यूरिक एसिड को जड़ से खत्म करने का उपाय

यूरिक एसिड को जड़ से खत्म करने का उपाय : मानव शरीर का एक महत्वपूर्ण अंग किडनी फ़िल्टर का काम करती है जो शरीर के अंदर जितने भी हानिकारक खाद्य पदार्थ अन्य कारणों से जाती है उन सभी को फ़िल्टर कर मूत्रमार्ग द्वारा शरीर के बाहर निकाल देती है।

हम जितने भी तरह के भोजन करते है उन सभी में युरिक एसिड पाई जाती है जो हमारें शरीर के लिये लाभदायक भी है,

लेकिन जब इसकी मात्रा शरीर में बढ़ने लग जाती है या किसी कारणवश हमारा किडनी काम करना बंद कर देती है या उसकी फिल्टर करने की क्षमता कम हो जाती है तब युरिक एसिड हमारे शरीर के लिये हानिकारक साबित हो जाती है,

जिससे गठिया, जोड़ों में दर्द और आर्थराइटिस की परेशानी होने लगती है। यूरिक एसिड हमारे शरीर में तब बनता है जब शरीर हमारे खाने में से प्यूरीन जैसे पदार्थों को तोड़ देता है।

डॉक्टर्स के अनुसार यह बताया जाता है कि यूरिक एसिड आमतौर पर रक्त में मिलकर, गुर्दे से गुजरता हुआ मूत्र से निकल जाता है।

आजकल लोगों में यूरिक एसिड की समस्या काफी हद तक बढ़ती जा रही है। शरीर में यूरिक एसिड का लेवल तब बढ़ता है जब किडनी इसे फिल्टर करने में विफल रहती है

आमतौर पर किडनी का काम यूरिक एसिड को फिल्टर करके यूरीन के जरिए शरीर से बाहर निकाल देना है। जब शरीर में यूरिक एसिड काफी मात्रा में बनने लगता है।

सामान्य तौर पर यूरिक एसिड महिलाओं में 2.6-6.0 mg/dl एवं पुरुषों में 3.4-7.0 mg/dl होना चाहिए जब इसका लेवल बढ़ने लगता है तो जोड़ों में दर्द और मांसपेशियों में सूजन आने लगती है।

इसे कंट्रोल करने का बेस्ट तरीका आपका सही खान-पान और कुछ चीजों का परहेज ही है। इसी के साथ कुछ ऐसे रामबाण नुस्खे है जो आपको यूरिक एसिड की समस्या होने नहीं देंगे।

आपके शरीर में भीं युरिक एसिड की मात्रा बढ़ रही हैं और आप इंटरनेट पर यूरिक एसिड बढ़ने के लक्षण, कारण और घरेलू उपाय : Home Remedies for High Uric Acid के बारे में सर्च कर रहें है तब आप एकदम सही जगह पर है,

जहाँ पर आप यूरिक एसिड क्या है? (What is Uric Acid in Hindi?) यूरिक एसिड को जड़ से खत्म करने का उपाय के बारें में जान सकते है

और इससे संबन्धित सभी जानकारी को जान सकते है जिससे आपके अंदर इसकी समस्या को ख़त्म किया जा सकता है।

 

यूरिक एसिड को जड़ से खत्म करने का उपाय

यूरिक एसिड को जड़ से खत्म करने का उपाय
यूरिक एसिड को खत्म करने का उपाय

 

यूरिक एसिड क्या है? | What is Uric Acid in Hindi?

शरीर में हर रसायन की मात्रा निश्चित है, अगर इसमें थोड़ी सी कमी या थोड़ी सी मात्रा बढ़ जाए तो कई तरह की परेशानियां सामने आ जाती है इन्हीं में से एक है यूरिक एसिड कार्बनिक पदार्थ है जो शरीर में बहुत कम मात्रा में पाया जाता है।

इसकी जितनी मात्रा बनती है उसे किडनी द्वारा फिल्टर कर शरीर से बाहर निकाल दिया जाता है लेकिन अगर यह जरूरत से ज्यादा शरीर में बनने लगे तो हाई ब्लड प्रेशर, जोड़ों में दर्द, उठने-बैठने में परेशानी और सूजन समेत कई तकलीफों को बढ़ावा देता है।

