। शिलाजीत का इस्तेमाल पुरुष और महिलाएं दोनों कर सकते है। यह ताकत में वृध्दि के लिए प्रयोग में ली जाती है। इसके सेवन से शरीर में गर्मी बढ़ती है।

शिलाजीत के कैप्सूल का सेवन आप को दिन में 2 बार करना है। ध्यान रखे गर्म दूध के साथ खाना खाने के बाद इसका इस्तेमाल करे।

शिलाजीत का सेवन करने से पहले डॉक्टर से संपर्क जरुर करे। हर उम्र के लोगों के लिए इसकी मात्रा अलग होते है। इसके अलावा किसी और दवाई के साथ इसका सेवन नही करना चाहिए। इसलिए इसका सेवन बहुत ही सावधानी से करना चाहिए।

 

शिलाजीत कैप्सूल का उपयोग कैसे करे

शिलाजीत का उपयोग खाना खाने के बाद करना चाहिए। दिन में 2 बार इसका सेवन करे। दूध के साथ शिलाजीत कैप्सूल का सेवन करने से शरीर में ताकत आती है।

शिलाजीत का इस्तेमाल करने से पहले किसी एक्सपर्ट्स से सलाह ले। तथा इससे जुड़ी सही जानकारी प्राप्त कर ले। क्योकि शिलाजीत के सेवन के कुछ दुष्प्रिणाम भी हो सकते है।

इसके ज्यादा सेवन करने से ये शरीर के लिए हानिकारक सिध्द हो सकती है। ये महिलाओं के लिए भी लाभकारी है। इसके उपयोग से महिलाओं में ऊर्जा बनी रहती है।

जवान होने के लिए भी लोग इसका इस्तेमात कर सकते है। सर से लेकर पैर तक की तक तर बीमारी का इलाज है शीलाजीत में।

 

FAQ’s शिलाजीत सम्बंधित पूछे जाने वाले सवाल

शिलाजीत क्या है ?

शिलाजीत एक गाढ़ा भूरे रंग का, चिपचिपा पदार्थ है जो मुख्य रूप से हिमालय की चट्टानों से पाया जाता है। इसका रंग सफेद से लेकर गाढ़ा भूरा के बीच कुछ भी हो सकता है

शिलाजीत के फायदे कौनसे है

शिलाजीत को इंडियन वायग्रा कहा जाता है। शीघ्र स्खलनऔर ऑर्गेज्मसुख से वंचित लोगों में यह कामोत्तेजना बढ़ाने का काम करता है। शिलाजीत के सेवन से नर्वस सिस्टम सही से काम करता है। मानसिक थकावट, अवसाद, तनाव और चिंता से लड़ने के लिए शिलाजीत का सेवन करना चाहि

पतंजलि शिलाजीत की कीमत क्या है ?

पतंजलि शिलाजीत की रेट 200 रुपये से लेकर 250 रुपये के बिच में है

क्या महिलाएं शिलाजीत खा सकती हैं ?

जी है, महिलाओं के लिए इसके फायदे ज्यादा है

शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल कितने का है ?

Dabur शिलाजीत गोल्ड– 20 कैप्सूल साथ में मुफ्त शिला X तेल – 20 ml जिसकी कीमत 399.00 रूपए है

शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल क्या काम करता है?

यह प्रॉडक्ट मसल (मांसपेशी) को टाइट करने का काम करता है। डाबर के प्रॉडक्ट शिलाजीत गोल्ड की मार्केटिंग कामोत्तेजना बढ़ाने वाली दवा के रूप में की जाती है

शिलाजीत का उपयोग किसमे किया जाता है

शिलाजीत का उपयोग आमतौर पर आयुर्वेदिक चिकित्सा में किया जाता है

 

conclusion

आज के लेख में हम ने शिलाजीत क्या होता है, शिलाजीत के फायदे हिंदी, शिलाजीत कैप्सूल खाने का तरीका सिमित शिलाजीत के अन्य महत्वपूर्ण जानकारी के बारे में जाना |

आशा करते है आप को यह लेख पसंत आया होगा यदि अभी भी शिलाजीत संबंधित कोई परेशानी आप के मन में जगा बनाये बैठी है तो आप बेशक निचे कमेंट के जरिये हमे पूछ सकते है जिसका हम जरूर जवाब देने की कोशिश करेंगे | धन्यवाद

Leave a Comment