साधारण भाषा में कहें तो यूरिक एसिड ब्लड में पाया जाने वाला एक रसायन है इसकी कुछ मात्रा शरीर के अंदर कई प्रक्रियाओं के दौरान बनती है जबकि कुछ मात्रा भोजन में पाए जाने वाला प्यूरीन नामक पदार्थ के टूटने से बनता है।

प्यूरीन मटर, पालक, मशरूम, सूखे सेम और यहां तक कि बीयर जैसे खाद्य पदार्थों में पाया जाता है। शरीर में बनने वाले अधिकांश यूरिक एसिड रक्त में घुल जाते हैं और जो बच जाते वे गुर्दे के माध्यम से बाहर निकलते हैं।

 

यूरिक एसिड बढ़ने के कारण | High Uric Acid Causes in Hindi

प्यूरिन केमिकल शरीर में भी बनते हैं और कुछ खाद्य पदार्थों में भी पाए जाते हैं. मीट, बीन्स, बियर आदि में प्यूरीन की अधिक मात्रा होती है। आमतौर पर आपका शरीर यूरिक एसिड को यूरिन और किडनी के जरिये फिल्टर कर देता है,

लेकिन अगर खाने में प्यूरिन की अधिक मात्रा होती है बॉडी इसे आसानी से फिल्टर नहीं कर पाती। ऐसे में खून में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ने लगती है। यूरिक एसिड के बढ़ने को Hyperuricemia भी कहा जाता है, इससे Gout नाम की बीमारी लग सकती है

जिससे जोड़ों में दर्द उठता है यह खून और यूरिन को काफी एसिडिक भी बना सकता है। अक्सर लोग यह मान लेते है कि अधिकतर जंक फूड खाने से शरीर में इसकी मात्रा बढ़ जाती है,

लेकिन यह बात यही तक सत्य नही है बल्कि और भी कई ऐसे कारण है जो शरीर में अधिक यूरिक एसिड बना देती है जो निम्न है:

  • जो लोग व्रत रखते हैं उनमें भी अस्थायी रूप से यूरिक एसिड का लेवल बढ़ जाता है।
  • रेड मीट, सी फूड, दाल, राजमा, मशरूम, गोभी, टमाटर, मटर, पनीर, भिंडी, अरबी और चावल खाने से भी यूरिक एसिड बढ़ता है।
  • अगर डायबिटीज के मरीज हैं तो आपके शरीर में यूरिक एसिड का बढ़ना तय है क्योंकि डायबिटीज की दवाओं से भी यूरिक एसिड बढ़ता है।
  • जो व्यक्ति अधिक मात्रा में शराब पीते हैं उनका यूरिक एसिड भी बढ़ जाता है।
  • खाने (भोजन) के रूप में लिया जाने वाला प्यूरिन प्रोटीन भी यूरिक एसिड के लेवल को बढ़ाता है।
  • जबरदस्ती एक्सरसाइज करने या फिर वजन कम करने के चक्कर में भी कई बार यूरिक एसिड का लेवल बढ़ जाता है।
  • खान-पान और लाइफस्टाइल में बदलाव यूरिक एसिड बढ़ने का सबसे बड़ा कारण है।
  • थायराइड की मात्रा जिन व्यक्तियों में ज्यादा या कम होती है उनका यूरिक एसिड बढ़ जाता है।
  • इसके अलावा ब्लड प्रेशर की दवाएं, पेन किलर्स और कैंसर रोधी दवाएं खाने से भी यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ जाती है।

 

यूरिक एसिड बढ़ने के लक्षण | High Uric Acid Symptoms in Hindi

जब शुरुआती दौर में हमारें शरीर में यूरिक एसिड बढ़ने लग जाती है तब हमें इसके बारें में सही से पता भी नही चल पाती है,

लेकिन शोधकर्ताओं ने कुछ ऐसे यूरिक एसिड बढ़ने के लक्षण के बारें में बताया है जिससे इसके बारें में पता लगाया जा सकता है और ससमय पर इसकी इलाज़ किया जा सकता है:

  • जब आपके शरीर में अचानक से जोड़ो में दर्द होने लगे और उठने बैठने में परेशानी होने लगे तब यह यूरिक एसिड बढ़ने का लक्षण हो सकती है।
  • हाथ और पैरों के उँगलियों में सूजन होने लगती है। इसके अलावा पैरों और हाथों की उंगलियों में चुभन वाला दर्द होता है जो कई बार असहनीय हो जाता है।
  • अक्सर ऐसी दर्द रात के समय ही शुरू होती है जो इसके चपेट में आए हुये मरीज को सोने भी नही देती है।
  • एक स्थान पर देर तक बैठने पर उठने में पैरों की एड़ियों में सहन न होने वाले दर्द होना, और कुछ समय बाद दर्द सामान्य हो जाना।
  • शरीर में अचानक से कम्पन होना और बिज़ली के करेंट जैसा लगना भी यूरिक एसिड का ही लक्षण है।

 

यूरिक एसिड कम करने के उपाय | Prevention for High Uric Acid

जब भी आपके शरीर में यूरिक एसिड बढ़ने लगे तब आपको अपने भोजन में बदलाव करना होगा और पहले की तरह लाइफस्टाइल को भी चेंज करना होगा,

क्योंकि इसका मुख्य कारण असंतुलित भोजन जंक फूड खाने से ही होती है। नीचे कुछ ऐसे उपाय बताई गई है जो इसे कम कर सकती है:

  • इससे ग्रसित व्यक्ति को सभी प्रकार के मेवे को खिलाना चाहिए।
  • साथ ही अधिक प्रोटीनयुक्त भोजन और एसिडयुक्त फल खाने से बचना चाहिए।
  • सभी प्रकार के माँस और समुद्री केकड़ा, झींगा के सेवन से बचे।
  • ऐसे शहद का सेवन नही करना चाहिए, जिसमें हाई फ्रूक्टोस पाई जाती हो।
  • यूरिक एसिड के मरीजों को अण्डा खिलाना चाहिए।
  • सभी प्रकार के फल यूरिक एसिड की समस्या में फायदेमंद होते हैं। चेरी नामक फ्रूट यूरिक एसिड के स्तर को कम करता है। यह फ्रूट सूजन के साथ-साथ दर्द कम करने में भी मदद करता है।
  • साबुत अनाज में ओट्स, ब्राउन राइस और जौ खाएँ।

 

यूरिक एसिड को जड़ खत्म करने की दवा | medicine to eliminate uric acid root

वैसे तो यूरिक एसिड को जड़ से ख़तम जल्द ही किया जा सकता है, लेकिन यह आप पर निर्भय करता है कि आप इसके दवा और उपायों का सेवन किस प्रकार से करते है।

हम आप को एक टेबल के माध्यम से यूरिक एसिड के कारण लक्षण तथा उसके दवा के बारे में बताना चाहते है जो नीचे निम्नलिखित है:

यूरिक एसिड के कारणयूरिक एसिड बढ़ने के लक्षणयूरिक एसिड को खत्म करने की दवा
ज्यादातर पत्ता गोभी खानाअसहनीय दर्द होनाurtica urensq
ज्यादा मीठे पदार्थ खानाहाथ पैर में कपकपी होनाBerberis vulgrisq
लेक्टोज वाली चीजों को खानाहाथ पैर में अकड़न होनाBerberis Pentarkan
कम पानी पीनाएड़ी में दर्द होनाFeboricik Teblets 200mg
मीट तथा सी फूड खानाडायबिटीज होनानींबू तथा मीठा सोडा
अल्कोहल का सेवन करनामोटापा होनापानी ज्यादा पीना

 

यहाँ हम आपको हर तरह के दवा और घरेलू उपाय के बारें में बताने वालें है जो शरीर में यूरिक एसिड को ख़तम करने मे मदद करती है।

आपको जो भी उपाय अच्छा लगे आप उसको अपना सकते है। लगातार इन सभी का सेवन करने पर आपके शरीर के अंदर से 15 दिनों में ख़त्म हो जायेगी।

 

यूरिक एसिड ट्रीटमेंट के घरेलू तरीके

यूरिक एसिड को कम करने की दवा क्या है जब आप बिना किसी तरह के दवा के सेवन किए बगैर इसको कम करना चाहते है तब आपको घरेलू उपाय को अपनाना होगा जो इसे ख़त्म करने मे आपकी मदद कर सकती है:

  • अजवाईन का सेवन रोजाना करें। इससे यूरिक एसिड की मात्रा कम होगी।
  • बेकिंग सोडा के सेवन से भी यूरिक एसिड को कम करने में मदद मिलेगी। इसके लिए एक चम्मच बेकिंग सोडा को एक गिलास पानी में मिलाएं। अब इस मिश्रण के 8 गिलास रोजाना पीएं। ऐसा करने से यूरिक एसिड का लेवल कम हो जाएगा।
  • दरअसल बेकिंग सोडा यूरिक एसिड के क्रिस्टल को तोड़ने और उन्हें खून में घोलने में मदद करता है, लेकिन ध्यान रहे कि बेकिंग सोडा ज्यादा ना लें क्योंकि इससे आपको हाई बीपी की दिक्कत हो सकती है।
  • रोजाना सुबद 2 से 3 अखरोट खाएं। ऐसा करने से बढ़ा हुआ यूरिक एसिड धीरे-धीरे कम होने लगेगा।
  • यूरिक एसिड कम करने के लिए तले-भुने और चिकनाई युक्त भोजन से दूर रहें। घी और मक्खन से भी दूरी बनाएं।
  • अगर हर दिन 500 मिलीग्राम विटामिन सी लेंगे तो यूरिक एसिड दो महीने के अंदर ही कम हो जाएगा।
  • बथुए (एक प्रकार का साग होती है) के पत्तों का जूस निकालकर रोजाना सुबह खाली पेट पीएं उसके 2 घंटे बाद तक कुछ ना खाएं। रोजाना ऐसा करने पर कुछ वक्त बाद यूरिक एसिड की मात्रा कम हो जाएगी।
  • अपने शरीर से अतिरिक्त यूरिक एसिड को निकालने करने के लिए, हर दिन 10 से 12 गिलास पानी पीएं।

 

यूरिक एसिड को नियंत्रित करने की आयुर्वेदिक दवा

आज हम कुछ आयुर्वेदिक दवाओं के बारे में तथा उनका नाम लिस्ट साझा करने जा रहे है । जिससे आप यूरिक एसिड के बारे में और उनके दवाओं के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते है।

  • गिलॉय कैप्सूल, नवकरशिक पूर्ण, पुर्णव कैप्सूल जैसे आयुर्वेदिक उपचार यूरिक एसिड के स्तर को कम करने और गठिया दर्द में मदद करने के लिए उत्कृष्ट प्राकृतिक उपचार हैं।
  • खाली पेट सुबह गुडुची या गिलोय (गुडुची कैप्सूल – गिलो / टिनसपोरा कॉर्डिफोलिया कैप्सूल) की 1-2 पत्तियों का उपभोग करें|
  • नींबू पानी का सेवन बहुत ही फायदेमंद होता है। जिनका यूरिक एसिड बढ़ गया हो उनके लिए यह रामबाण है।
  • बेकिंग सोडा यूरिक एसिड को कम करने की रामबाण दवा है। एक गिलास पानी में आधा चम्मच बेकिंग सोड़ा घोलकर दो सप्ताह तक सेवन करने से यूरिक एसिड का स्तर कम हो जाता है।

 

यूरिक एसिड का रामबाण दवा पतंजली

नीचे हम आपको स्वामी रामदेव की कंपनी पतंजली के कुछ आयुर्वेदिक दवाओं के बारें में बता रहे है , जिसका सेवन करके आप यूरिक एसिड को जड़ से ख़तम कर सकते है:

पतंजलि दिव्य किशोर गुग्गुल 20 ग्राम योगराज Googal80 टैबलेट
गिलोय का जूस शिलाजीत टेबलेट
वातारि चूर्ण पतंजलि एलोवेरा पतंजलि जूस
चंद्रप्रभा वटी 80 टेबलेट परास के फूल का रस पतंजलि
त्रयोदशांग Googal80 टेबलेट पारिजात क्वाथ

 

यूरिक एसिड की एलोपैथिक दवा

अगर आपके शरीर में यूरिक एसिड बढ़ जाए तो यह सारे लक्षण दिखाई दे तो आप तुरंत डॉक्टर से सलाह लें तथा नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में जाएं और उस चीज की जांच करवा लें उसके बाद उसकी नियमित रूप से दवा चलाएं जिससे कि आप लोग ठीक हो सके

इसीलिए मैं आप लोगों को कुछ एलोपैथिक दवाओं के नाम नीचे देना चाहते है जो नीचे लिस्ट के माध्यम से दिए गए हैं :

  • Febuxostat 40-80mg
  • Zyloric tablets 100-300mg
  • Allopurinol
  • Probenlcid tablet 500 mg

ऊपर में हमने मेडिकल सेक्टर में जीतने भी प्रकार के शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा कम करने के बारें में बताएं है वह सभी कारगर है, जिसे आप डॉक्टर की सलाह से ले सकते है जो आपको जल्द से जल्द इस परेशानी से निजात दिलवा सकती है।

 

Uric Acid in Hindi FAQ’s 

Q. कैसे पता करें कि हमें यूरिक एसिड है?

अगर आपके शरीर के अंग में कहीं भी गांठ बन जाए तो आप लोग बिल्कुल निश्चिंत होकर यह समझ जाए कि हमें यूरिक एसिड हमारे शरीर में बढ़ रहा है इसका समय पर इलाज करने पर यह अच्छी तरह से ठीक हो सकता है अन्यथा आपको बाद में बहुत ही नुकसान यहां पहुंचा सकता है।

Q. यूरिक एसिड में कौन सी दाल खाएं?

मूंग की दाल, पालक और फूलगोभी जैसी सब्जियों में प्यूरीन की मात्रा अधिक होती है। ऐसा माना जाता था कि इनसे यूरिक एसिड बढ़ता है। लेकिन अब यह साबित हो गया है कि यूरिक एसिड बढ़ाने के लिए पेड़ / पौधों के स्रोतों से प्राप्त प्यूरीन जिम्मेदार नहीं है।

Q. यूरिक एसिड में दूध पी सकते हैं?

कम वसा (fat) वाला दूध पेशाब के माध्यम से यूरिक एसिड के उत्सर्जन को बढ़ावा देकर यूरिक एसिड के स्तर को कम करता है। तथ्य की बात यह है कि, दही जैसे सभी कम वसा वाले डेयरी उत्पाद उच्च यूरिक एसिड के स्तर वाले लोगों के लिए पूरी तरह से खाने योग्य हैं।

Q. यूरिक एसिड किसके कारण होता है?

हम बाहर से अनेक फूड खाते हैं हॉट विटामिन सी वाले फल को ज्यादा यूज करते हैं तथा हरे पत्तेदार गोभी का यूज़ करते हैं तथा शराब के सेवन अत्यधिक करने से हमारें शरीर में इसकी मात्रा बढ़ने लग जाती है।

Q. यूरिक एसिड में कौन कौन सी सब्जियां खानी चाहिए?

यूरिक एसिड की परेशानी से निजात पाने के लिए स्वास्थ्य विशेषज्ञ लोगों को फूलगोभी, पत्तागोभी, हरे मटर, बीन्स, भिंडी और मशरूम खाने से भी परहेज करने की सलाह देते हैं और चुकंदर, पुदीना, टमाटर, खीरा, प्याज और शिमला मिर्च खाना फायदेमंद साबित होती है।

 

इस जानकारी को देने का उद्देश्य विषय से परिचित होना है। पाठकों को अपने स्वास्थ्य के आधार पर कोई भी निर्णय लेने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लेनी चाहिए।

 

Conclusion

इस आर्टिकल में आपने यूरिक एसिड को जड़ खत्म करने की दवा | Medicine to Eliminate Uric Acid Root के बारें में जाना। आशा करते है आप यूरिक एसिड बढ़ने के लक्षण, कारण और घरेलू उपाय की पूरी जानकारी जान चुके होंगे।

आपको लगता है कि इसे दूसरे के साथ भी शेयर करना चाहिए तो इसे Social Media पर सबके साथ इसे शेयर अवश्य करें। शुरू से अंत तक इस आर्टिकल को रीड करने के लिए आप सभी का तहेदिल से शुक्रिया…

Leave a Comment

error: Content is protected !!